बसपा ने समर्थन दिया, तब से हम सांप और छछुंदर हो गये: अखिलेश यादव

Akhilesh Yadav
मगहर में संत कबीर के लिए नहीं चुनाव के लिए वोट बटोरने गए पीएम मोदी: अखिलेश यादव

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में दो सीटों पर होने जा रहे लोकसभा उपचुनावों के लिए राजनीतिक पार्टियां अपना दमखम लगाने में जुट गयी हैं। गोरखपुर लोकसभा उपचुनाव के लिए समाजवादी पार्टी(सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव बुधवार को एक जनसभा संबोधित करने पहुंचे। यहां के चंपा देवी पार्क में जनसभा को संबोधित अखिलेश यादव ने कहा, “हम लोग अब सांप और छछुंदर बन गये, जो लोग सांप और छछुंदर की बात करते हैं, उन्हे सदन में गूंगा बना देखा है, आंसू छलकते देखा है। जब से बसपा ने समर्थन दिया है, तब से हम सांप और छछुंदर हो गये हैं।”

Akhilesh Yadav In Election Meeting Of Gorakhpur :

सीएम योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए अखिलेश ने कहा, “वह कहते हैं कि हिंदू हैं। अगर वह हिंदू हैं तो हम क्या हैं? अगर हम हिंदू नहीं हैं तो क्या पिछड़े और दलित हैं? अखिलेश ने पूछा कि वह बता दें कि हिन्दू की परिभाषा क्या है?” कार्यकर्ताओं का आभार जताते हुए अखिलेश ने कहा कि ऐसा मौका दोबारा नहीं मिलेगा। यहां की जीत का संदेश पूरे देश में जाएगा। इसलिए तीन दिनों तक महात्मा गांधी के विचारों के अनुसार न देखना है, न सुनना और न ही किसी बहकावे में आना है।

अखिलेश ने कहा कि मैं खुद इंसेफ्लाइटिस से मृतक के परिजनों से मिला। आक्सीजन कांड के मृतक के परिजनों को हमने मुआवजा दिया। ये लोग अस्पताल को आक्सीजन नहीं दे पाये। पार्टी के खजाने से हमने मदद की। हमने गोरखपुर मेडिकल कालेज को 500 बेड का अस्पताल दिया। हमने इंसेफ्लाइटिस वार्ड बनवा दिया। गोरखपुर-देवरिया-सलेमपुर सड़क दी, जिस पर काम बंद है।

अखिलेश ने कहा, “बच्चे मरे तो मुख्यमंत्री कह रहे थे कि बच्चों के इलाज की जिम्मेदारी मेरी नहीं है। इनके मंत्री बोले इस मौसम में मरते ही हैं। इनके राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि इससे हमारा कोई लेना-देना नहीं है। हमारा वादा है कि एसपी सरकार आई, तो बच्चों की मौत की जांच कराएगी और जो भी दोषी होगा उस पर ऐक्शन होगा।”

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में दो सीटों पर होने जा रहे लोकसभा उपचुनावों के लिए राजनीतिक पार्टियां अपना दमखम लगाने में जुट गयी हैं। गोरखपुर लोकसभा उपचुनाव के लिए समाजवादी पार्टी(सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव बुधवार को एक जनसभा संबोधित करने पहुंचे। यहां के चंपा देवी पार्क में जनसभा को संबोधित अखिलेश यादव ने कहा, "हम लोग अब सांप और छछुंदर बन गये, जो लोग सांप और छछुंदर की बात करते हैं, उन्हे सदन में गूंगा बना देखा है, आंसू छलकते देखा है। जब से बसपा ने समर्थन दिया है, तब से हम सांप और छछुंदर हो गये हैं।"सीएम योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए अखिलेश ने कहा, "वह कहते हैं कि हिंदू हैं। अगर वह हिंदू हैं तो हम क्या हैं? अगर हम हिंदू नहीं हैं तो क्या पिछड़े और दलित हैं? अखिलेश ने पूछा कि वह बता दें कि हिन्दू की परिभाषा क्या है?" कार्यकर्ताओं का आभार जताते हुए अखिलेश ने कहा कि ऐसा मौका दोबारा नहीं मिलेगा। यहां की जीत का संदेश पूरे देश में जाएगा। इसलिए तीन दिनों तक महात्मा गांधी के विचारों के अनुसार न देखना है, न सुनना और न ही किसी बहकावे में आना है।अखिलेश ने कहा कि मैं खुद इंसेफ्लाइटिस से मृतक के परिजनों से मिला। आक्सीजन कांड के मृतक के परिजनों को हमने मुआवजा दिया। ये लोग अस्पताल को आक्सीजन नहीं दे पाये। पार्टी के खजाने से हमने मदद की। हमने गोरखपुर मेडिकल कालेज को 500 बेड का अस्पताल दिया। हमने इंसेफ्लाइटिस वार्ड बनवा दिया। गोरखपुर-देवरिया-सलेमपुर सड़क दी, जिस पर काम बंद है।अखिलेश ने कहा, "बच्चे मरे तो मुख्यमंत्री कह रहे थे कि बच्चों के इलाज की जिम्मेदारी मेरी नहीं है। इनके मंत्री बोले इस मौसम में मरते ही हैं। इनके राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि इससे हमारा कोई लेना-देना नहीं है। हमारा वादा है कि एसपी सरकार आई, तो बच्चों की मौत की जांच कराएगी और जो भी दोषी होगा उस पर ऐक्शन होगा।"