1. हिन्दी समाचार
  2. एस्ट्रोलोजी
  3. Akhurath Chaturthi 2021: अखुरथ संकष्टी चतुर्थी है 22 दिसंबर को , भगवान गणेश जी की पूजा से होगा कल्याण

Akhurath Chaturthi 2021: अखुरथ संकष्टी चतुर्थी है 22 दिसंबर को , भगवान गणेश जी की पूजा से होगा कल्याण

गणेश जी को समर्पित अखुरथ यानी संकष्टी चतुर्थी 22 दिसंबर बुधवार के दिन पड़ रही ​है।  इस दिन गणेश जी की विधिवत तरीके से पूजा-अर्चना की जाती है।

By अनूप कुमार 
Updated Date

Akhurath Chaturthi 2021: गणेश जी को समर्पित अखुरथ यानी संकष्टी चतुर्थी 22 दिसंबर बुधवार के दिन पड़ रही ​है।  इस दिन गणेश जी की विधिवत तरीके से पूजा-अर्चना की जाती है। इस दिन विधि-विधान से गणेश जी पूजन करने से भक्तों को सभी दुख दूर होते हैं। इसे सकट चौथ के नाम से भी जाना जाता है। वैसे तो साल भर में आने वाली सभी संकष्टी चतुर्थी महत्वपूर्ण होती है, लेकिन सकट चौथ  , वक्रतुण्ड संकष्टी चतुर्थी  और बहुला चतुर्थी  का अलग महत्व है।

पढ़ें :- Aaj ka Panchang: माघ शुक्ल पक्ष त्रयोदशी, जाने शुभ-अशुभ समय मुहूर्त और राहुकाल...

1.अखुरथ यानी संकष्टी चतुर्थी का मतलब होता है संकट को हरने वाली चतुर्थी।
2.इस दिन भक्त अपने दुखों से छुटकारा पाने के लिए गणपति जी की आराधना करते हैं। गणेश पुराण के अनुसार चतुर्थी के दिन गौरी पुत्र 3.गणेश की पूजा करना फलदायी होता है।
4.इस दिन उपवास करने का और भी महत्व होता है।
5.कई जगहों पर इसे संकट हारा कहते हैं तो कहीं इसे संकट चौथ भी कहा जाता है।
6.इस दिन भगवान गणेश का सच्चे मन से ध्यान करने से व्यक्ति की सारी मनोकामनाएं पूरी हो जाती हैं और लाभ प्राप्ति होती है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...