इलाज के बाद लखनऊ लौटे नवनीत सहगल, ड्राइवर का मेदान्ता में होगा इलाज

लखनऊ। सड़क हादसे में गंभीर रूप से घायल हुए यूपी के सीनियर आईएएस नवनीत सहगल गुरुवार को अस्पलात से छुट्टी मिलने के बाद लखनऊ आ गए हैं। यूपी सरकार की सबसे बड़ी योजना आगरा लखनऊ एक्सप्रेस वे के निर्माण को नियत समय में संभव बनाने वाले नवनीत सहगल के पास बतौर प्रमुख सचिव सूचना एवं जनसंपर्क विभाग और संस्कृति विभाग का पदाभार है। इसके अलावा वह यूपीडा के चेयरमैन भी हैं।




मिली जानकारी के मुताबिक नवनीत सहगल को गुरुवार को निजी विमान द्वारा लखनऊ लाया गया है। उनके लखनऊ आने के बाद सड़क दुर्घटना के समय घायल हुए उनकी सरकारी कार के ड्राइवर रमाशंकर पांडे को मेदान्ता सुपरस्पेश्यलिटी अस्पलात भेजे जाने की जानकारी भी मिल रही है।

बताया जा रहा है कि लखनऊ मेडिकल कालेज में भर्ती सहगल के ड्राइवर पंडित की हालत में मामूली सुधार आया है, हादसे में पंडित को आई गंभीर चोटों को देखते हुए परिवार ने मुख्यमंत्री से अपील की थी कि उसे बेहतर इलाज के लिए मेदान्ता अस्पताल। ड्राइवर के परिवार की अपील को स्वीकार करते हुए मुख्यमंत्री ने उसे मेदान्ता भेजने का फैसला किया है। साथ ही परिवार को भरोसा दिलाया है कि रमाशंकर के इलाज का सारा खर्च सरकार उठाएगी।




1988 बैच के आईएएस नवनीत सहगल 21 नवंबर को हो चुके आगरा—लखनऊ एक्सप्रेस वे उद्घाटन समारोह के आयोजन की तैयारियों का जायजा लेकर लौटते समय 18 नवंबर को एक्सप्रेस वे पर ही सड़क दुर्घटना का शिकार हो गए थे। जिसके बाद डाक्टरों ने उने सघन चिकित्सा के लिए ग्रुरुग्राम के मेदान्ता हॉस्पिटल में भर्ती करवाया था।