ये इंटरनेट Browser चीन को भेज रहा भारतीय यूजर्स का डाटा, सरकार हुई सख्त

नई दिल्ली। चीनी कंपनी अलीबाबा की स्वामित्व वाली यूसी ब्राउजर (UC Browser) पर भारतीयों का डाटा लीक करने का आरोप लग रहा है। सरकार इस जानकारी के बाद यूसी ब्राउजर की जांच कराने में जुट गयी है। सूत्रों के मुताबिक यूसी ब्राउजर ने भारतीय यूजर्स के कांटैक्ट डिटेल समेत कई अहम जानकारियां चीन को भेजी हैं। आईटी मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने मंगलवार को कहा, इस मामले में दोषी पाए जाने पर यूसी ब्राउजर को प्रतिबंधित किया जा सकता है।

आपको बता दें कि यूजी ब्राउजर को मोबाइल में ऑन करने के साथ ही वाईफाई डिटेल और नेटवर्क इन्फॉर्मेशन चीन स्थित सर्वर में पहुंच जाता है। यूसी ब्राउजर ने भारत के 50 फीसदी ब्राउजर बाजार पर कब्जा कर लिया है। वहीं कंपनी की ओर से कहा गया है कि वह सुरक्षा और निजता का गंभीरता से ध्यान रखती है और स्थानीय कानून का पूरी तरह से पालन करती है। एक रिपोर्ट के अनुसार भारत में गूगल के क्रोम के बाद यूसी ब्राउजर दूसरा सबसे अधिक इस्तेमाल किया जाने वाला ब्राउजर है।

{ यह भी पढ़ें:- भारत बनेगा दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा 4जी हैंडसेट बाज़ार }

कंपनी ने कहा है कि उसका सर्वर पूरी दुनिया में है और वह अपने उपभोक्ताओं को बेहतर सेवा प्रदान करती है। बताते चलें कि भारत सरकार चीनी मोबाइल कंपनियों पर पहले ही नजर टेढ़ी कर चुकी है। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद की अध्यक्षता में हुई बैठक के बाद मोबाइल बनाने वाली कंपनियों को नोटिस भेजा गया है। इसमें पूछा गया है कि आखिर उन्होंने डाटा लीक से लेकर साइबर सुरक्षा के लिए फोन में क्या इंतजाम किए हैं।

{ यह भी पढ़ें:- इस वेबसाइट पर लगी है सेल, Redmi 4-4A मिल रहा सिर्फ 1 रुपये में }