1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. अजान विवाद महाराष्ट्र से पहुंचा काशी, लोगो ने किया लाउडस्पीकर पर हनुमान चालीसा का पाठ

अजान विवाद महाराष्ट्र से पहुंचा काशी, लोगो ने किया लाउडस्पीकर पर हनुमान चालीसा का पाठ

अजान विवाद महाराष्ट्र से सीधे वाराणसी पहुंच गया है। बनारस में कुछ लोगों ने अजान के वक्त लाउडस्पीकर से हनुमान चालीसा का पाठ शुरू किया। श्रीकाशी विश्वनाथ ज्ञानवापी मुक्ति आंदोलन की ओर से यह मुहिम शुरू की गई है।

By प्रिन्स राज 
Updated Date

काशी। अजान विवाद महाराष्ट्र से सीधे वाराणसी पहुंच गया है। बनारस में कुछ लोगों ने अजान के वक्त लाउडस्पीकर से हनुमान चालीसा का पाठ शुरू किया। श्रीकाशी विश्वनाथ ज्ञानवापी मुक्ति आंदोलन की ओर से यह मुहिम शुरू की गई है। संगठन के अध्यक्ष सुधीर सिंह ने अपने घर से इसकी शुरुआत की है और छत पर कई लाउडस्पीकर लगा दिए हैं। बनारस के साकेत नगर इलाके में रहने वाले सुधीर सिंह कुछ साथियों के साथ छत पर खड़े होकर लाउडस्पीकर से हनुमान चालीसा का पाठ करते हैं।

पढ़ें :- इससे देश की छवि को कोई नुकसान नहीं, अडानी मामले में वित्त मंत्री का आया जवाब...

मकसद के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि सुबह लाउडस्पीकर पर अजान से लोगों की नींद में खलल पड़ती है और यह अहसास दिलाने के लिए यह किया जा रहा है। सुधीर सिंह ने कहा कि हम हिंदू-मुस्लिम एकता चाहते हैं, लेकिन अकेले हमने ही इसका ठेका नहीं लिया है। सुधीर सिंह ने कहा, ”पहले हम लोग सोकर उठते थे तो उस समय मानस मंदिर और अन्य मंदिरों पर वैदिक पाठ होते थे, हनुमान चालीसा का पाठ होता था। लेकिन इतना दबाव बनाया गया कि ये सब चीजें बंद हो गईं।

पढ़ें :- इंडस्ट्री ने खोया दिग्गज सितारा, लेजेंडरी सिंगर वाणी जयराम का हुआ निधन

यह सुप्रीम कोर्ट का आदेश था कि ध्वनि प्रदूषण नहीं होना चाहिए। हमने मंदिरों से भोंपू उतार दिए, इनके मस्जिदों पर भोंपू बढ़ते गए। आज स्थिति यह है कि सुबह साढ़े 4 बजे नींद खुल जाती है, अजान की आवाज से। हमने भी तय किया है कि जब वह लाउडस्पीकर पर अजान कर रहे हैं तो क्यों ना हम भी वैदिक मंत्रों और हनुमान चालीसा का पाठ करें। गौरतलब है कि पिछले दिनों महाराष्ट्र में मनसे प्रमुख राज ठाकरे ने मस्जिदों से लाउडस्पीकर हाटने की चेतावनी दी है। लाउडस्पीकर से अजान के विरोध में वहां हनुमान चालीसा का पाठ किया जा रहा है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...