आखिर क्यूँ लड़की अपने ‘रेपिस्ट’ को सजा से बचाना चाहती है?

गोरखपुर। यूपी के गोरखपुर में एक युवती अपने ही रेपिस्ट को सजा से बचाने के लिए सीएम योगी आदित्यनाथ से दो बार मुलाकात कर चुकी हैं। जानकारी के मुताबिक बुधवार को युवती ने सीओ सर्किल राजेश भारती से मुलाकात की। पुलिस ने लड़की को कहा कि अपने ब्वॉयफ्रेंड को सरेंडर करने के लिए कहे, नहीं तो उसके घर जाकर कुर्की करवाई जाएगी।




गोरखपुर जिले के चिलुआताल इलाके की रहने वाली युवती ने इसी साल मार्च में अपने ब्वॉयफ्रेंड के खिलाफ रेप का केस फाइल किया था। युवती का आरोप था की युवक ने उससे शादी का झांसा देकर कई बार उसके साथ शारीरिक संबंध बनाए। 4 साल के रिलेशनशिप में वो दो बार प्रेग्नेंट हुई तो उसका अबॉर्शन करवाया गया। जिसके बाद पिपराइच थाने में मार्च महीने में आरोपी युवक अजय के खिलाफ केस दर्ज किया गया। केस दर्ज करवाते समय युवती के परिजनों ने उसे नाबालिग बताया था। मेडिकल एग्जामिनेशन के बाद कोर्ट में 164 सीआरपीसी के तहत युवती ने अपना रिटन स्टेटमेंट भी दर्ज कराया। पुलिस ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुये अजय के खिलाफ अरेस्ट वारेंट निकाल दिया हालांकि अब पुलिस आरोपी को तलाश रही हैं।

नहीं देख सकती जेल में-




युवती ने सीएम योगी आदित्यनाथ से ब्वॉयफ्रेंड अजय के खिलाफ कार्रवाई रोकने की गुहार लगाने के लिए पहली बार बीते 3 अप्रैल को मुलाकात की। युवती का मानना है की नासमझी में उसने अपने ब्वॉयफ्रेंड अजय के खिलाफ एफआईआर करवा दी थी। युवती के मुताबिक वो अजय से प्यार करती है और उसे जेल में नहीं देख सकती हैं।

युवती ने पूछताछ में बताया कि अजय को शक था की मेरा किसी अन्य आदमी से चक्कर चल रहा है, जिसके बाद से अजय ने मुझसे बात करना बंद कर दिया था। मार्च के महीने में उसके घर जाकर मैंने जहर खाकर अपने हाथ की नस काट ली थी। साथ ही कुछ शुभचिंतकों के कहने पर अजय के खिलाफ केस दर्ज करवाया था। उधर पुलिस का कहना है कि “मामले में चार्जशीट लग चुकी है। अब इसका फैसला कोर्ट में ही संभव है। हमने लड़की से कहा है कि वो ब्वॉयफ्रेंड से सरेंडर करने को कहा है।

Loading...