गुजरात और हिमांचल विजय के बाद पीएम मोदी ने किया 2019 की लड़ाई का सांकेतिक आगाज

गुजरात और हिमांचल विजय के बाद पीएम मोदी ने किया 2019 की लड़ाई का सांकेतिक आगाज

नई दिल्ली। ‘जीतेगा भाई जीतेगा विकास ही जीतेगा‘ ये नारा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय कार्यालय में कार्यकर्ताओं को उस समय संबोधित करते हुए दिया जब वह हिमांचल प्रदेश और गुजरात के विधानसभा चुनावों में पार्टी की जीत को सेलीब्रेट करने पहुंचे थे। जिस अंदाज में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने यह नारा दिया उसे देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि वह 2019 के लोकसभा चुनावों में इस नारे को लेकर ही आगे बढ़ेगे।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इस मौके पर अपने गृह प्रदेश गुजरात की जनता को धन्यवाद देते हुए कहा कि गुजरात की जनता के बीच जिस तरह से एक षड्यंत्र के तहत जातिवादी राजनीति का दांव चला गया, उसे गुजरात की जागरुक जनता ने सफल नहीं होने दिया। उन्होंने कहा गुजरात की जनता ने षड्यंत्र को असफल भले ही कर दिया हो लेकिन गुजरात की जनता को और अधिक जागरुक होने की जरूरत है।

{ यह भी पढ़ें:- पीएम मोदी का इज़राइली करार यूपी जल निगम के लिए बेकार }

उन्होंने कहा कि गुजरात को जातिवाद से बाहर निकालने में पूरे तीस साल लग गए। लेकिन सत्ता भूख के कारण कुछ लोगों ने षड्यंत्र के तहत जातिवाद के बीज बोने के काम किए है। जिसका एक मात्र उद्देश्य कैसे भी भाजपा की सरकार को गुजरात में गिराना था। जिसमें गुजरात की जनता ने उन्हें असफल कर दिया। जिसके लिए गुजरात की जनता धन्यवाद की पात्र है, लेकिन गुजरात के साढ़े छह करोड़ गुजरातियों को जागरुक होना पड़ेगा। अब जो गुजर गया है उसे गुजर जाने दो लेकिन अब एकता के मंत्र पर आगे बढ़ने का समय है।

गुजरात में नुकसान के साथ मिली जीत को भाजपा की विकासवादी सोच की जीत बताते हुए कहा कि कोई पार्टी विकास के मुद्दे पर लगातार जीत दर्ज करवाती जा रही है तो यह देश की राजनीति में अनोखी बात है। जिस पर गुजरात की जनता ने मोहर लगा दी है। क्योंकि राजनीति के तीन दशकों के इतिहास में हमारे देश में पांच साल की सरकार के बाद किसी पार्टी की सत्ता में वापसी होना अपने आप में एक उपलब्धी माना जाता है। उस जीत के समीक्षा लंबे समय तक की जाती है। अगर इस लिहाज से गुजात को देखा जाए तो यह एक अपवाद है क्योंकि भाजपा ने इस युग में भी छठी बार गुजरात में सरकार बनाने का काम किया है।

{ यह भी पढ़ें:- भारत पहुंचे इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू, पीएम मोदी ने प्रोटोकॉल तोड़कर किया स्वागत }

प्रधानमंत्री ने गुजरात की जीत को दोहरी जीत बताते हुए कहा कि उन्हें खुशी है कि उनके गुजरात से दिल्ली आने के बाद भी उनके साथियों ने गुजरात के विकास का कार्य जारी रखा है। जिसे गुजरात की जनता ने भी स्वीकार कर लिया है।

इस बीच पीएम मोदी ने केन्द्र सरकार की कार्यशैली का जिक्र करते हुए कहा कि उनकी सरकार सबका साथ सबका विकास के रास्ते पर आगे बढ़ रही है। देश के राज्यों के बीच सामजस्य के साथ एक आगे बढ़ने के साथ प्रतिस्पर्धा का माहौल बनाने का काम इस सरकार ने किया है ताकि सभी राज्य विकास के रास्ते पर आगे बढ़ सकें। अगर किसी को लगता है कि भाजपा को हारना चाहिए तो जरूर हराए, महीनों तक भाजपा की हार का जश्न मनाए लेकिन विकास के मुद्दे से देश को भटका कर जातिवाद के नाम पर बांटे नहीं।

{ यह भी पढ़ें:- सीएम योगी भी कम खिलाड़ी नहीं हैं: पीएम मोदी }

Loading...