ट्रंप के इंकार के बाद अब ये होंगे गणतंत्र दिवस परेड में चीफ गेस्ट

pm modi africi president
ट्रंप के इंकार के बाद अब द. अफ्रीकी राष्ट्रपति होंगे गणतंत्र दिवस परेड में चीफ गेस्ट

नई दिल्ली। अमेरिकी राष्ट्रपति द्वारा गणतंत्र दिवस में चीफ गेस्ट का न्योता ठुकराने के बाद अब दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति सायरिल रामफोसा 26 जनवरी के परेड के चीफ गेस्ट होंगे। ब्यूनस आयर्स में आयोजित जी-20 शिखर सम्मेलन से इतर पीएम मोदी ने सायरिल रामफोसा से मुलाकात की। इस दौरान उन्होने चीफ गेस्ट बनने के लिए उन्हे आमंत्रित किया। दक्षिण अफ्रीकी राष्ट्रपति ने पीएम मोदी के आमंत्रण को स्वीकार कर लिया।

Africi President Will Be Cheif Guest At Republic Day Event :

बता दें कि डोनाल्ड ट्रंप के गणतंत्र दिवस पर निमंत्रण अस्वीकार करने के बाद भारत एक ऐसे देश की तलाश कर रहा था जिसका रणनीतिक और प्रतीकात्मक महत्व हो। फिलहाल अफ्रीकी राष्ट्रपति के हां बोलने के बाद पीएम मोदी ने ट्वीट किया कि दक्षिण अफ्रीकी राष्ट्रपति सिरिल रामफोसा से मिलकर खुशी हुई। ऐसे समय जब भारत महात्मा गांधी की 150वीं जयन्ती मना रहा है, 2019 गणतंत्र दिवस समारोह में राष्ट्रपति रामफोसा का मुख्य अतिथि के रूप में स्वागत करना हमारे लिए सम्मान की बात है। दक्षिण अफ्रीका से बापू का करीबी संबंध जगजाहिर है।

उन्होंने कहा कि रामफोसा की भारत यात्रा दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों को और मजबूत करेगी। मोदी ने ट्वीट किया राष्ट्रपति सिरिल रामफोसा का आगामी दौरा, वह भी भारत के गणतंत्र दिवस के विशेष मौके पर, भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच व्यापारिक तथा लोगों के बीच संबंधों को और मजबूत करेगा।

नई दिल्ली। अमेरिकी राष्ट्रपति द्वारा गणतंत्र दिवस में चीफ गेस्ट का न्योता ठुकराने के बाद अब दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति सायरिल रामफोसा 26 जनवरी के परेड के चीफ गेस्ट होंगे। ब्यूनस आयर्स में आयोजित जी-20 शिखर सम्मेलन से इतर पीएम मोदी ने सायरिल रामफोसा से मुलाकात की। इस दौरान उन्होने चीफ गेस्ट बनने के लिए उन्हे आमंत्रित किया। दक्षिण अफ्रीकी राष्ट्रपति ने पीएम मोदी के आमंत्रण को स्वीकार कर लिया।बता दें कि डोनाल्ड ट्रंप के गणतंत्र दिवस पर निमंत्रण अस्वीकार करने के बाद भारत एक ऐसे देश की तलाश कर रहा था जिसका रणनीतिक और प्रतीकात्मक महत्व हो। फिलहाल अफ्रीकी राष्ट्रपति के हां बोलने के बाद पीएम मोदी ने ट्वीट किया कि दक्षिण अफ्रीकी राष्ट्रपति सिरिल रामफोसा से मिलकर खुशी हुई। ऐसे समय जब भारत महात्मा गांधी की 150वीं जयन्ती मना रहा है, 2019 गणतंत्र दिवस समारोह में राष्ट्रपति रामफोसा का मुख्य अतिथि के रूप में स्वागत करना हमारे लिए सम्मान की बात है। दक्षिण अफ्रीका से बापू का करीबी संबंध जगजाहिर है।उन्होंने कहा कि रामफोसा की भारत यात्रा दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों को और मजबूत करेगी। मोदी ने ट्वीट किया राष्ट्रपति सिरिल रामफोसा का आगामी दौरा, वह भी भारत के गणतंत्र दिवस के विशेष मौके पर, भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच व्यापारिक तथा लोगों के बीच संबंधों को और मजबूत करेगा।