अफरीदी का आरोप- IPL फ्रेंचाइजियों की धमकी से PAK नहीं आ रहे श्रीलंकाई खिलाड़ी

afridi
अफरीदी का आरोप- IPL फ्रेंचाइजियों की धमकी से PAK नहीं आ रहे श्रीलंकाई खिलाड़ी

नई दिल्ली। पाकिस्तान के पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी (Shahid Afridi) अकसर भारत के खिलाफ बयानबाजी करते रहते हैं और एक बार फिर उन्होंने अजीबोगरीब बयान दे डाला है। शाहिद अफरीदी ने आरोप लगाया है कि श्रीलंका के प्रमुख खिलाड़ियों के पाकिस्तान दौरे पर न आने की वजह आईपीएल फ्रेंचाइचीज का दबाव है। पाकिस्तान के इस पूर्व कप्तान के मुताबिक, श्रीलंकाई प्लेयर पाकिस्तान सुपर लीग यानी पीएसएल में खेलना चाहते हैं। लेकिन, उन पर आईपीएल के टीम मालिकों का दबाव रहता है।

Afridis Allegation Sri Lankan Players Are Not Coming To Pak Due To Ipl Franchise Threat :

अफरीदी का दावा

अफरीदी ने इंटरव्यू में कहा, “श्रीलंकाई खिलाड़ियों पर आईपीएल फ्रेंचाइचीज का दबाव है। मैंने वहां के प्लेयर्स से बातचीत की। उन्होंने कहा कि वो पाकिस्तान जाकर पीएसएल खेलना चाहते हैं। लेकिन, आईपीएल खेलने वाले उनके साथी खिलाड़ी उनसे कहते हैं कि अगर वो पीएसएल खेलेंगे तो उन्हें आईपीएल कॉन्ट्रैक्ट नहीं मिल पाएगा। हमने हमेशा श्रीलंका का समर्थन किया है। ऐसा कभी नहीं हुआ कि हमारे खिलाड़ियों ने श्रीलंका दौरे पर जाने से इनकार किया हो। वहां के बोर्ड को भी प्लेयर्स पर पाकिस्तान जाने का दबाव बनाना चाहिए। उनके जो खिलाड़ी यहां आकर खेले हैं, वो हमारा इतिहास जानते हैं।”  

10 साल पहले पाकिस्तान में श्रीलंकाई टीम पर हुआ था हमला

श्रीलंकाई टीम पर मार्च 2009 के दौरे के दौरान लाहौर में आतंकी हमला हुआ था जिसमें छह खिलाड़ी घायल हुए थे। छह पाकिस्तानी पुलिसकर्मी और दो नागरिकों की इस हमले में मौत हो गयी थी। इस हमले के बाद ज्यादातर अंतरराष्ट्रीय टीमों ने पाकिस्तान का दौरा करने से इनकार कर दिया था। श्रीलंका के भी दस टॉप खिलाड़ियों ने हमले की आशंका से दौरे से हटने का फैसला किया है।

सीरीज की बात करें तो श्रीलंका इस दौरे में 27 सितंबर से दो अक्टूबर के बीच तीन वनडे खेलेगा। ये तीनों मैच कराची में होंगे. इसके बाद लाहौर में पांच से नौ अक्टूबर के बीच तीन टी20 अंतरराष्ट्रीय खेले जाएंगे।

नई दिल्ली। पाकिस्तान के पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी (Shahid Afridi) अकसर भारत के खिलाफ बयानबाजी करते रहते हैं और एक बार फिर उन्होंने अजीबोगरीब बयान दे डाला है। शाहिद अफरीदी ने आरोप लगाया है कि श्रीलंका के प्रमुख खिलाड़ियों के पाकिस्तान दौरे पर न आने की वजह आईपीएल फ्रेंचाइचीज का दबाव है। पाकिस्तान के इस पूर्व कप्तान के मुताबिक, श्रीलंकाई प्लेयर पाकिस्तान सुपर लीग यानी पीएसएल में खेलना चाहते हैं। लेकिन, उन पर आईपीएल के टीम मालिकों का दबाव रहता है। अफरीदी का दावा अफरीदी ने इंटरव्यू में कहा, “श्रीलंकाई खिलाड़ियों पर आईपीएल फ्रेंचाइचीज का दबाव है। मैंने वहां के प्लेयर्स से बातचीत की। उन्होंने कहा कि वो पाकिस्तान जाकर पीएसएल खेलना चाहते हैं। लेकिन, आईपीएल खेलने वाले उनके साथी खिलाड़ी उनसे कहते हैं कि अगर वो पीएसएल खेलेंगे तो उन्हें आईपीएल कॉन्ट्रैक्ट नहीं मिल पाएगा। हमने हमेशा श्रीलंका का समर्थन किया है। ऐसा कभी नहीं हुआ कि हमारे खिलाड़ियों ने श्रीलंका दौरे पर जाने से इनकार किया हो। वहां के बोर्ड को भी प्लेयर्स पर पाकिस्तान जाने का दबाव बनाना चाहिए। उनके जो खिलाड़ी यहां आकर खेले हैं, वो हमारा इतिहास जानते हैं।”   10 साल पहले पाकिस्तान में श्रीलंकाई टीम पर हुआ था हमला श्रीलंकाई टीम पर मार्च 2009 के दौरे के दौरान लाहौर में आतंकी हमला हुआ था जिसमें छह खिलाड़ी घायल हुए थे। छह पाकिस्तानी पुलिसकर्मी और दो नागरिकों की इस हमले में मौत हो गयी थी। इस हमले के बाद ज्यादातर अंतरराष्ट्रीय टीमों ने पाकिस्तान का दौरा करने से इनकार कर दिया था। श्रीलंका के भी दस टॉप खिलाड़ियों ने हमले की आशंका से दौरे से हटने का फैसला किया है। सीरीज की बात करें तो श्रीलंका इस दौरे में 27 सितंबर से दो अक्टूबर के बीच तीन वनडे खेलेगा। ये तीनों मैच कराची में होंगे. इसके बाद लाहौर में पांच से नौ अक्टूबर के बीच तीन टी20 अंतरराष्ट्रीय खेले जाएंगे।