अब आ गया है चौकीदार को हटाने का वक़्त : अखिलेश यादव

akhilesh-lakhimpur
अब आ गया है चौकीदार को हटाने का वक़्त : अखिलेश यादव

लखीमपुर-खीरी। चौकीदार को हटाने का वक़्त आ गया है अब देश को नया प्रधानमंत्री चाहिए और कोई भी परिवार ये नही चाहता कि उसका बेटा चौकीदार बने। यह बयान यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री व समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने लखीमपुर खीरी में मीडिया से रुबरु होकर दिया। अखिलेश लखीमपुर में गठबंधन प्रत्याशी पूर्वी वर्मा व अरशद सिद्दीकी के समर्थन में आयोजित चुनावी जनसभा में शामिल होने आए थे। अखिलेश ने कहा कि मैं चाहता हूं अगला प्रधानमंत्री उत्तर प्रदेश से हो। विपक्ष के पास कई चॉइस है भाजपा के पास प्रधानमंत्री के लिए कोई चॉइस नही है।

Akhilesh Yadav In Lakhimpur Khiri :

अखिलेश ने यह भी कहा कि रंगों की राजनीति हो रही है, सबसे अच्छा रंग लाल हरा नीला है। भाजपा के लोगों की भाषा बदल गई है क्योंकि जो हार रहा होता है उसकी भाषा बदल जाती है। चुनाव आयोग को जिनकी भाषा खराब है उनके खिलाफ सख्त कार्यवाही करनी चाहिए।

मीडिया से रूबरू होने के पूर्व अखिलेश ने शहर के जीआईसी मैदान में आयोजित चुनावी जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि भाजपा की वजह से गर्मी में चुनाव हो रहा है। शहरों के नाम बदलने और उद्घाटन के चक्कर में दो महीने चुनाव को आगे बढ़ा दिया गया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री दलों के गठबंधन को महा मिलावट कह रहे हैं, जबकि खुद का 38 दलों के साथ गठबंधन है तो बताइए कितनी बड़ी मिलावट है। अखिलेश ने भाजपा का नया नाम भयंकर जुमला पार्टी बताया है।

अखिलेश ने कहा कि जैसे जानवरों को गला घोट बीमारी होती है वैसे ही भाजपा को काम रोकू बीमारी है। आज भाजपा सरकार ने दो गड्ढों वाला शौचालय बना दिया लेकिन पानी नहीं दिया। अखिलेश ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेसी देश की नहीं अपनी चिंता कर रहे है। कांग्रेस 2019 के लिए नहीं 2022 के लिए इलेक्शन लड़ रही है।अखिलेश ने आगे कहा कि सीमा पर किसान के बेटे तैनात है। सीमा की सुरक्षा भाजपा की वजह से नहीं हमारे जवानों की वजह से है।

अखिलेश ने यह भी कहा कि सरकार ने यूरिया की बोरी से भी 5 किलो यूरिया चोरी कर ली तथा गैस सिलेंडर खाली पड़े है वहां भी चोरी की जा रही है। मोदी सरकार में आम आदमी का पैसा लेकर तमाम उद्योगपति देश छोड़कर भाग गए है। भाजपा के लोग अब अच्छे दिन और काला धन की बात नहीं करते है। अखिलेश ने चुनावी जनसभा में बोलते हुए मंच से ही में महोली और संत कबीर नगर की घटना पर चुटकी ली और कहा कि भाजपा की कोई नेत्री चप्पल निकाल लेती है और कोई अपनी पार्टी के ही नेता पर जूतों की बरसात कर देता है। उन्होंने चुनाव में महागठबंधन के दोनों प्रत्याशियों को भारी बहुमत से जिताने की अपील की।

रिपोर्ट- एस डी त्रिपाठी
  

लखीमपुर-खीरी। चौकीदार को हटाने का वक़्त आ गया है अब देश को नया प्रधानमंत्री चाहिए और कोई भी परिवार ये नही चाहता कि उसका बेटा चौकीदार बने। यह बयान यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री व समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने लखीमपुर खीरी में मीडिया से रुबरु होकर दिया। अखिलेश लखीमपुर में गठबंधन प्रत्याशी पूर्वी वर्मा व अरशद सिद्दीकी के समर्थन में आयोजित चुनावी जनसभा में शामिल होने आए थे। अखिलेश ने कहा कि मैं चाहता हूं अगला प्रधानमंत्री उत्तर प्रदेश से हो। विपक्ष के पास कई चॉइस है भाजपा के पास प्रधानमंत्री के लिए कोई चॉइस नही है। अखिलेश ने यह भी कहा कि रंगों की राजनीति हो रही है, सबसे अच्छा रंग लाल हरा नीला है। भाजपा के लोगों की भाषा बदल गई है क्योंकि जो हार रहा होता है उसकी भाषा बदल जाती है। चुनाव आयोग को जिनकी भाषा खराब है उनके खिलाफ सख्त कार्यवाही करनी चाहिए। मीडिया से रूबरू होने के पूर्व अखिलेश ने शहर के जीआईसी मैदान में आयोजित चुनावी जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि भाजपा की वजह से गर्मी में चुनाव हो रहा है। शहरों के नाम बदलने और उद्घाटन के चक्कर में दो महीने चुनाव को आगे बढ़ा दिया गया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री दलों के गठबंधन को महा मिलावट कह रहे हैं, जबकि खुद का 38 दलों के साथ गठबंधन है तो बताइए कितनी बड़ी मिलावट है। अखिलेश ने भाजपा का नया नाम भयंकर जुमला पार्टी बताया है। अखिलेश ने कहा कि जैसे जानवरों को गला घोट बीमारी होती है वैसे ही भाजपा को काम रोकू बीमारी है। आज भाजपा सरकार ने दो गड्ढों वाला शौचालय बना दिया लेकिन पानी नहीं दिया। अखिलेश ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेसी देश की नहीं अपनी चिंता कर रहे है। कांग्रेस 2019 के लिए नहीं 2022 के लिए इलेक्शन लड़ रही है।अखिलेश ने आगे कहा कि सीमा पर किसान के बेटे तैनात है। सीमा की सुरक्षा भाजपा की वजह से नहीं हमारे जवानों की वजह से है। अखिलेश ने यह भी कहा कि सरकार ने यूरिया की बोरी से भी 5 किलो यूरिया चोरी कर ली तथा गैस सिलेंडर खाली पड़े है वहां भी चोरी की जा रही है। मोदी सरकार में आम आदमी का पैसा लेकर तमाम उद्योगपति देश छोड़कर भाग गए है। भाजपा के लोग अब अच्छे दिन और काला धन की बात नहीं करते है। अखिलेश ने चुनावी जनसभा में बोलते हुए मंच से ही में महोली और संत कबीर नगर की घटना पर चुटकी ली और कहा कि भाजपा की कोई नेत्री चप्पल निकाल लेती है और कोई अपनी पार्टी के ही नेता पर जूतों की बरसात कर देता है। उन्होंने चुनाव में महागठबंधन के दोनों प्रत्याशियों को भारी बहुमत से जिताने की अपील की।

रिपोर्ट- एस डी त्रिपाठी