1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. बच्चियों के साथ बलात्कार और हत्या जैसी अमानवीयता पर भड़के अखिलेश, कहा सरकार का असंवेदनशील रवैया बेहद निंदनीय

बच्चियों के साथ बलात्कार और हत्या जैसी अमानवीयता पर भड़के अखिलेश, कहा सरकार का असंवेदनशील रवैया बेहद निंदनीय

Akhilesh Furious At The Inhuman Like Rape And Murder Of Girls Said The Governments Insensitive Attitude Is Highly Condemnable

By आराधना शर्मा 
Updated Date

लखनऊ:  पूर्व सीएम और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव कि भाजपा के शासन में जनसामान्य पर चौतरफा मार पड़ रही है। दरअसल, एक तरफ कोरोना का प्रकोप बढ़ रहा है। 24 घंटे में इससे 18 लोगों की मौतें हुईं हैं, वहीं 1407 नए केस दर्ज हुए।

पढ़ें :- शाहजहांपुर में रेप के बाद बच्ची का घोंटा गला, अधमरी हालत में फेंका, चार दिन बाद अस्पताल ने किया भर्ती

इतना ही नहीं, अखिलेश ने कहा कि महंगाई की मार से हर कोई परेशान है। भाजपा सरकार बच्चियों के साथ बलात्कार और हत्या जैसे अमानवीय अपराधों पर रोक लगाने में अक्षम साबित हुई है। व्यापारी लुट रहे हैं। किसान जान गंवा रहे हैं लेकिन भाजपा नेताओं की दबंगई का कोई इलाज नहीं, उन्हें मनमानी करने की खुली छूट मिली हुई है।

इंसानियत को शर्मसार करने वाली घटना 

अखिलेश ने आगे कहा कि बस्ती में एक दलित बच्ची के साथ अपहरण के बाद बलात्कार और फिर हत्या की घटना इंसानियत को शर्मसार करने वाली है। 4 दिन पुलिस शिकायत पर बैठी रही। आए दिन होने वाली इन घटनाओं पर सरकार का असंवेदनशील रवैया बेहद निंदनीय है। बेटियों की सुरक्षा के नाम पर केवल खोखले दावों से कब सुरक्षित होंगी बेटियां। मुख्यमंत्री जी को इसकी जवाबदेही लेनी होगी।

अखिलेश ने आगे कहा कि मथुरा में व्यापारी अनिल अग्रवाल की बेरहमी से हत्या कर दी गई। भाजपा राज में व्यापारियों का जानमाल असुरक्षित है. व्यापारियों को सुरक्षा नहीं मिल रही है। राजधानी लखनऊ समेत राज्य के कई जनपदों में व्यापारी लूट, अपहरण और हत्या के शिकार हुए हैं। खुद सीएम के गृहजनपद में लूट और दुष्कर्म के कई मामले सामने आए हैं, लेकिन सीएम अब भी मौन हैं।

पढ़ें :- नई अबकारी नीति पर योगी सरकार ने लगाई मुहर, जानिए फायदें...

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...