अजय देवगन से कैंसर पीड़ित फैन की अपील- ना करें तम्बाकू का प्रचार

ajay devgan
अजय देवगन से कैंसर पीड़ित फैन की अपील- ना करें तम्बाकू का प्रचार

नई दिल्ली। बॉलीवुड एक्टर अजय देवगन कुछ तम्बाकू ब्रांड्स के विज्ञापन में नजर आते हैं। इसको लेकर कई बार उन्हें विरोध का सामना भी करना पड़ा है। लेकिन पहली बार एक कैंसर से पीड़त शख्स ने अजय देवगन से तम्बाकू का प्रचार ना करने की गुजारिश की है।

Ajay Devgn Cancer Patient Fan Request To No To Advertisement Tobacco :

40 वर्षीय नानकराम के परिजनों का कहना है कि वे अजय के प्रशंसक हैं और वही तंबाकू प्रोडक्ट चबाते थे, जिसका विज्ञापन उनके चहेते सुपरस्टार करते हैं। लेकिन अब उन्हें अहसास हुआ कि टोबैको ने उनकी जिंदगी बर्बाद कर दी।

राजस्थान की राजधानी जयपुर के 40 वर्षीय कैंसर पीड़ित मरीज नानकराम ने बॉलीवुड कलाकार अजय देवगन से समाज के हित में तम्बाकू उत्पादों का विज्ञापन नहीं करने की सार्वजनिक अपील की है। मरीज के परिजनों ने बताया कि वो सुपरस्टार अजय देवगन का बड़ा प्रशंसक है। शख्स उन उत्पादों का खूब प्रयोग करता था जिसका विज्ञापन देवगन ने किया है, मगर अब उसे अहसास हुआ है कि तम्बाकू ने उसकी और उसके परिवार की जिंदगी बर्बाद कर दी है।

नानकराम ने अजय देवगन के नाम के करीबन 1000 पम्पलेट छपवाया है जिसमें उन्होंने बताया कि कैसे वो और उसका परिवार टोबैको खाते थे। मरीज के बेटे ने पीटीआई से बात करते हुए बताया कि एक्टर का ऐड धीरे धीरे हर जगह फैमस हो रहा है और अब शहर के आस पास के लोग भी इसे खाना शुरू कर दिया है।

मेरे पिता टोबैको कुछ साल से खाना शुरू किया था और वो उसी ब्रांड को खाते थे जिसका ऐड अजय देवगन कर रहे हैं। मेरे पिता अजय देवगन से इंप्रेस थे लेकिन जब कैंसर की चपेट में आए तो उन्हें लगा कि इतने बड़े स्टार को इस तरह के प्रोडक्ट का ऐड नहीं करना चाहिए।

पम्पलेट के जरिए नानकराम ने कहा कि शराब, सिगरेट और टोबैको जो सेहत के लिए खराब है ऐसे में इस तरह के प्रोडक्ट को एक्टर को प्रमोट ना करें। दो बच्चों के पिता नानकराम पहले चाय की स्टाल लगाते थे। अब वो ना बोल पाते हैं और ना ही दौड़ सकते हैं इसलिए उनकी फैमिली जयपुर में घर-घर जाकर दूध बेचती है।

नई दिल्ली। बॉलीवुड एक्टर अजय देवगन कुछ तम्बाकू ब्रांड्स के विज्ञापन में नजर आते हैं। इसको लेकर कई बार उन्हें विरोध का सामना भी करना पड़ा है। लेकिन पहली बार एक कैंसर से पीड़त शख्स ने अजय देवगन से तम्बाकू का प्रचार ना करने की गुजारिश की है। 40 वर्षीय नानकराम के परिजनों का कहना है कि वे अजय के प्रशंसक हैं और वही तंबाकू प्रोडक्ट चबाते थे, जिसका विज्ञापन उनके चहेते सुपरस्टार करते हैं। लेकिन अब उन्हें अहसास हुआ कि टोबैको ने उनकी जिंदगी बर्बाद कर दी। राजस्थान की राजधानी जयपुर के 40 वर्षीय कैंसर पीड़ित मरीज नानकराम ने बॉलीवुड कलाकार अजय देवगन से समाज के हित में तम्बाकू उत्पादों का विज्ञापन नहीं करने की सार्वजनिक अपील की है। मरीज के परिजनों ने बताया कि वो सुपरस्टार अजय देवगन का बड़ा प्रशंसक है। शख्स उन उत्पादों का खूब प्रयोग करता था जिसका विज्ञापन देवगन ने किया है, मगर अब उसे अहसास हुआ है कि तम्बाकू ने उसकी और उसके परिवार की जिंदगी बर्बाद कर दी है। नानकराम ने अजय देवगन के नाम के करीबन 1000 पम्पलेट छपवाया है जिसमें उन्होंने बताया कि कैसे वो और उसका परिवार टोबैको खाते थे। मरीज के बेटे ने पीटीआई से बात करते हुए बताया कि एक्टर का ऐड धीरे धीरे हर जगह फैमस हो रहा है और अब शहर के आस पास के लोग भी इसे खाना शुरू कर दिया है। मेरे पिता टोबैको कुछ साल से खाना शुरू किया था और वो उसी ब्रांड को खाते थे जिसका ऐड अजय देवगन कर रहे हैं। मेरे पिता अजय देवगन से इंप्रेस थे लेकिन जब कैंसर की चपेट में आए तो उन्हें लगा कि इतने बड़े स्टार को इस तरह के प्रोडक्ट का ऐड नहीं करना चाहिए। पम्पलेट के जरिए नानकराम ने कहा कि शराब, सिगरेट और टोबैको जो सेहत के लिए खराब है ऐसे में इस तरह के प्रोडक्ट को एक्टर को प्रमोट ना करें। दो बच्चों के पिता नानकराम पहले चाय की स्टाल लगाते थे। अब वो ना बोल पाते हैं और ना ही दौड़ सकते हैं इसलिए उनकी फैमिली जयपुर में घर-घर जाकर दूध बेचती है।