शशिकला को मिली जयललिता की विरासत, बनीं पार्टी महासचिव

चेन्नई| तमिलनाडु में सत्तारूढ़ पार्टी एआईएडीएमके ने गुरुवार को शशिकला के नेतृत्व में काम करने संबंधी प्रस्ताव को पारित कर दिया| उन्हें पार्टी ने अपना नया महासचिव चुना है| इस बैठक में तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ओ.पन्नीरसेल्वम और अन्य नेताओं ने भी हिस्सा लिया|




माना जा रहा था कि मुख्यमंत्री पनीरसेल्वम से उन्हें चुनौती मिल सकती है लेकिन ऐसा हुआ नहीं और सर्वसम्मति से उनके नेतृत्व में काम करने के प्रस्ताव पर मुहर लगी| बैठक में 14 अन्य प्रस्ताव भी पास किए गए| इनमें जयललिता के जन्मदिन को राष्ट्रीय किसान दिवस के रूप में मनाए जाने का प्रस्ताव भी शामिल है|



5 दिसंबर को जयललिता के निधन के बाद यह जनरल काउंसिल की पहली मीटिंग थी| 23 दिसंबर को पार्टी के सीनियर लीडर ई मधुसूदनन ने एक मीटिंग बुलाई थी, जिसमें जनरल काउंसिल की मीटिंग 29 दिसंबर को बुलाने का फैसला किया गया था|