1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. बंगाल के बाद अब त्रिपुरा में हिंसक संग्राम, BJP-TMC कार्यकर्ताओं की झड़प

बंगाल के बाद अब त्रिपुरा में हिंसक संग्राम, BJP-TMC कार्यकर्ताओं की झड़प

त्रिपुरा के खोवई जिले के तेलियामुरा में भाजपा और तृणमूल कांग्रेस के समर्थकों के बीच हुई झड़प में कम से कम 19 लोग घायल हो गए, जिसके बाद इलाके में सीआरपीसी की धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू कर दी गई। पुलिस ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि राज्य में निकाय चुनाव से कुछ दिन पहले हुई झड़प में घायल हुए लोगों में दो पुलिसकर्मी भी शामिल थे, जिसके बाद प्रशासन को तेलियामुरा नगर परिषद के वार्ड 13, 14 और 15 में निषेधाज्ञा लागू करनी पड़ी।

By प्रिन्स राज 
Updated Date

अगरतल्ला। त्रिपुरा के खोवई जिले के तेलियामुरा में भाजपा(BJP) और तृणमूल कांग्रेस(TMC) के समर्थकों के बीच हुई झड़प में कम से कम 19 लोग घायल हो गए, जिसके बाद इलाके में सीआरपीसी की धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू कर दी गई। पुलिस ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि राज्य में निकाय चुनाव से कुछ दिन पहले हुई झड़प में घायल हुए लोगों में दो पुलिसकर्मी भी शामिल थे, जिसके बाद प्रशासन को तेलियामुरा नगर परिषद के वार्ड 13, 14 और 15 में निषेधाज्ञा लागू करनी पड़ी।

पढ़ें :- पिछली सरकारों ने गाजीपुर को केवल अपराधी और अपराध दिया : Dr.Dinesh Sharma

सहायक पुलिस महानिरीक्षक (कानून-व्यवस्था) सुब्रत चक्रवर्ती ने बताया कि कलीतिला इलाके में बुधवार की रात करीब साढ़े नौ बजे तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ता प्रदर्शन कर रहे थे और भाजपा कार्यालय के पास पहुंच गए। उन्होंने कहा कि दोनों पक्षों के समर्थक आमने-सामने आ गए, जिससे कहा-सुनी हो गई। उन्होंने कहा, “अचानक, टीएमसी कार्यकर्ताओं(Members) ने भाजपा समर्थकों पर हमला किया, जिन्होंने भी जवाबी कार्रवाई की।”

चक्रवर्ती ने कहा कि पुलिस ने दोनों समूहों को शांत करने की कोशिश की, लेकिन स्थिति को नियंत्रित करने के लिए “हल्का बल” और आंसू गैस के गोले दागने पड़े। उन्होंने बताया कि झड़प में दो पुलिसकर्मियों(Police) समेत कुल 19 लोग घायल हो गये। घटना के संबंध में तेलियामुरा पुलिस स्टेशन में तीन मामले दर्ज किए गए थे। उन्होंने बताया कि पुलिस ने हत्या के प्रयास, गंभीर चोट पहुंचाने और गैरकानूनी तरीके से जमा होने के आरोप में एक अलग मामला दर्ज किया है। पुलिस ने बताया कि पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है। उनमें से चार को एक अदालत (Court)में पेश किया गया, जिसने उन्हें 30 नवंबर तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...