लखनऊ में CAA के खिलाफ चल रहे धरने में पहुंची अखिलेश यादव की बेटी टीना

teena yadav
लखनऊ में CAA के खिलाफ चल रहे धरने में पहुंची अखिलेश यादव की बेटी टीना

नई दिल्ली। लखनऊ के घंटाघर पर नागरिकता संशोधन कानून को वापस लिए जाने के लिए महिलाओं का प्रदर्शन आज भी जारी है। इसी बीच पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की बेटी टीना यादव भी अपने दोस्तों के साथ धरने पर पहुंची थी। टीना को वहां देख सभी लोग हैरान हो गए और चारों तरफ उन्हीं की चर्चा होने लगी।

Akhileshs Daughter Tina Arrives In Lucknow In Protest Against Caa :

नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में धरना दे रही महिलाओं के खिलाफ सोमवार रात को मुकदमा भी दर्ज कराया गया है, इसके बाद भी इनका धरना-प्रदर्शन जारी है। तीन मुकदमों में 150 अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। इसमें मशहूर शायर मुनव्वर राणा की बेटियों सुमैया राणा और फोजिया राणा के खिलाफ भी एफआईआर लिखी गई।

इनके अलावा पुलिस की एफआईआर में सैकड़ों अज्ञात लोगों का जिक्र है। पुलिस की कार्रवाई पर प्रदर्शनकारियों ने कहा कि हम कोर्ट जाएंगे। लखनऊ पुलिस ने धारा 147 के उल्लंघन को लेकर 18 नामजद लोगों पर एफआईआर दर्ज की है। लखनऊ में महिलाएं 17 जनवरी से ही घंटा घर के नीचे नागरिकता कानून और एनआरसी के खिलाफ प्रदर्शन कर रही थीं।

इसके बाद भी मंगलवार सुबह घंटा घर पर महिलाओं ने प्रदर्शन किया। प्रदर्शन कर रहीं महिलाओं ने सीएए कानून को वापस लेने की मांग की। सीएए और एनआरसी के विरोध में पुराने लखनऊ में महिलाओं का प्रदर्शन शुक्रवार को शुरू हुआ था। बड़ी संख्या में महिलाएं दिल्ली के शाहीन बाग की तर्ज पर पुराने लखनऊ स्थित घंटाघर के सामने प्रदर्शन कर रही हैं। उनके साथ बच्चे भी हैं। इन महिलाओं का कहना है कि सरकार जब तक सीएए और एनआरसी को वापस नहीं लेती है, तब तक वह अपना धरना समाप्त नहीं करेंगी।

टीना को अपने बीच पाकर बढ़ गया हौसला
घंटाघर में महिलाएं सीएए और एनआरसी का विरोध कर रही हैं। इनके बीच अखिलेश यादव की बेटी टीना भी पहुंची थीं। नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में ऐतिहासिक हुसैनाबाद घंटाघर पर हो रहे प्रर्दशन के समर्थन में पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की बेटी टीना यादव भी उतर गई हैं। टीना यादव ने वहां धरनास्थल पर पहुंचकर सबको चौंका दिया। इस दौरान धरने पर बैठी बच्चियां टीना के साथ सेल्फी लेती नजर आईं। टीना 18 जनवरी को धरनास्थल पर गई थीं, लेकिन फोटो अब वायरल हुआ है।

नई दिल्ली। लखनऊ के घंटाघर पर नागरिकता संशोधन कानून को वापस लिए जाने के लिए महिलाओं का प्रदर्शन आज भी जारी है। इसी बीच पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की बेटी टीना यादव भी अपने दोस्तों के साथ धरने पर पहुंची थी। टीना को वहां देख सभी लोग हैरान हो गए और चारों तरफ उन्हीं की चर्चा होने लगी। नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में धरना दे रही महिलाओं के खिलाफ सोमवार रात को मुकदमा भी दर्ज कराया गया है, इसके बाद भी इनका धरना-प्रदर्शन जारी है। तीन मुकदमों में 150 अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। इसमें मशहूर शायर मुनव्वर राणा की बेटियों सुमैया राणा और फोजिया राणा के खिलाफ भी एफआईआर लिखी गई। इनके अलावा पुलिस की एफआईआर में सैकड़ों अज्ञात लोगों का जिक्र है। पुलिस की कार्रवाई पर प्रदर्शनकारियों ने कहा कि हम कोर्ट जाएंगे। लखनऊ पुलिस ने धारा 147 के उल्लंघन को लेकर 18 नामजद लोगों पर एफआईआर दर्ज की है। लखनऊ में महिलाएं 17 जनवरी से ही घंटा घर के नीचे नागरिकता कानून और एनआरसी के खिलाफ प्रदर्शन कर रही थीं। इसके बाद भी मंगलवार सुबह घंटा घर पर महिलाओं ने प्रदर्शन किया। प्रदर्शन कर रहीं महिलाओं ने सीएए कानून को वापस लेने की मांग की। सीएए और एनआरसी के विरोध में पुराने लखनऊ में महिलाओं का प्रदर्शन शुक्रवार को शुरू हुआ था। बड़ी संख्या में महिलाएं दिल्ली के शाहीन बाग की तर्ज पर पुराने लखनऊ स्थित घंटाघर के सामने प्रदर्शन कर रही हैं। उनके साथ बच्चे भी हैं। इन महिलाओं का कहना है कि सरकार जब तक सीएए और एनआरसी को वापस नहीं लेती है, तब तक वह अपना धरना समाप्त नहीं करेंगी। टीना को अपने बीच पाकर बढ़ गया हौसला घंटाघर में महिलाएं सीएए और एनआरसी का विरोध कर रही हैं। इनके बीच अखिलेश यादव की बेटी टीना भी पहुंची थीं। नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में ऐतिहासिक हुसैनाबाद घंटाघर पर हो रहे प्रर्दशन के समर्थन में पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की बेटी टीना यादव भी उतर गई हैं। टीना यादव ने वहां धरनास्थल पर पहुंचकर सबको चौंका दिया। इस दौरान धरने पर बैठी बच्चियां टीना के साथ सेल्फी लेती नजर आईं। टीना 18 जनवरी को धरनास्थल पर गई थीं, लेकिन फोटो अब वायरल हुआ है।