विकास दुबे के एनकाउंटर के बाद ताबड़तोड़ कार्रवाई में जुटी पुलिस, महाराष्ट्र से उसके दो साथी गिरफ्तार

gudaan
विकास दुबे के एनकाउंटर के बाद ताबड़तोड़ कार्रवाई में जुटी पुलिस, महाराष्ट्र से उसके दो साथी गिरफ्तार

मुंबई। कानपुर एनकाउंटर के मुख्य आरोपी विकास दुबे के मुठभेड़ में मारे जाने के बाद उसके साथियों पर पुलिस ताबड़तोड़ शिकंजा कस रही है। यूपी एसटीएफ के बाद अन्य राज्यों की पुलिस भी इस गैंग के लोगों को शारण देेने वालों पर कार्रवाई कर रही है। आज महाराष्ट्र एटीएस की टीम ने दो लोगों को गिरफ्तार किया है, जो विकास दुबे के बेहद करीबियों में शामिल थे। आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद से यह आरोपी फरार चल रहे थे।

After Vikas Dubeys Encounter The Police Engaged In Rash Action Two Of His Companions Arrested From Maharashtra :

एटीएस के अधिकारी विक्रम देशमाने के अनुसार यूपी के गैंगस्टर विकास दुबे के दो साथियों के महाराष्ट्र के ठाणे में आने की सूचना मिली थी। इसके आधार पर अरविंद उर्फ गुड्डन त्रिवेदी को गिरफ्तार किया गया, साथ ही ड्राइवर सुशील को भी गिरफ्तार किया गया है। अधिकारी ने बताया कि इस गिरफ्तारी की जानकारी यूपी पुलिस को दे दी गई है।

11 जुलाई को मुंबई जुहू यूनिट की एटीएस को एक गुप्त सूचना मिली कि कानपुर एनकाउंटर मामले से जुड़ा एक आरोपी ठिकाने की तलाश में ठाणे में है। एटीएस जुहू यूनिट ने कोल्शेट रोड, ठाणे में एक जाल बिछाया और आरोपी अरविंद और उसके चालक सोनू तिवारी को गिरफ्तार कर लिया। वहीं, शनिवार को यूपी एसटीएफ ने मध्यप्रदेश के ग्वालियर के रहने वाले ओम प्रकाश पांडे और अनिल पांडे को पकड़ा। इन दोनों पर कानपुर एनकाउंटर के आरोपी शशिकांत पांडे और शिवम दुबे को शरण देने का आरोप है। इन्होंने दोनों आरोपियों को अपने घर में छिपाया था।

 

मुंबई। कानपुर एनकाउंटर के मुख्य आरोपी विकास दुबे के मुठभेड़ में मारे जाने के बाद उसके साथियों पर पुलिस ताबड़तोड़ शिकंजा कस रही है। यूपी एसटीएफ के बाद अन्य राज्यों की पुलिस भी इस गैंग के लोगों को शारण देेने वालों पर कार्रवाई कर रही है। आज महाराष्ट्र एटीएस की टीम ने दो लोगों को गिरफ्तार किया है, जो विकास दुबे के बेहद करीबियों में शामिल थे। आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद से यह आरोपी फरार चल रहे थे। एटीएस के अधिकारी विक्रम देशमाने के अनुसार यूपी के गैंगस्टर विकास दुबे के दो साथियों के महाराष्ट्र के ठाणे में आने की सूचना मिली थी। इसके आधार पर अरविंद उर्फ गुड्डन त्रिवेदी को गिरफ्तार किया गया, साथ ही ड्राइवर सुशील को भी गिरफ्तार किया गया है। अधिकारी ने बताया कि इस गिरफ्तारी की जानकारी यूपी पुलिस को दे दी गई है। 11 जुलाई को मुंबई जुहू यूनिट की एटीएस को एक गुप्त सूचना मिली कि कानपुर एनकाउंटर मामले से जुड़ा एक आरोपी ठिकाने की तलाश में ठाणे में है। एटीएस जुहू यूनिट ने कोल्शेट रोड, ठाणे में एक जाल बिछाया और आरोपी अरविंद और उसके चालक सोनू तिवारी को गिरफ्तार कर लिया। वहीं, शनिवार को यूपी एसटीएफ ने मध्यप्रदेश के ग्वालियर के रहने वाले ओम प्रकाश पांडे और अनिल पांडे को पकड़ा। इन दोनों पर कानपुर एनकाउंटर के आरोपी शशिकांत पांडे और शिवम दुबे को शरण देने का आरोप है। इन्होंने दोनों आरोपियों को अपने घर में छिपाया था।