वाह रे यूपी का स्वास्थ्य महकमा, गर्भवती को अस्पताल से निकाला, सड़क पर दिया बच्चे को जन्म

agra-government-hospital
वाह रे यूपी का स्वास्थ्य महकमा, गर्भवती को अस्पताल से निकाला, सड़क पर दिया बच्चे को जन्म

लखनऊ। उत्तर प्रदेश का स्वास्थ्य महकमा किस कदर लापरवाह और निरंकुश है, इसका ताजा उदाहरण आगरा शहर में देखने को मिला। यहां के सिकंदरा थाना क्षेत्र के रुनकता प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर बुधवार सुबह प्रसव पीड़ा से कराह रही महिला को भर्ती नहीं किया गया। महिला की स्थिति नाजुक होने पर स्वास्थ्य केंद्र के सामने ही प्रसव कराना पड़ा। आस पास की महिलाओं ने कपड़े की आड़ लगवाकर उसका प्रसव करवाया। घटना के बाद स्थानीय लोगों में आक्रोश भड़क गया और उन्होंने स्वास्थ्य केंद्र पर हंगामा किया।

Agra City Woman Gave Birth To A Child On The Street :

बुधवार सुबह रुनकता क्षेत्र की रहने वाली नैना प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के बाहर प्रसव पीड़ा से तड़प रही थी। उनके पति श्याम रुनकता स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र लेकर पहुंचे। आरोप है कि स्वास्थ्य केंद्र पर मौजूद महिला स्वास्थ्य कर्मियों ने रुपए देने के लालच में गर्भवती महिला नैना को भर्ती करने से मना कर दिया।

पति की लाख कोशिशों के बावजूद अस्पताल कर्मियों का मन नहीं पिघला और उसे वहां से जाने के लिए कह दिया। हालत नाजुक होने पर अस्पताल के बाहर मौजूद कुछ महिलाओं ने कपड़े की आड़ में महिला का प्रसव कराया। इस घटना के बाद आक्रोशित लोगों ने अस्पताल परिसर के बाहर जमकर हंगामा किया।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश का स्वास्थ्य महकमा किस कदर लापरवाह और निरंकुश है, इसका ताजा उदाहरण आगरा शहर में देखने को मिला। यहां के सिकंदरा थाना क्षेत्र के रुनकता प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर बुधवार सुबह प्रसव पीड़ा से कराह रही महिला को भर्ती नहीं किया गया। महिला की स्थिति नाजुक होने पर स्वास्थ्य केंद्र के सामने ही प्रसव कराना पड़ा। आस पास की महिलाओं ने कपड़े की आड़ लगवाकर उसका प्रसव करवाया। घटना के बाद स्थानीय लोगों में आक्रोश भड़क गया और उन्होंने स्वास्थ्य केंद्र पर हंगामा किया। बुधवार सुबह रुनकता क्षेत्र की रहने वाली नैना प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के बाहर प्रसव पीड़ा से तड़प रही थी। उनके पति श्याम रुनकता स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र लेकर पहुंचे। आरोप है कि स्वास्थ्य केंद्र पर मौजूद महिला स्वास्थ्य कर्मियों ने रुपए देने के लालच में गर्भवती महिला नैना को भर्ती करने से मना कर दिया। पति की लाख कोशिशों के बावजूद अस्पताल कर्मियों का मन नहीं पिघला और उसे वहां से जाने के लिए कह दिया। हालत नाजुक होने पर अस्पताल के बाहर मौजूद कुछ महिलाओं ने कपड़े की आड़ में महिला का प्रसव कराया। इस घटना के बाद आक्रोशित लोगों ने अस्पताल परिसर के बाहर जमकर हंगामा किया।