इस बार दिल्ली-NCR में दिवाली पर पटाखे रहेंगे बैन, SC का आदेश

diwali sc
नई दिल्ली। इस बार दिल्ली-एनसीअार के लोगों को दिवाली साइलेंट ही बीतने वाली है। सर्वोच्च न्यायालय ने यहां पटाखों की बिक्री पर 1 नवंबर तक के लिए रोक लगा दी है। इससे पहले अदालत ने 12 सितंबर को पटाखों की बिक्री को लेकर राहत दी थी जिसमें अब संशोधन किया गया है। सर्वोच्च न्यायालय ने दिल्ली-एनसीआर में पटाखों की बिक्री और भंडारण पर रोक लगाने वाले नवंबर 2016 के आदेश को बरकार रखते हुए यह फैसला सुनाया। सुप्रीम कोर्ट ने…

नई दिल्ली। इस बार दिल्ली-एनसीअार के लोगों को दिवाली साइलेंट ही बीतने वाली है। सर्वोच्च न्यायालय ने यहां पटाखों की बिक्री पर 1 नवंबर तक के लिए रोक लगा दी है। इससे पहले अदालत ने 12 सितंबर को पटाखों की बिक्री को लेकर राहत दी थी जिसमें अब संशोधन किया गया है। सर्वोच्च न्यायालय ने दिल्ली-एनसीआर में पटाखों की बिक्री और भंडारण पर रोक लगाने वाले नवंबर 2016 के आदेश को बरकार रखते हुए यह फैसला सुनाया।

सुप्रीम कोर्ट ने इस महत्वपूर्ण फैसले में कहा कि दिवाली के बाद इस बात की भी जांच की जाएगी कि पटाखों पर बैन के बाद हवा की स्थिति में कुछ सुधार हुआ है या नहीं। कोर्ट ने कहा कि 1 नवंबर के बाद पटाखों की बिक्री फिर से शुरू की जा सकती है। सर्वोच्च न्यायालय ने पटाखा विक्रेताओं को दिए नए और पुराने दोनों ही लाइसेंस रद्द कर दिए हैं।

{ यह भी पढ़ें:- CBSE पेपर लीक : प्रदर्शनकारी विद्यार्थीयों को पुलिस ने हिरासत में लिया }

न्यायाधीश न्यायमूर्ति ए.के. सिकरी की अध्यक्षता वाली पीठ ने फैसले को बरकरार रखते हुए कहा, “हमें कम से कम एक दिवाली पर पटाखे मुक्त त्योहार मनाकर देखना चाहिए।” अदालत ने कहा कि दिल्ली एवं एनसीआर में पटाखों की बिक्री और भंडारण पर प्रतिबंध हटाने का 12 सितंबर 2017 का आदेश एक नवंबर से दोबारा लागू होगा यानी एक नवंबर से दोबारा पटाखे बिक सकेंगे।

{ यह भी पढ़ें:- CBSE Paper Leak : केरल के छात्र ने दोबारा परीक्षा कराने के फैसले को SC में दी चुनौती }

Loading...