1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. बिहार: लालू यादव का नीतीश सरकार पर निशाना, कहा-तेजस्वी ने कचूमर निकाल दिया मैं विसर्जन करुंगा

बिहार: लालू यादव का नीतीश सरकार पर निशाना, कहा-तेजस्वी ने कचूमर निकाल दिया मैं विसर्जन करुंगा

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव आज छ: साल के बाद राजनीतिक मंच पर नजर आये हैं। उन्होंने तारापुर में बिहार में होने वाले विधानसभा उपचुनाव के मद्देनजर जनता को संबोधित किया। बिहार में दो सीटों कुशेश्वर स्थान और तारापुर में उपचुनाव होने वाला है। लालू के मंच पर नजर आने के बाद राष्ट्रीय जनता दल के कार्यकर्ताओं में अलग ही उत्साह नजर आ रहा था।

By प्रिन्स राज 
Updated Date

तारापुर। बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव(Lalu Yadav) आज छ: साल के बाद राजनीतिक मंच पर नजर आये हैं। उन्होंने तारापुर में बिहार में होने वाले विधानसभा उपचुनाव के मद्देनजर जनता को संबोधित किया। बिहार में दो सीटों कुशेश्वर स्थान और तारापुर में उपचुनाव होने वाला है। लालू के मंच पर नजर आने के बाद राष्ट्रीय जनता दल(RJD) के कार्यकर्ताओं में अलग ही उत्साह नजर आ रहा था। कार्यकर्ताओं के उत्साह को देखकर ये लग रहा था की वो अपने नेता को पुन: मंच पर देखकर कितने खुश हैं। राजनीतिक पंडितों को भी लगने लगा है कि लालू के फिर से राजनीति में सक्रिय होने के बाद उपचुनावों के समीकरण बदल सकते हैं।

पढ़ें :- अपने पुराने अंदाज में दिखे लालू यादव, पटना की सड़कों पर पुरानी जीप से फर्राटा भरते हुए आए नजर

लालू जब तारापुर के ईदगाह (Idgah) मैदान में सभा को संबोधित करने आये तो जनसभा लालू यादव जिंदाबाद के नारों से गूंज गया। लालू ने अपने भाषण के दौरान बिहार के वर्तमान नीतीश सरकार पर जम कर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि पिछले विधानसभा के चुनाव में तेजस्वी ने ही कचूमर(Kachumar) निकाल दिया है। मैं इस सरकार का विसर्जन करने आया हूं। लालू ने आगे कहा कि ये सरकार धोखा दे कर के बनाई गई सरकार है। बिहार की जनता तेजस्वी के साथ है। नीतीश ने कोई काम नहीं किया।

नीतीश ने कहा था कि ​वे बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिलाने वाले का साथ देंगे। बिहार को अब तक विशेष राज्य का दर्जा नहीं मिला। नीतीश कहते थे कि मैं मिट्टी में मिल जाऊंगा लेकिन बीजेपी के साथ नहीं जाऊंगा। तारापुर के जनसभा को संबोधित करने के बाद लालू कुशेश्वर स्थान भी जायेंगे। बिहार में होने वाले इन दों सीटों के उपचुनाव पर सभी पार्टियां नजर बनाई हुई हैं। कोई भी पार्टी इन दोनों सीटों का चुनाव हारना नहीं चाहेगी। ये देखना दिलचस्प होगा कि 30 अक्टूबर (October) को जनता किसके पक्ष में वोट करती है। इन चुनावों के नतीजे दो नवंबर(November) को घोषित होंगे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...