58 साल बाद फिर से खोली जा रही वीरान पड़ी वेल्स की ये ‘गुप्त’ रेलवे सुरंग, रहस्य जानकर आप भी रह जाएंगे हैरान

wales-tunnel-1588682478-lb

लखनऊ: कुछ अनोखी जगहें ऐसी होती है जिनकी पूरे विश्व में अलग पहचान होती हैं और वे बेहद प्रसिद्द होती हैं। लेकिन कुछ जगहें ऐसी होती हैं जो अनोखी होने के बाद भी गुप्त ही रह जाती हैं। आज इस कड़ी में हम आपको वेल्स की ‘गुप्त’ रेलवे सुरंग ‘एबरनेंट’ के बारे में बताने जा रहे हैं जो अपनेआप में अनोखी हैं लेकिन पिछले 58 साल से बंद पड़ी हैं। एक समय था जब इस सुरंग से होकर ट्रेनें गुजरती थीं। आखिरी बार यहां से ट्रेन करीब 58 साल पहले यानी साल 1962 में गुजरी थी। उसके बाद से यह सुरंग ऐसी वीरान हुई कि यह किसी भुतिया जगह की तरह दिखने लगी। अब इस सुरंग को एक बार फिर से खोलने पर विचार किया जा रहा है।

After 58 Years This Secret Railway Tunnel In Wales Is Being Reopened You Will Be Surprised To Know The Secret :

महान निर्माणकर्ता इसामबर्ड किंगडम ब्रुनेल द्वारा वर्ष 1853 में डिजाइन की गई इस रेलवे सुरंग को साइकिल चालकों के लिए खोला जा सकता है। पहले इस सुरंग का इस्तेमाल ट्रेन से कोयला ले जाने के लिए किया जाता था। 1.4 मील लंबी यह सुरंग अगर साइक्लिस्ट और पैदल चलने वालों के मार्ग के रूप में तब्दील हो जाए तो यह यूरोप में अपनी तरह की सबसे लंबी सुरंग होगी। सैकड़ों लोगों ने भी इसे यातायात-मुक्त मार्ग बनाने की योजना का समर्थन किया है।

यह सुरंग वेल्स के दो शहरों मेरथिर टाइडफिल और एबरडेयर को जोड़ती है। इस सुरंग के प्रवेश द्वार अभी भी खुले हैं, लेकिन लोगों को प्रवेश करने से रोकने के लिए गेट बंद हैं, लेकिन अब इसे खोलने पर विचार किया जा रहा है। लगभग 800 लोगों ने इससे संबंधित योजनाओं पर अपनी बात रखने के लिए एक ऑनलाइन सर्वेक्षण भी किया है, जिसमें कहा गया है, ‘कम यातायात, अधिक व्यायाम। सक्रिय उपयोगकर्ताओं के लिए सुरंग को खोलना एक महान विचार है। वेल्स में इसकी अधिक जरूरत है।’

यहां रहने वाले एक व्यक्ति का कहना है कि सुरंग मेरथिर टाइडफिल और एबरडेयर दोनों घाटियों के लिए एक शानदार विशेषता होगी और मैं इसका इस्तेमाल साइकिल चलाने के लिए करूंगा, न कि केवल दो शहरों के बीच आने-जाने के लिए। कुछ लोगों ने तो सुरंग को एक एतिहासिक विरासत और संभावित पर्यटक आकर्षण का केंद्र भी बताया है।

मेरथिर टाइडफिल काउंटी बोरो के काउंसलर गेरेंट थॉमस ने कहा कि हम जानते हैं कि सुरंग को फिर से खोलने की बात को लेकर लोग उत्साहित हैं, इसलिए हमने सोचा कि उनको भी इसमें शामिल किया जाए। अगले चरण में हमें सकारात्मक और नकारात्मक दोनों तरह की टिप्पणियों को देखना होगा, और फिर सुरंग के रखरखाव/लागत और एक पूर्ण विस्तृत व्यापार योजना का विश्लेषण करना होगा। अगर ज्यादातर लोग इसे खोलने के पक्ष में होंगे तो हम एक बार फिर से इसपर विचार करेंगे।

लखनऊ: कुछ अनोखी जगहें ऐसी होती है जिनकी पूरे विश्व में अलग पहचान होती हैं और वे बेहद प्रसिद्द होती हैं। लेकिन कुछ जगहें ऐसी होती हैं जो अनोखी होने के बाद भी गुप्त ही रह जाती हैं। आज इस कड़ी में हम आपको वेल्स की ‘गुप्त’ रेलवे सुरंग ‘एबरनेंट’ के बारे में बताने जा रहे हैं जो अपनेआप में अनोखी हैं लेकिन पिछले 58 साल से बंद पड़ी हैं। एक समय था जब इस सुरंग से होकर ट्रेनें गुजरती थीं। आखिरी बार यहां से ट्रेन करीब 58 साल पहले यानी साल 1962 में गुजरी थी। उसके बाद से यह सुरंग ऐसी वीरान हुई कि यह किसी भुतिया जगह की तरह दिखने लगी। अब इस सुरंग को एक बार फिर से खोलने पर विचार किया जा रहा है। महान निर्माणकर्ता इसामबर्ड किंगडम ब्रुनेल द्वारा वर्ष 1853 में डिजाइन की गई इस रेलवे सुरंग को साइकिल चालकों के लिए खोला जा सकता है। पहले इस सुरंग का इस्तेमाल ट्रेन से कोयला ले जाने के लिए किया जाता था। 1.4 मील लंबी यह सुरंग अगर साइक्लिस्ट और पैदल चलने वालों के मार्ग के रूप में तब्दील हो जाए तो यह यूरोप में अपनी तरह की सबसे लंबी सुरंग होगी। सैकड़ों लोगों ने भी इसे यातायात-मुक्त मार्ग बनाने की योजना का समर्थन किया है। यह सुरंग वेल्स के दो शहरों मेरथिर टाइडफिल और एबरडेयर को जोड़ती है। इस सुरंग के प्रवेश द्वार अभी भी खुले हैं, लेकिन लोगों को प्रवेश करने से रोकने के लिए गेट बंद हैं, लेकिन अब इसे खोलने पर विचार किया जा रहा है। लगभग 800 लोगों ने इससे संबंधित योजनाओं पर अपनी बात रखने के लिए एक ऑनलाइन सर्वेक्षण भी किया है, जिसमें कहा गया है, ‘कम यातायात, अधिक व्यायाम। सक्रिय उपयोगकर्ताओं के लिए सुरंग को खोलना एक महान विचार है। वेल्स में इसकी अधिक जरूरत है।’ यहां रहने वाले एक व्यक्ति का कहना है कि सुरंग मेरथिर टाइडफिल और एबरडेयर दोनों घाटियों के लिए एक शानदार विशेषता होगी और मैं इसका इस्तेमाल साइकिल चलाने के लिए करूंगा, न कि केवल दो शहरों के बीच आने-जाने के लिए। कुछ लोगों ने तो सुरंग को एक एतिहासिक विरासत और संभावित पर्यटक आकर्षण का केंद्र भी बताया है। मेरथिर टाइडफिल काउंटी बोरो के काउंसलर गेरेंट थॉमस ने कहा कि हम जानते हैं कि सुरंग को फिर से खोलने की बात को लेकर लोग उत्साहित हैं, इसलिए हमने सोचा कि उनको भी इसमें शामिल किया जाए। अगले चरण में हमें सकारात्मक और नकारात्मक दोनों तरह की टिप्पणियों को देखना होगा, और फिर सुरंग के रखरखाव/लागत और एक पूर्ण विस्तृत व्यापार योजना का विश्लेषण करना होगा। अगर ज्यादातर लोग इसे खोलने के पक्ष में होंगे तो हम एक बार फिर से इसपर विचार करेंगे।