BJP से इस्तीफा देने के बाद सांसद अंशुल वर्मा ने ज्वाइन किया सपा, यहां से मिलेगा टिकट

join sp
बीजेपी से इस्तीफा देने के बाद सांसद अंशुल वर्मा ने ज्वाइन किया सपा

लखनऊ। हरदोई से बीजेपी सांसद रहे अंशुल वर्मा ने आज बीजेपी कार्यालय के चौकीदार को इस्तीफा देकर सियासी हड़कंप मचा दिया। इस्तीफा देने के बाद अंशुल ने समाजवादी पार्टी का दामन थाम लिया है। अंशुल अपने कार्यकर्ताओं के साथ सपा कार्यालय पहुंचे, जहां अखिलेश यादव ने उन्हें पार्टी की सदस्यता दिलाई है। सपा ज्वाइन करने के बाद अंशुल वर्मा ने भाजपा के ‘मैं भी चौकीदार’ कैम्पेन पर हमला किया।

After Resigning Bjp Mp Anshul Verma Joined The Sp :

सपा ज्वाइन करने के बाद सांसद अंशुल वर्मा ने कहा कि ‘मै चौकीदार नहीं लिखूंगा, अंशूल हूं और अंशूल ही रहूंगा। जो धनकुबेर अपने नाम के आगे चौकीदार लिख रहे हैं, क्या वो 10 चौकीदारों की तनख्वाह देंगे। या महीने में एक रात उनकी जगह चौकीदारी करेंगे।’

अंशुल वर्मा ने कहा कि विकास किया है विकास करेंगे। अगर विकास ही मानक था तो मैंने क्षेत्र में 24 हजार करोड़ रुपए विकास पर लगाए। सदन में मेरी 94 फीसदी उपस्थिति रही। क्षेत्र में 95 फीसदी उपस्थित रहा तो मेरा दोष क्या था? आज भाजपा का कोई जिम्मेदार मिलने को तैयार नहीं है। स्पष्टीकरण देने को तैयार नहीं है।

मेरा दोष यही है कि मैंने लोगों की आवाज उठाई। मेरा सिर कट सकता है, झुक नहीं सकता है। आज देश का सबसे ज्यादा जिम्मेदार चौकीदार ही है। जो नामी चौकीदार है, उसके बजाए एक जिम्मेदार चौकीदार को इस्तीफा देना एक जिम्मेदार पार्टी के कार्यकर्ता का दायित्व होना चाहिए, जो मैंने किया।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि ‘जिन 6 सांसदों के टिकट काटे गये हैं उनमें 4 दलित वर्ग के हैं। क्या सिर्फ दलित वर्ग के सांसद ही निष्क्रिय रहे।’ वहीं इस दौरान अखिलेश यादव ने कहा कि ‘जो सरकार जा रही है उसको धक्का मारने अंशुल वर्मा आये हैं। अंशुल चौकीदार टीम की सच्चाई बतायेंगे।

किसान को जो सपने दिखाए गए थे आय दुगनी होगी वो बस सपने ही रह गए। अब तक आलू किसानों का आलू नहीं खरीदा गया है और गन्ना किसानों को भुगतान नहीं हो पा रहा है।’ वहीं इस दौरान मंच पर मौजूद आजम खान ने सीएम योगी आदित्यनाथ पर हमला किया।

लखनऊ। हरदोई से बीजेपी सांसद रहे अंशुल वर्मा ने आज बीजेपी कार्यालय के चौकीदार को इस्तीफा देकर सियासी हड़कंप मचा दिया। इस्तीफा देने के बाद अंशुल ने समाजवादी पार्टी का दामन थाम लिया है। अंशुल अपने कार्यकर्ताओं के साथ सपा कार्यालय पहुंचे, जहां अखिलेश यादव ने उन्हें पार्टी की सदस्यता दिलाई है। सपा ज्वाइन करने के बाद अंशुल वर्मा ने भाजपा के 'मैं भी चौकीदार' कैम्पेन पर हमला किया।

सपा ज्वाइन करने के बाद सांसद अंशुल वर्मा ने कहा कि 'मै चौकीदार नहीं लिखूंगा, अंशूल हूं और अंशूल ही रहूंगा। जो धनकुबेर अपने नाम के आगे चौकीदार लिख रहे हैं, क्या वो 10 चौकीदारों की तनख्वाह देंगे। या महीने में एक रात उनकी जगह चौकीदारी करेंगे।'

अंशुल वर्मा ने कहा कि विकास किया है विकास करेंगे। अगर विकास ही मानक था तो मैंने क्षेत्र में 24 हजार करोड़ रुपए विकास पर लगाए। सदन में मेरी 94 फीसदी उपस्थिति रही। क्षेत्र में 95 फीसदी उपस्थित रहा तो मेरा दोष क्या था? आज भाजपा का कोई जिम्मेदार मिलने को तैयार नहीं है। स्पष्टीकरण देने को तैयार नहीं है।

मेरा दोष यही है कि मैंने लोगों की आवाज उठाई। मेरा सिर कट सकता है, झुक नहीं सकता है। आज देश का सबसे ज्यादा जिम्मेदार चौकीदार ही है। जो नामी चौकीदार है, उसके बजाए एक जिम्मेदार चौकीदार को इस्तीफा देना एक जिम्मेदार पार्टी के कार्यकर्ता का दायित्व होना चाहिए, जो मैंने किया।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि 'जिन 6 सांसदों के टिकट काटे गये हैं उनमें 4 दलित वर्ग के हैं। क्या सिर्फ दलित वर्ग के सांसद ही निष्क्रिय रहे।' वहीं इस दौरान अखिलेश यादव ने कहा कि 'जो सरकार जा रही है उसको धक्का मारने अंशुल वर्मा आये हैं। अंशुल चौकीदार टीम की सच्चाई बतायेंगे।

किसान को जो सपने दिखाए गए थे आय दुगनी होगी वो बस सपने ही रह गए। अब तक आलू किसानों का आलू नहीं खरीदा गया है और गन्ना किसानों को भुगतान नहीं हो पा रहा है।' वहीं इस दौरान मंच पर मौजूद आजम खान ने सीएम योगी आदित्यनाथ पर हमला किया।