दिल्ली में स्मॉग और प्रदूषण ने तोड़ा रिकॉर्ड, स्कूल-फैक्ट्री बंद, ऑड-इवन फिर होगा लागू

नई दिल्ली| देश की राजधानी दिल्ली में स्मॉग और प्रदूषण ने पिछले सारे रिकार्ड तोड़ दिए हैं| दिल्ली में दमघोंटू धुंध का कहर दिवाली के बाद से ही बदस्तूर जारी है| दिल्ली और आसपास के इलाकों में धुंए की चादर छंटने का नाम ही नहीं ले रही है| इसकी वजह से लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है| दिल्ली में पिछले कई दिनों से स्मॉग और प्रदूषण का आलम ये है कि लोगों को सांस लेने भी दिक्कतें हो रही है जिसकी वजह से लोग मास्क पहनकर बाहर निकलने को मजबूर हैं|




स्मॉग से परेशान दिल्ली-एनसीआर के लोगों को फिलहाल एक सप्ताह तक राहत मिलने की उम्मीद नहीं है| मौसम के बदले मिजाज से पैदा हुई एयर लॉक की स्थिति ने वायुमंडल में प्रदूषण के स्थानांतरण की प्रक्रिया को पूरी तरह रोक दिया है| मौसम वैज्ञानिकों की मानें तो सात नवंबर के बाद हवा का असर दिखेगा लेकिन यह आंशिक राहत ही लाएगा|

उधर, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने राजधानी में खराब वायु गुणवत्ता के मद्देनजर रविवार को आपात बैठक बुलाई| बैठक में उन्होंने प्रदूषण रोकने को लेकर कई अहम फैसले लिए|




-बदरपुर प्लांट को 10 दिनों के लिए बंद कर दिया गया है|
-बदरपुर प्लांट से राख लेने पर रोक|
-10 दिनों तक जेनरेटर पर रोक लगी|
-सोमवार से सड़कों पर पानी का छिड़काव किया जाएगा|
-3 दिनों के लिए स्कूल बंद|
-कूड़ा जलाने पर रोक|
-ऑड-इवन फिर से लागू करने पर विचार|