एयर स्ट्राइक पर राहुल गांधी का पलटवार, कहा – नरेंद्र मोदी की निजी संपत्ति नहीं सेना

rahul gandhi
एयर स्ट्राइक पर राहुल गांधी का पलटवार, कहा - नरेंद्र मोदी की निजी संपत्ति नहीं सेना

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को एयर स्ट्राइक के मुद्दे पर बीजेपी पर पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि सेना मोदी जी की निजी संपत्ति नहीं है और उन्हें सेना को बदनाम नहीं करना चाहिए। दो दिन पहले बीजेपी ने कांग्रेस के एयर स्ट्राइक के दावों को झूठा करार दिया था।

Air Force Or Navy Are Not Personal Properties Of Narendra Modi Ji Like He Thinks :

राहुल ने कहा कि देश के सामने सबड़े बड़ा मुद्दा बेरोजगारी है। पीएम मोदी ने अर्थव्यवस्था को नष्ट कर दिया है। देश मोदी से पूछ रहा है कि दो करोड़ रोजगार का वादा किया गया था, लेकिन आज देश 45 साल की सबसे बुरी हालत झेल रहा है। राहुल गांधी ने कहा कि नरेंद्र मोदी जी रोजगार के बारे में बात नहीं करते हैं क्योंकि उनके पास कोई प्लान नहीं है। राहुल ने कहा कि पीएम मोदी को इसका ज्ञान ही नहीं है कि वो रोजगार कैसे पैदा करें।

सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर भी राहुल गांधी ने पीएम मोदी की आलोचना की। उन्होंने कहा कि आर्मी नरेंद्र मोदी की पर्सनल प्रॉपर्टी नहीं है। नरेंद्र मोदी सोचते हैं सेना उनकी प्रॉपर्टी है। राहुल ने यूपीए सरकार के दौरान हुईं सर्जिकल स्ट्राइक पर उठ रहे सवालों के जवाब में कहा कि सेना की स्ट्राइक को वीडियो गेम बताकर पीएम मोदी देश की सेना को बदनाम कर रहे हैं। सेना किसी व्यक्ति नहीं, बल्कि देश की होती है।

पीएम मोदी ने कांग्रेस के दावों पर उठाए थे सवाल

पीएम मोदी ने शुक्रवार को एक रैली में कहा, ‘एसी कमरों में बैठकर कागज में सर्जिकल स्ट्राइक कांग्रेस ही कर सकती है। पहले उन्होंने कहा कि हमने 3 बार सर्जिकल स्ट्राइक की, कल कहा कि हमने 6 बार की। अब कुछ दिन में कह देंगे कि हमने हर रोज स्ट्राइक की। चुनाव खत्म होते-होते यह संख्या 600 तक पहुंच जाएगी। मुझे लगता है कि ये नेता वीडियो गेम खेलते हैं और शायद सर्जिकल स्ट्राइक को गेम मानकर आनंद लेते हैं।’

पीएम मोदी ने ये भी कहा, ‘कांग्रेस के कुछ नेताओं ने आर्मी चीफ को गुंडा कहा और एयरफोर्स चीफ को झूठा कहा। जब हमारी सेना ने दुश्मन की जमीन पर घुस कर आतंकियों को मारा तो उन्होंने इसका सबूत मांगा। कांग्रेस के नेता ऐसा कोई मौका नहीं छोड़ते जहां पर सेना का अपमान किया जा सके।’

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को एयर स्ट्राइक के मुद्दे पर बीजेपी पर पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि सेना मोदी जी की निजी संपत्ति नहीं है और उन्हें सेना को बदनाम नहीं करना चाहिए। दो दिन पहले बीजेपी ने कांग्रेस के एयर स्ट्राइक के दावों को झूठा करार दिया था। राहुल ने कहा कि देश के सामने सबड़े बड़ा मुद्दा बेरोजगारी है। पीएम मोदी ने अर्थव्यवस्था को नष्ट कर दिया है। देश मोदी से पूछ रहा है कि दो करोड़ रोजगार का वादा किया गया था, लेकिन आज देश 45 साल की सबसे बुरी हालत झेल रहा है। राहुल गांधी ने कहा कि नरेंद्र मोदी जी रोजगार के बारे में बात नहीं करते हैं क्योंकि उनके पास कोई प्लान नहीं है। राहुल ने कहा कि पीएम मोदी को इसका ज्ञान ही नहीं है कि वो रोजगार कैसे पैदा करें। सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर भी राहुल गांधी ने पीएम मोदी की आलोचना की। उन्होंने कहा कि आर्मी नरेंद्र मोदी की पर्सनल प्रॉपर्टी नहीं है। नरेंद्र मोदी सोचते हैं सेना उनकी प्रॉपर्टी है। राहुल ने यूपीए सरकार के दौरान हुईं सर्जिकल स्ट्राइक पर उठ रहे सवालों के जवाब में कहा कि सेना की स्ट्राइक को वीडियो गेम बताकर पीएम मोदी देश की सेना को बदनाम कर रहे हैं। सेना किसी व्यक्ति नहीं, बल्कि देश की होती है। पीएम मोदी ने कांग्रेस के दावों पर उठाए थे सवाल पीएम मोदी ने शुक्रवार को एक रैली में कहा, 'एसी कमरों में बैठकर कागज में सर्जिकल स्ट्राइक कांग्रेस ही कर सकती है। पहले उन्होंने कहा कि हमने 3 बार सर्जिकल स्ट्राइक की, कल कहा कि हमने 6 बार की। अब कुछ दिन में कह देंगे कि हमने हर रोज स्ट्राइक की। चुनाव खत्म होते-होते यह संख्या 600 तक पहुंच जाएगी। मुझे लगता है कि ये नेता वीडियो गेम खेलते हैं और शायद सर्जिकल स्ट्राइक को गेम मानकर आनंद लेते हैं।' पीएम मोदी ने ये भी कहा, 'कांग्रेस के कुछ नेताओं ने आर्मी चीफ को गुंडा कहा और एयरफोर्स चीफ को झूठा कहा। जब हमारी सेना ने दुश्मन की जमीन पर घुस कर आतंकियों को मारा तो उन्होंने इसका सबूत मांगा। कांग्रेस के नेता ऐसा कोई मौका नहीं छोड़ते जहां पर सेना का अपमान किया जा सके।'