1. हिन्दी समाचार
  2. एस्ट्रोलोजी
  3. Ahoi Ashtami 2021: आज है अहोई अष्टमी, माता को भोग लगाने के बाद प्रसाद बच्चों को जरूर खिलाएं

Ahoi Ashtami 2021: आज है अहोई अष्टमी, माता को भोग लगाने के बाद प्रसाद बच्चों को जरूर खिलाएं

अहोई अष्टमी का व्रत करवा चौथ के चार दिन बाद रखा जाता है। प्रत्येक वर्ष ये त्योहार कार्तिक मास की कृष्ण पक्ष की अष्टमी​ तिथि को रखा जाता है।

By अनूप कुमार 
Updated Date

अहोई अष्टमी 2021: अहोई अष्टमी का व्रत करवा चौथ के चार दिन बाद रखा जाता है। प्रत्येक वर्ष ये त्योहार कार्तिक मास की कृष्ण पक्ष की अष्टमी​ तिथि को रखा जाता है। करवा चौथ के समान अहोई अष्टमी का दिन भी कठोर उपवास का दिन होता है। इस व्रत में बहुत सी महिलाएँ पूरे दिन जल तक ग्रहण नहीं करती हैं। शाम को तारों का दर्शन करने के बाद उन्हें अर्घ्य देकर व्रत पारण करती हैं। संतान की सलामती के लिए महिलाएं यह व्रत रखतीं है।

पढ़ें :- Hartalika Teej 2022 : इस दिन पड़ रही है हरतालिका तीज, सुहागिन महिलाएं सुखी दांपत्य जीवन का वरदान मांगतीं है

अहोई अष्टमी 2021: तिथि और शुभ मुहूर्त

दिनांक- 28 अक्टूबर, गुरुवार
अष्टमी तिथि शुरू – 28 अक्टूबर 2021 को दोपहर 12:49 बजे

अष्टमी तिथि समाप्त – 29 अक्टूबर, 2021 को दोपहर 02:09
अहोई अष्टमी पूजा मुहूर्त – 05:39 अपराह्न से 06:56 अपराह्न

तारे देखने का शाम का समय – 06:03 PM
अहोई अष्टमी पर चंद्रोदय – 11:29 अपराह्न

पढ़ें :- Holi 2022 : होलिका दहन के दिन प्रसाद के रूप में मेवा और मिठाई जरूर चढ़ाएं, ये उपाय आर्थिक परेशानी को दूर करने में मदद करेंगे

इस दिन अहोई माता की पूजा करने से पहले गणेश भगवान की पूजा करें। अहोई अष्टमी के व्रत पूजा करते समय बच्चों को साथ में जरूरी बैठाएं और अहोई माता को भोग लगाने के बाद वो प्रसाद अपने बच्चों को जरूर खिलाएं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...