1. हिन्दी समाचार
  2. एस्ट्रोलोजी
  3. Akshaya Tritiya 2022 : इस फूल से लक्ष्मी नारायण की पूजा करना अक्षय तृतीया पर होता है शुभ , सौभाग्य लेकर आता है ये विशेष संयोग

Akshaya Tritiya 2022 : इस फूल से लक्ष्मी नारायण की पूजा करना अक्षय तृतीया पर होता है शुभ , सौभाग्य लेकर आता है ये विशेष संयोग

हिंदू धर्म में अक्षय तृतीया का दिन एक विशेष संयोग है। जीवन शैली में किए जाने प्रत्येक नवीन कार्य के लिए यह दिन सौभाग्य लेकर आता है। वैशाख माह की तृतीया तिथि स्वयंसिद्ध मुहूर्तो में मानी गई है।

By अनूप कुमार 
Updated Date

Akshaya Tritiya 2022 : हिंदू धर्म में अक्षय तृतीया का दिन एक विशेष संयोग है। जीवन शैली में किए जाने प्रत्येक नवीन कार्य के लिए यह दिन सौभाग्य लेकर आता है। वैशाख माह की तृतीया तिथि स्वयंसिद्ध मुहूर्तो में मानी गई है। इस दिन बिना कोई पंचांग देखे कोई भी शुभ व मांगलिक कार्य जैसे विवाह, गृह-प्रवेश, वस्त्र-आभूषणों की खरीददारी या घर, भूखंड, वाहन आदि की खरीददारी से सम्बन्धित कार्य किए जा सकते हैं।

पढ़ें :- अक्षय तृतीया 2022: जानिए तारीख, पूजा मुहूर्त, महत्व और बहुत कुछ

इस साल अक्षय तृतीया 03 मई 2022 (मंगलवार) को पड़ रही है। पौराणिक मान्यता है कि इस दिन लक्ष्मी नारायण की पूजा सफेद कमल अथवा सफेद गुलाब या पीले गुलाब से करना चाहिये। प्रसिद्ध तीर्थ स्थल बद्रीनारायण के कपाट भी इसी तिथि से ही पुनः खुलते हैं। वृन्दावन स्थित श्री बाँके बिहारी जी मन्दिर में भी केवल इसी दिन श्री विग्रह के चरण दर्शन होते हैं। इस तिथि को परशुराम जयंती बड़ी धूमधाम से मनाई जाती है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...