गेस्ट हाउस कांड पर मायावती के फैसले का अखिलेश ने किया स्वागत, नोटबंदी पर मोदी सरकार को घेरा

akhilesh yadav
गेस्ट हाउस कांड पर मायावती के फैसले का अखिलेश ने किया स्वागत, नोटबंदी पर मोदी सरकार को घेरा

लखनऊ। गेस्ट हाउस कांड में मुलायम सिंह पर दर्ज मुकदमा वापस लेने के फैसले का अखिलेश यादव ने स्वागत किया है। मायावती के इस फैसले के बाद राजनीतिक हलचल तेज हो गयी है। वहीं, अखिलेश ने कहा कि, हमारे बीच कोई खटास नहीं है और ये एक स्वागत योग्य फैसला है।

Akhilesh Welcomed Mayawatis Decision On Guest House Scandal Modi Government Encircled On Demonetisation :

बता दें कि, लोकसभा चुनाव के दौरान अखिलेश यादव ने मायावती से गेस्ट हाउस कांड में नामजद मुलायम सिंह के खिलाफ दर्ज कराया गया मुकदमा वापस लेने का आग्रह किया था। शुक्रवार मीडिया को संबोधित करते हुए अखिलेश यादव ने नोटबंदी को लेकर मोदी सरकार पर हमला बोला।

उन्होंने कहा कि, नोटबंदी से व्यापार बर्बाद हो गए हैं। युवाओं की नौकरियां चली गई हैं। आतंकवाद और नक्सलवाद खत्म होने का दावा किया गया लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ। अखिलेश ने कहा कि लोगों के दुख और तकलीफें देखकर हम कह सकते हैं कि वो इस सरकार से छुटकारा पाना चाहते हैं और यूपी में 2022 में सपा की सरकार बनेगी।

अखिलेश ने कहा कि, बैंकिंग सिस्टम को बर्बाद कर दिया गया है। सरकार को युवाओं को रोजगार देने पर ध्यान लगाना चाहिए। उन्होंने सपा कार्यालय में नोटबंदी के दौरान पैदा हुए बच्चे खजांची का केक काटकर जन्मदिन मनाया और उसे शुभकामनाएं दी। इसके साथ ही यूपीसीएल में हुए घोटाले को लेकर उन्होंने योगी सरकार और ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा पर भी हमला किया।

लखनऊ। गेस्ट हाउस कांड में मुलायम सिंह पर दर्ज मुकदमा वापस लेने के फैसले का अखिलेश यादव ने स्वागत किया है। मायावती के इस फैसले के बाद राजनीतिक हलचल तेज हो गयी है। वहीं, अखिलेश ने कहा कि, हमारे बीच कोई खटास नहीं है और ये एक स्वागत योग्य फैसला है। बता दें कि, लोकसभा चुनाव के दौरान अखिलेश यादव ने मायावती से गेस्ट हाउस कांड में नामजद मुलायम सिंह के खिलाफ दर्ज कराया गया मुकदमा वापस लेने का आग्रह किया था। शुक्रवार मीडिया को संबोधित करते हुए अखिलेश यादव ने नोटबंदी को लेकर मोदी सरकार पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि, नोटबंदी से व्यापार बर्बाद हो गए हैं। युवाओं की नौकरियां चली गई हैं। आतंकवाद और नक्सलवाद खत्म होने का दावा किया गया लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ। अखिलेश ने कहा कि लोगों के दुख और तकलीफें देखकर हम कह सकते हैं कि वो इस सरकार से छुटकारा पाना चाहते हैं और यूपी में 2022 में सपा की सरकार बनेगी। अखिलेश ने कहा कि, बैंकिंग सिस्टम को बर्बाद कर दिया गया है। सरकार को युवाओं को रोजगार देने पर ध्यान लगाना चाहिए। उन्होंने सपा कार्यालय में नोटबंदी के दौरान पैदा हुए बच्चे खजांची का केक काटकर जन्मदिन मनाया और उसे शुभकामनाएं दी। इसके साथ ही यूपीसीएल में हुए घोटाले को लेकर उन्होंने योगी सरकार और ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा पर भी हमला किया।