1. हिन्दी समाचार
  2. अयोध्या फैसले से पहले सुरक्षा व्यवस्था मुस्तैद, पुलिस-प्रशासन के सभी अफसरों की छुट्टियां रद्द

अयोध्या फैसले से पहले सुरक्षा व्यवस्था मुस्तैद, पुलिस-प्रशासन के सभी अफसरों की छुट्टियां रद्द

By शिव मौर्या 
Updated Date

Alert In Up Before The Ayodhya Verdict All Police Administration Officials Cancel Their Holidays

लखनऊ। अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले से पहले उत्तर प्रदेश में सुरक्षा व्यवस्था मुस्तैद कर दी गई है। अयोध्या के साथ सभी जगहों पर पुलिस फोर्स बढ़ा दी गयी है। वहीं, यूपी सरकार ने पुलिस प्रशासन के सभी अफसरों की छुट्टियां 30 नवंबर तक रद्द कर दी है। उन्हें मुख्यालय में ही रहने के निर्देश जारी किए गए हैं। इसके साथ ही अयोध्या में सुरक्षा की दृष्टि चेकिंग अभियान शुरू कर दिया गया है। अग्रिम आदेश तक अयोध्या में पुलिस अधीक्षक से लेकर सिपाही तक को तैनात कर दिया गया है।

पढ़ें :- ब्रह्ममुहूर्त में खोले गए बदरीनाथ धाम के कपाट, सीएम तीरथ सिंह रावत ने की कोरोना महामारी से मुक्ती की प्रार्थना

डीजीपी मुख्यालय की ओर से सीबीसीआईडी, भ्रष्टाचार निवारण संगठन, ईओडब्ल्यू और पीएसी के मुखिया के साथ ही प्रयागराज, गोरखपुर और वाराणसी जोन के एडीजी को पत्र भेजकर पुलिस अधीक्षक से लेकर सिपाही तक की मांग की गई है। पीएसी से एक एसपी, 4 अपर पुलिस अधीक्षक और 6 पुलिस उपाधीक्षक को मंगलवार से ही अयोध्या को उपलब्ध कराने के निर्देश जारी किए गए हैं।

उधर,30 इंस्पेक्टर, 50 सब इंस्पेक्टर, 10 महिला सब इंस्पेक्टर, 50 मुख्य आरक्षी और 200 आरक्षी और 100 महिला आरक्षी को मंगलवार को ही अयोध्या पहुंचने के निर्देश दिए गए। इनमें सीबीसीआईडी, ईओडब्ल्यू और भ्रष्टाचार निवारण संगठन में तैनात 30 इंस्पेक्टरों के अलावा प्रयागराज जोन से 10 सब इंस्पेक्टर, 4 महिला सब इंस्पेक्टर, 10 मुख्य आरक्षी, 60 आरक्षी और 40 महिला आरक्षी उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए हैं।

इसके साथ ही गोरखपुर जोन को 20 सब इंस्पेक्टर, दो महिला सब इंस्पेक्टर, 20 मुख्य आरक्षी, 70 आरक्षी और 20 महिला आरक्षी उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए हैं। वाराणसी जोन को 20 सब इंस्पेक्टर, 4 महिला सब इंस्पेक्टर, 20 मुख्य आरक्षी, 70 आरक्षी और 40 महिला आरक्षी उपलब्ध कराने को कहा गया है।

पढ़ें :- देश में कोरोना संक्रमण की रफ्तार हुई कम, 24 घंटे में मिले 2.6 लाख केस, 3719 लोगों की गई जान

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X