पिता के लिए श्रवण कुमार बनी ज्योति को अखिलेश यादव ने दिए एक लाख रूपये, निभाया वादा

Jyoti
पिता के लिए श्रवण कुमार बनी ज्योति को अखिलेश यादव ने दिए एक लाख रूपये, निभाया वादा

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के पूर्व सीएम अखिलेश यादव एक बार फिर अपने वादों को धनी निकले. उन्होने आज साईकल गर्ल कही जाने वाले बिहार की ज्योति कुमारी के खाते में एक लाख की सहायता राशि भेज दी है। कोरोना महामारी के दौर में महानगरों से प्रवासी मजदूरों का अपने गृह राज्यों की तरह लौटने का सिलसिला लगातार जारी है. सरकार की तरह से नाकाफी व्यवस्था होने के कारण प्रवासी मजदूरों का अपने गृह राज्यों की तरफ पैदल ही हजारों किलोमीटर का सफर करने की तमाम तस्वीरें सामने आ रही हैं.

Akhilesh Yadav Gave A Lakh Rupees To Jyoti Who Became Shravan Kumar For His Father Kept His Promise :

इसी क्रम में दरभंगा की 15 वर्षीय ज्योति अपने बीमार पिता को साइकिल पर बिठाकर गुरुग्राम से दरभंगा 1200 किमी तक का सफर तय कर अपने गाँव सिरहुल्ली पहुँची. ज्योति की इस हिम्मत की पुरे देश में सराहना हो रही है, तो वही समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ज्योति को एक लाख रुपए की आर्थिक मदद देने की घोषणा की.

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने लिखा था कि “सरकार से हारकर एक 15 वर्षीय लड़की निकल पड़ी है अपने घायल पिता को लेकर सैकड़ों मील के सफ़र पर… दिल्ली से दरभंगा. आज देश की हर नारी और हम सब उसके साथ हैं. हम उसके साहस का अभिनंदन करते हुए उस तक 1 लाख रु. की मदद पहुँचाएंगे.”

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के पूर्व सीएम अखिलेश यादव एक बार फिर अपने वादों को धनी निकले. उन्होने आज साईकल गर्ल कही जाने वाले बिहार की ज्योति कुमारी के खाते में एक लाख की सहायता राशि भेज दी है। कोरोना महामारी के दौर में महानगरों से प्रवासी मजदूरों का अपने गृह राज्यों की तरह लौटने का सिलसिला लगातार जारी है. सरकार की तरह से नाकाफी व्यवस्था होने के कारण प्रवासी मजदूरों का अपने गृह राज्यों की तरफ पैदल ही हजारों किलोमीटर का सफर करने की तमाम तस्वीरें सामने आ रही हैं. इसी क्रम में दरभंगा की 15 वर्षीय ज्योति अपने बीमार पिता को साइकिल पर बिठाकर गुरुग्राम से दरभंगा 1200 किमी तक का सफर तय कर अपने गाँव सिरहुल्ली पहुँची. ज्योति की इस हिम्मत की पुरे देश में सराहना हो रही है, तो वही समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ज्योति को एक लाख रुपए की आर्थिक मदद देने की घोषणा की. उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने लिखा था कि “सरकार से हारकर एक 15 वर्षीय लड़की निकल पड़ी है अपने घायल पिता को लेकर सैकड़ों मील के सफ़र पर… दिल्ली से दरभंगा. आज देश की हर नारी और हम सब उसके साथ हैं. हम उसके साहस का अभिनंदन करते हुए उस तक 1 लाख रु. की मदद पहुँचाएंगे.”