अखिलेश राज में रहे मंत्री को अब मिली ‘आजीवन कारावास’ की सजा

लखनऊ। सपा सरकार में मंत्री रहे राम करन आर्य को हत्या के एक मामले में सोमवार को आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई है। इसके साथ ही 20 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया गया है। रामकरन आर्या को जिला जज बस्ती ने यह सजा सुनाई है। सजा सुनाए जाने के फौरन बाद रामकरन आर्या को पुलिस ने कस्टडी में ले लिया और जिला जेल भेज दिया है। बता दें कि पूर्व मंत्री रामकरन आर्या अखिलेश सरकार में खेलकूद एवं आबकारी मंत्री रहे थे।




याद दिला दें कि ये वही राम करन आर्य है जिन्होने विधानसभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी को राक्षस तथा कांग्रेस को छोटा शैतान कहा था। जिसके बाद सियासी गलियारों में विवाद पैदा हो गया था। राम करन सपा सरकार में आबकारी एवं खेलकूद राज्यमंत्री रहे है और अखिलेश यादव से हमेशा से इनके करीबी संबंध भी रहे है।



Akhilesh Ke Mantri Ko Ajeewan Karawas Ki Saja :

इनके खिलाफ डुमरियागंज से भाजपा के सांसद जगदम्बिका पाल के चचेरे भाई की शम्भू पाल की हत्या के मामले में साजिश रचने का मामला दर्ज किया गया था।  राम करन आर्य, उत्तर प्रदेश की 16वीं विधानसभा में विधायक और सपा सरकार में मंत्री थे। 2012 उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में इन्होंने उत्तर प्रदेश की बस्ती के महादेवा विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव जीता था।

लखनऊ। सपा सरकार में मंत्री रहे राम करन आर्य को हत्या के एक मामले में सोमवार को आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई है। इसके साथ ही 20 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया गया है। रामकरन आर्या को जिला जज बस्ती ने यह सजा सुनाई है। सजा सुनाए जाने के फौरन बाद रामकरन आर्या को पुलिस ने कस्टडी में ले लिया और जिला जेल भेज दिया है। बता दें कि पूर्व मंत्री रामकरन आर्या अखिलेश सरकार में खेलकूद एवं आबकारी मंत्री रहे थे। याद दिला दें कि ये वही राम करन आर्य है जिन्होने विधानसभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी को राक्षस तथा कांग्रेस को छोटा शैतान कहा था। जिसके बाद सियासी गलियारों में विवाद पैदा हो गया था। राम करन सपा सरकार में आबकारी एवं खेलकूद राज्यमंत्री रहे है और अखिलेश यादव से हमेशा से इनके करीबी संबंध भी रहे है। इनके खिलाफ डुमरियागंज से भाजपा के सांसद जगदम्बिका पाल के चचेरे भाई की शम्भू पाल की हत्या के मामले में साजिश रचने का मामला दर्ज किया गया था।  राम करन आर्य, उत्तर प्रदेश की 16वीं विधानसभा में विधायक और सपा सरकार में मंत्री थे। 2012 उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में इन्होंने उत्तर प्रदेश की बस्ती के महादेवा विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव जीता था।