ईवीएम को लेकर अखिलेश यादव ने उठाये सवाल, कहा ईवीएम खराब है या फिर बीजेपी को पड़ रहा है वोट

akhilesh yadav
ईवीएम को लेकर अखिलेश यादव ने उठाये सवाल, कहा ईवीएम खराब है या फिर बीजेपी को पड़ रहा है वोट

लखनऊ। लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण मे उत्तर प्रदेश की दस सीटों पर मतदान हो रहा है। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ईवीएम को लेकर बड़ा सवाल उठाया है। उन्होंने कहा कि पूरे देश में ईवीएम या तो गड़बड़ है या फिर बीजेपी को वोट डाल रही है। जिलाधिकारी का कहना है कि ईवीएम के संचालन के लिए मतदान अधिकारी अप्रशिक्षित हैं। 350 से ज्यादा ईवीएम बदली गई हैं। 50 हजार करोड़ के चुनाव कार्यक्रम में यह एक आपराधिक लापरवाही है। क्या हमें जिलाधिकारी पर विश्वास करना चाहिए, या कुछ और बड़ी गडबड़ी है।

Akhilesh Yadav Raised Question About Evms Disturbances :

पूर्व मुख्यमंत्री और सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ईवीएम को लेकर बड़ा सवाल खड़ा किया है। उन्होंने कहा कि इतनी बड़ी मात्रा में ईवीएम खराब हो रहा है। इसको लेकर उन्होंने बड़ी गड़बड़ी की आशंका जताई है। बता दें कि यूपी की दस सीटों पर मतदान जारी है। इस बीच कई जगहों पर ईवीएम के खराब होने की शिकायत मिली है।

रामपुर में आजम खान के बेटे ने भी ईवीएम को लेकर सवाल उठाया है। वहीं समाजवादी पार्टी का एक दल चुनाव आयोग में इसकी शिकायत लेकर पहुंचा है। उनका आरोप है कि ईवीएम में ​इतनी बड़ी गड़बड़ी कैसे हो रही है। तीसरे चरण में सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव (मैनपुरी) के साथ-साथ आजम खान (रामपुर), उनकी प्रतिद्वंद्वी जया प्रदा, शिवपाल सिंह यादव (फिरोजाबाद), वरुण गांधी (पीलीभीत) और संतोष गंगवार (बरेली) जैसे दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव पर है।

तीसरे चरण में 10 सीटों पर मुख्य मुकाबला सपा-बसपा-रालोद गठबंधन और भाजपा के बीच ही होता दिख रहा है। मगर, कुछ सीटों पर कांग्रेस और प्रगतिशील समाजवादी पार्टी-लोहिया मुकाबले को त्रिकोणीय बनाते दिख रहे हैं। तीसरे चरण में 96,20,644 पुरुषों और 81,89,378 महिलाओं समेत कुल 1,78,10,946 मतदाता 120 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला करेंगे।

लखनऊ। लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण मे उत्तर प्रदेश की दस सीटों पर मतदान हो रहा है। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ईवीएम को लेकर बड़ा सवाल उठाया है। उन्होंने कहा कि पूरे देश में ईवीएम या तो गड़बड़ है या फिर बीजेपी को वोट डाल रही है। जिलाधिकारी का कहना है कि ईवीएम के संचालन के लिए मतदान अधिकारी अप्रशिक्षित हैं। 350 से ज्यादा ईवीएम बदली गई हैं। 50 हजार करोड़ के चुनाव कार्यक्रम में यह एक आपराधिक लापरवाही है। क्या हमें जिलाधिकारी पर विश्वास करना चाहिए, या कुछ और बड़ी गडबड़ी है। पूर्व मुख्यमंत्री और सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ईवीएम को लेकर बड़ा सवाल खड़ा किया है। उन्होंने कहा कि इतनी बड़ी मात्रा में ईवीएम खराब हो रहा है। इसको लेकर उन्होंने बड़ी गड़बड़ी की आशंका जताई है। बता दें कि यूपी की दस सीटों पर मतदान जारी है। इस बीच कई जगहों पर ईवीएम के खराब होने की शिकायत मिली है। रामपुर में आजम खान के बेटे ने भी ईवीएम को लेकर सवाल उठाया है। वहीं समाजवादी पार्टी का एक दल चुनाव आयोग में इसकी शिकायत लेकर पहुंचा है। उनका आरोप है कि ईवीएम में ​इतनी बड़ी गड़बड़ी कैसे हो रही है। तीसरे चरण में सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव (मैनपुरी) के साथ-साथ आजम खान (रामपुर), उनकी प्रतिद्वंद्वी जया प्रदा, शिवपाल सिंह यादव (फिरोजाबाद), वरुण गांधी (पीलीभीत) और संतोष गंगवार (बरेली) जैसे दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव पर है। तीसरे चरण में 10 सीटों पर मुख्य मुकाबला सपा-बसपा-रालोद गठबंधन और भाजपा के बीच ही होता दिख रहा है। मगर, कुछ सीटों पर कांग्रेस और प्रगतिशील समाजवादी पार्टी-लोहिया मुकाबले को त्रिकोणीय बनाते दिख रहे हैं। तीसरे चरण में 96,20,644 पुरुषों और 81,89,378 महिलाओं समेत कुल 1,78,10,946 मतदाता 120 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला करेंगे।