शराबी बाप ने दो माह के बेटे के टुकड़े कर शव खेत में फेंका

लखनऊ। यूपी के सीतापुर जिले में शराबी बाप ने ऐसा कारनामा किया ​है जिसके बाद कलियुग की कल्पना करना बेकार होगा। इस दरिंदे ने अपने दो माह के बेटे को धारदार हथियार से टुकड़े—टुकड़े कर डाला और बाद में उसके क्षत विक्षत शव को गन्ने के खेतों में फेंक दिया। वारदात की खबर मिलने के बाद जब तक पुलिस मौके पर पहुंची, हत्यारा बाप फरार हो चुका था। पुलिस ने इस मामले में मृतक के पिता के साथ उसकी मां को भी साक्ष्य छुपाने की गंभीर धाराओं में सह आरोपी बनाया है।




मिली जानकारी के मुताबिक घटना सीतापुर के सदना इलाके के गोपरमऊ गांव की है। जहां शराब पीने का आदी और मजदूरी कर गुजर बसर करने वाले पूतान का परिवार भी रहता है। गांव वालों की माने तो पूतान रोज मजदूरी की कमाई से शराब पीने के बाद पत्नी से मारपीट करता ​है। रोज की तरह ही पूनात बुधवार की रात भी नशे में धुत अपने घर पहुंचा और विरोध करने पर अपनी पत्नी से लड़ने लगा। उसकी पत्नी नाराज होकर कुछ देर के लिए घर से बाहर निकल गई, लेकिन जब वह घर में वापस लौटी तो पूतान अकेला बैठा मिला और उसका बेटा गायब था। पूतान की पत्नी ने शोर मचाकर पड़ोसियों को इकट्ठा कर लिया और अपने बेटे की मौत पर रोने बिलखने लगी। रात ज्यादा होने के बाद लोग अपने घरों को लौट गए। मामला पुलिस तक पहुंचा तो पूतान और उसकी पत्नी ने बताया कि उसके बेटे की मौत बीमारी के चलते हो गई है।




जिसके बाद शुक्रवार की सुबह गोपरमऊ के लोगों ने जो देखा वह चकित करने वाला था। दो माह के नवजात का शव गन्ने के खेत में क्षत विक्षत पड़ा हुआ। शव का सिर और एक पैर धड़ से अलग था। जिसने भी ये खबर सुनी वह सीधे गन्ने के उस खेत की ओर दौड़ पड़ा जहां नवजात का शव मिला था। गांव वालों की खबर पर पुलिस ने मौके पर पहुंच कर शव को अपने कब्जे में लिया तो जानकारी हुई कि पूतान फरार है। पुलिस ने शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और पूतान की पत्नी से दोबार पूछताछ की।




पुलिस के मुताबिक मृत नवजात की मां ने एक दिन पहले मृत्यु की वजह बीमारी बताई थी। जो शव मिलने के बाद प्रथमदृष्टया हत्या का मामला प्रतीत होता है। इसलिए ​मृतक के पिता के खिलाफ हत्या और मां के खिलाफ साक्ष्य छुपाने की धाराओं में मामला दर्ज किया गया है। आरोपी पिता की तलाश में टीम गठित कर छापेमारी की जा रही है।

Loading...