1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. कृषि कानून तो गया, अब किसे चुनावी हथियार बनाएगी सपा? जानें नया प्लान

कृषि कानून तो गया, अब किसे चुनावी हथियार बनाएगी सपा? जानें नया प्लान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के तीनों कृषि कानून वापसी की घोषणा के बाद समाजवादी पार्टी ने चुनावी मैदान में किसानों के अन्य मुद्दों को हवा देने की रणनीति बनाई है।

By प्रिन्स राज 
Updated Date

लखनऊ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के तीनों कृषि कानून वापसी की घोषणा के बाद समाजवादी पार्टी ने चुनावी मैदान में किसानों के अन्य मुद्दों को हवा देने की रणनीति बनाई है। सपा प्रमुख रूप से न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) पर कानून बनाने को लेकर केंद्र सरकार और भाजपा पर आक्रामक रुख अपनाने की तैयारी कर रही है।

पढ़ें :- UPTET Paper Leaked : अखिलेश यादव बोले- बेरोज़गारों का इंक़लाब होगा, 2022 में होगा बदलाव

सपा मुखिया अखिलेश यादव अपनी जनसभाओं और रैलियों में उपज की खरीदारी, यूरिया-डीएपी की किल्लत, डीजल-पेट्रोल की कीमतों में बढ़ोतरी, महंगाई जैसे मुद्दों के जरिये किसानों की सहानभूति बटोरने की हर संभव कोशिश करेंगे। यूपी में अगले साल विधानसभा(UP election) चुनाव प्रस्तावित हैं।

सपा के एमएलसी व राष्ट्रीय प्रवक्ता सुनील सिंह साजन ने कहा कि किसान भाजपा (BJP) के बहकावे में नहीं आएंगे। प्रधानमंत्री नेंद्र मोदी 15 लाख रुपये, हर साल दो करोड़ नौकरियां, किसानों की आय दोगुनी करने सहित तमाम वादे किए थे, जिसे आज तक पूरा नहीं किया गया। इसलिए जनता व किसान उन पर भरोसा नहीं करते हैं।

 

पढ़ें :- UP Election 2022: प्रियंका गांधी ने मोदी और योगी सरकार को घेरा, कहा-ये लोग मंच से करते हैं झूठे वादे
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...