पीएम मोदी की बायोपिक के बाद नमो टीवी पर भी चला चुनाव आयोग का डंडा

ban on namo tv
पीएम मोदी की बायोपिक के बाद नमो टीवी पर भी चला चुनाव आयोग का डंडा

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव जैसे- जैसे नजदीक आ रहा है वैसे- वैसे चुनाव आयोग भी अपने तेवर तेज कर रहा है। गुरुवार को होने वाले पहले चरण के मतदान से ठीक एक दिन पहले चुनाव आयोग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा को बढ़ावा देने वाले 24 घंटे के चैनल NaMo TV पर प्रतिबंध लगा दिया। इससे ठीक कुछ देर पहले चुनाव आयोग ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जीवनी पर आधारित बायोपिक के लिए लागू किया था।

After Pm Modis Biopic Namo Tv Also Ban By Election Commission :

बता दें कि डीटीएच सेवा मुहैया कराने वाले टाटा स्काई ने हाल ही में कहा था कि नमो टीवी एक हिंदी न्यूज सर्विस है, जो राष्ट्रीय राजनीति पर ताजातरीन ब्रेकिंग न्यूज मुहैया कराती है। हाल ही में इस सर्विस प्रोवाइडर के ट्वीट ने केन्द्र सरकार के दावे पर भी सवालिया निशान लगा दिया था। बता दें कि इस ट्वीट कर सरकार के उस दावे का खंडन किया था, जिसमें नमो टीवी को महज एक विज्ञापन प्लेटफॉर्म बताकर पल्ला झाड़ लिया गया था।

नमो टीवी नाम का यह चैनल 31 मार्च को अचानक लॉन्च हुआ, तब से इसे सत्ताधारी बीजेपी के ट्विटर हैंडल से लगातार प्रमोट भी किया जा रहा है। यहां तक कि खुद पीएम मोदी भी चौकीदारों को संबोधित करने से जुड़े प्रोग्राम का इस टीवी पर प्रसारण होने की 31 मार्च को सूचना दे चुके हैं।बता दें कि पर्दाफाश बीते कई दिनों से इस मुद्दे को उठा रहा था।

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव जैसे- जैसे नजदीक आ रहा है वैसे- वैसे चुनाव आयोग भी अपने तेवर तेज कर रहा है। गुरुवार को होने वाले पहले चरण के मतदान से ठीक एक दिन पहले चुनाव आयोग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा को बढ़ावा देने वाले 24 घंटे के चैनल NaMo TV पर प्रतिबंध लगा दिया। इससे ठीक कुछ देर पहले चुनाव आयोग ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जीवनी पर आधारित बायोपिक के लिए लागू किया था।

बता दें कि डीटीएच सेवा मुहैया कराने वाले टाटा स्काई ने हाल ही में कहा था कि नमो टीवी एक हिंदी न्यूज सर्विस है, जो राष्ट्रीय राजनीति पर ताजातरीन ब्रेकिंग न्यूज मुहैया कराती है। हाल ही में इस सर्विस प्रोवाइडर के ट्वीट ने केन्द्र सरकार के दावे पर भी सवालिया निशान लगा दिया था। बता दें कि इस ट्वीट कर सरकार के उस दावे का खंडन किया था, जिसमें नमो टीवी को महज एक विज्ञापन प्लेटफॉर्म बताकर पल्ला झाड़ लिया गया था।

नमो टीवी नाम का यह चैनल 31 मार्च को अचानक लॉन्च हुआ, तब से इसे सत्ताधारी बीजेपी के ट्विटर हैंडल से लगातार प्रमोट भी किया जा रहा है। यहां तक कि खुद पीएम मोदी भी चौकीदारों को संबोधित करने से जुड़े प्रोग्राम का इस टीवी पर प्रसारण होने की 31 मार्च को सूचना दे चुके हैं।बता दें कि पर्दाफाश बीते कई दिनों से इस मुद्दे को उठा रहा था।