ऐश्वर्य प्रताप सिंह ने जूनियर शूटिंग वर्ल्ड कप में जीता गोल्ड

khel
ऐश्वर्य प्रताप सिंह ने जूनियर शूटिंग वर्ल्ड कप में जीता गोल्ड

नई दिल्ली। भारतीय निशानेबाज ऐश्वर्य प्रताप सिंह तोमर ने शुक्रवार को पुरूषों की राइफल थ्री पोजीशन में जूनियर विश्व रिकॉर्ड स्थापित करके सोने का तमगा जीता। अंतिम दिन 18 साल के ऐश्वर्या प्रताप सिंह तोमर ने पुरुषों की राइफल थ्री पोजीशन स्पर्धा में जूनियर वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाते हुए स्वर्ण पदक जीत लिया। टूर्नामेंट में भारत 10 स्वर्ण पदक के साथ टॉप पर रहा।

Aishwarya Pratap Singh Tomar Win Gold In Issf Junior World Cup In Suhl Germany :

भारत ने इस टूर्नामेंट में 10 स्वर्ण, नौ रजत और पांच कांस्य सहित कुल 24 पदक के साथ अपने अभियान का अंत किया। मध्य प्रदेश के खरगौन के ऐश्वर्य ने 120 शॉट के क्वालीफिकेशन में 1171 अंक बनाये तथा 72 निशानेबाजों के बीच चौथे स्थान पर रहते हुए आठ खिलाड़ियों के फाइनल में जगह बनाई। फाइनल में ऐश्वर्य ने शानदार प्रदर्शन किया।

वह ‘नीलिंग’ के 15 शॉट के बाद शीर्ष पर थे लेकिन प्रोन के 15 शाट के बाद हंगरी के दो बार के विश्व जूनियर चैंपियनशिप के पदक विजेता जलान पेकलर आगे हो गए। स्टैंडिंग पोजीशन में हालांकि उन्होंने 35वें शाट के बाद बढ़त बनाई और फिर पीछे मुड़कर नहीं देखा।

ऐश्वर्या प्रताप 1171 अंक के साथ फाइनल में पहुंचे थे

मध्य प्रदेश के ऐश्वर्या प्रताप ने क्वालिफिकेशन में 120 शूट्स में 1171 अंक जुटाकर चौथा स्थान हासिल किया और आठ निशानेबाजों के फाइनल में पहुंचे। इसके बाद फाइनल राउंड में उन्होंने 459.3 का जूनियर विश्व रिकॉर्ड बनाते हुए स्वर्ण पदक जीता। इससे पहले ऐश्वर्या का रिकॉर्ड 548.7 का था, जो उन्होंने इसी साल बीजिंग वर्ल्ड कप में बनाया था।

नई दिल्ली। भारतीय निशानेबाज ऐश्वर्य प्रताप सिंह तोमर ने शुक्रवार को पुरूषों की राइफल थ्री पोजीशन में जूनियर विश्व रिकॉर्ड स्थापित करके सोने का तमगा जीता। अंतिम दिन 18 साल के ऐश्वर्या प्रताप सिंह तोमर ने पुरुषों की राइफल थ्री पोजीशन स्पर्धा में जूनियर वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाते हुए स्वर्ण पदक जीत लिया। टूर्नामेंट में भारत 10 स्वर्ण पदक के साथ टॉप पर रहा। भारत ने इस टूर्नामेंट में 10 स्वर्ण, नौ रजत और पांच कांस्य सहित कुल 24 पदक के साथ अपने अभियान का अंत किया। मध्य प्रदेश के खरगौन के ऐश्वर्य ने 120 शॉट के क्वालीफिकेशन में 1171 अंक बनाये तथा 72 निशानेबाजों के बीच चौथे स्थान पर रहते हुए आठ खिलाड़ियों के फाइनल में जगह बनाई। फाइनल में ऐश्वर्य ने शानदार प्रदर्शन किया। वह 'नीलिंग' के 15 शॉट के बाद शीर्ष पर थे लेकिन प्रोन के 15 शाट के बाद हंगरी के दो बार के विश्व जूनियर चैंपियनशिप के पदक विजेता जलान पेकलर आगे हो गए। स्टैंडिंग पोजीशन में हालांकि उन्होंने 35वें शाट के बाद बढ़त बनाई और फिर पीछे मुड़कर नहीं देखा। ऐश्वर्या प्रताप 1171 अंक के साथ फाइनल में पहुंचे थे मध्य प्रदेश के ऐश्वर्या प्रताप ने क्वालिफिकेशन में 120 शूट्स में 1171 अंक जुटाकर चौथा स्थान हासिल किया और आठ निशानेबाजों के फाइनल में पहुंचे। इसके बाद फाइनल राउंड में उन्होंने 459.3 का जूनियर विश्व रिकॉर्ड बनाते हुए स्वर्ण पदक जीता। इससे पहले ऐश्वर्या का रिकॉर्ड 548.7 का था, जो उन्होंने इसी साल बीजिंग वर्ल्ड कप में बनाया था।