1. हिन्दी समाचार
  2. अखिलेश यादव ने ठुकराया प्रसपा से गठबंधन का प्रस्ताव, कहा, अकेले लड़ेंगे विधानसभा चुनाव

अखिलेश यादव ने ठुकराया प्रसपा से गठबंधन का प्रस्ताव, कहा, अकेले लड़ेंगे विधानसभा चुनाव

Akhilesh Yadav Turned Down Proposal Of Alliance With Praspa Said He Will Contest Assembly Elections Alone

By बलराम सिंह 
Updated Date

प्रयागराज। समाजवादी कुनबे में फिलहाल तो सुलह के आसार नहीं दिख रहे हैं। सपा मुखिया और यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अपने चाचा शिवपाल सिंह यादव का गठबंधन का प्रस्ताव ठुकरा दिया है। अखिलेश यादव को प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) से गठबंधन मंजूर नहीं है।

पढ़ें :- सीएम योगी ने पीड़िता के पिता से की बात, आर्थिक मदद के साथ परिवार के सदस्य को नौकरी और घर देने का ऐलान

प्रयागराज में समाजवादी पार्टी की पूर्व विधायक विजमा यादव की बेटी की ज्योति यादव विवाह समारोह में पहुंचे सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने केपी कालेज मैदान में विजमा यादव को बेटी की शादी की बधाई दी। इस मौके पर अखिलेश यादव ने चाचा शिवपाल के गठबंधन ऑफर को एक सिरे से खारिज कर दिया।

अखिलेश यादव ने कहा कि हम किसी से गठबंधन नहीं करेंगे। 2022 में सपा अकेले ही चुनाव लड़कर सरकार बनाएगी। प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया से गठबंधन पर अखिलेश यादव ने कहा कि अभी बहुत समय है। हमारी पार्टी और कार्यकर्ता सक्षम हैं। अखिलेश ने दावा किया कि 2022 में बिना गठबंधन के उत्तर प्रदेश में सरकार बनाएंगे। उसकी तैयारियों में समाजवादी पार्टी लगी हुई है। हर कार्यकर्ता विधानसभा उपचुनाव के परिणाम के बाद बेहद उत्साह में है।

अखिलेश यादव ने कहा कि प्रदेश सरकार में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के बीच बर्चस्व की जंग चल रही है। जिन मुख्यमंत्री ने उप मुख्यमंत्री की कुर्सी छीन ली थी आज उन्हीं का काम रोका जा रहा है।अखिलेश यादव ने कहा कि शिक्षा और मेडिकल के क्षेत्र में भाजपा लाभ के लिए संस्थाओं को खराब कर रही है। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि प्रदेश सरकार योजनाओं के केवल नाम बदल रही है।

पढ़ें :- महिला सुरक्षा को लेकर सड़क से संसद तक हंगामा करने वाले आखिर हाथरस केस पर क्यों हैं मौन?

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...