गोंडा-बलरामपुर में विकासकार्यों की समीक्षा के बाद अयोध्या जा रहे सीएम योगी, राम मंदिर की तैयारियों का लेंगे जायजा

cm yogi
गोंडा-बलरामपुर में विकासकार्यों की समीक्षा के बाद अयोध्या जा रहे सीएम योगी, राम मंदिर की तैयारियों का लेंगे जायजा

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अलग—अलग जिलों का दौरा कर रहे हैं। गोंडा—बलरामपुर में विकासकार्यों की समीक्षा के बाद वह गोंडा से अयोध्या के लिए रवाना हो जायेंगे। मौसम खराब होने के कारण वह सड़क मार्ग से ही अयोध्या पहुचेंगे। सीएम योगी अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की तैयारियों का जायजा लेंगे और भजन संध्या स्थल का निरीक्षण करेंगे।

After Reviewing The Development Works In Gonda Balrampur Cm Yogi Going To Ayodhya Will Take Stock Of The Preparations Of Ram Temple :

मुख्यमंत्री सर्किट हाउस में अफसरों संग बैठक भी करेंगे। हालांकि, सड़क मार्ग से जाने के कारण वक्त की कमी से कुछ कार्यक्रमों को निरस्त भी किया जा सकता है। वहीं, इससे पहले रविवार सुबह सीएम बलरामपुर के देवीपाटन शक्तिपीठ तुलसीपुर में मां पाटेश्वरी का पूजन किया और गर्भगृह की परिक्रमा की।

वहीं, शनिवार को मुख्यमंत्री ने गोंडा और बलरामपुर में चल रही योजनाओं का जायजा लिया। सबसे पहले वह बाराबंकी-गोंडा सीमा पर स्थित एल्गिन-चरसड़ी बांध पर चल रहे मरम्मत व स्पर निर्माण का औचक निरीक्षण करने पहुंचे। यहां उन्होंने त्रुटिरहित काम करने और मजदूरों की संख्या बढ़ाने का निर्देश दिया।

मुख्यमंत्री का कार्यक्रम मिलते ही जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक के साथ मौके पर पहुंच गए। सीएम ने विभागीय मंत्री और सांसद से वार्ता की और दोनों जिलों के जिलाधिकारियों को कहा कि बाढ़ आने से पहले सभी कार्य पूरे कर लिए जाएं। इसके लिए प्रतिदिन एक हजार मजदूर लगाकर 24 घंटे काम कराया जाए। नेपाल सीमा पार से होने वाली तस्करी व अपराधों को हर हाल में रोका जाए।

बारिश के बीच बलरामपुर पहुंचे मुख्यमंत्री ने विकास कार्यों तथा कोरोना महामारी से बचाव की तैयारियों की समीक्षा की। उन्होंने वनवासी ग्रामों में शीघ्र मूलभूत सुविधाएं बिजली, आवास व पानी आदि पहुंचाने तथा थारु सांस्कृतिक केंद्र का निर्माण शीघ्र कराने का निर्देश दिया। इसके साथ ही नेपाल सीमा पर कड़ी निगरानी के निर्देश देते हुए कहा कि सीमा पार से होने वाली तस्करी व अपराधों को हर हाल में रोका जाए।

उन्होंने कोरोना मरीजों के लिए जिले के लेवल-2 अस्पताल तैयार कराने तथा बाढ़ व जलभराव वाले इलाकों को बचाने के लिए कार्ययोजना तैयार करने का निर्देश दिया। शनिवार दोपहर बाद करीब पौने तीन बजे रिजर्व पुलिस लाइंस पहुंचे सीएम ने वहीं हॉल में अधिकारियों तथा चारों विधायकों के साथ समीक्षा बैठक की।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अलग—अलग जिलों का दौरा कर रहे हैं। गोंडा—बलरामपुर में विकासकार्यों की समीक्षा के बाद वह गोंडा से अयोध्या के लिए रवाना हो जायेंगे। मौसम खराब होने के कारण वह सड़क मार्ग से ही अयोध्या पहुचेंगे। सीएम योगी अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की तैयारियों का जायजा लेंगे और भजन संध्या स्थल का निरीक्षण करेंगे। मुख्यमंत्री सर्किट हाउस में अफसरों संग बैठक भी करेंगे। हालांकि, सड़क मार्ग से जाने के कारण वक्त की कमी से कुछ कार्यक्रमों को निरस्त भी किया जा सकता है। वहीं, इससे पहले रविवार सुबह सीएम बलरामपुर के देवीपाटन शक्तिपीठ तुलसीपुर में मां पाटेश्वरी का पूजन किया और गर्भगृह की परिक्रमा की। वहीं, शनिवार को मुख्यमंत्री ने गोंडा और बलरामपुर में चल रही योजनाओं का जायजा लिया। सबसे पहले वह बाराबंकी-गोंडा सीमा पर स्थित एल्गिन-चरसड़ी बांध पर चल रहे मरम्मत व स्पर निर्माण का औचक निरीक्षण करने पहुंचे। यहां उन्होंने त्रुटिरहित काम करने और मजदूरों की संख्या बढ़ाने का निर्देश दिया। मुख्यमंत्री का कार्यक्रम मिलते ही जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक के साथ मौके पर पहुंच गए। सीएम ने विभागीय मंत्री और सांसद से वार्ता की और दोनों जिलों के जिलाधिकारियों को कहा कि बाढ़ आने से पहले सभी कार्य पूरे कर लिए जाएं। इसके लिए प्रतिदिन एक हजार मजदूर लगाकर 24 घंटे काम कराया जाए। नेपाल सीमा पार से होने वाली तस्करी व अपराधों को हर हाल में रोका जाए। बारिश के बीच बलरामपुर पहुंचे मुख्यमंत्री ने विकास कार्यों तथा कोरोना महामारी से बचाव की तैयारियों की समीक्षा की। उन्होंने वनवासी ग्रामों में शीघ्र मूलभूत सुविधाएं बिजली, आवास व पानी आदि पहुंचाने तथा थारु सांस्कृतिक केंद्र का निर्माण शीघ्र कराने का निर्देश दिया। इसके साथ ही नेपाल सीमा पर कड़ी निगरानी के निर्देश देते हुए कहा कि सीमा पार से होने वाली तस्करी व अपराधों को हर हाल में रोका जाए। उन्होंने कोरोना मरीजों के लिए जिले के लेवल-2 अस्पताल तैयार कराने तथा बाढ़ व जलभराव वाले इलाकों को बचाने के लिए कार्ययोजना तैयार करने का निर्देश दिया। शनिवार दोपहर बाद करीब पौने तीन बजे रिजर्व पुलिस लाइंस पहुंचे सीएम ने वहीं हॉल में अधिकारियों तथा चारों विधायकों के साथ समीक्षा बैठक की।