अलीगढ़ : दिनदहाड़े बदमाशों ने प्रधान को गोलियों से भूना, मौत

hatya
अलीगढ़ : दिनदहाड़े बदमाशों ने प्रधान को गोलियों से भूना, मौत

नई दिल्ली। योगी सरकार जहां रामराज्य की बात करती है लेकिन ऐसे दावे फ़ेल नजर आ रहे है। आज अलीगढ़ में दिन निकलने से पहले ही बदमाशों का खेल शुरू बदमाशों ने अलीगढ़ पुलिस को दी खुली चुनौती शुरू कर दी बदमाशों ने गोलियों की बौछार उत्तर प्रदेश में जब से बाबा योगी आदित्यनाथ की सरकार बनी है तब से ना तो सरकार में कोई बाबा ही सुरक्षित है और ना ही आम आदमी सुरक्षित है।

Aligarh Daylight Rogues Roast Pradhan With Bullets Death :

घरों के अंदर घुस कर बदमाश देते हैं हत्याओं की घटना को अंजाम ऐसा ही दिल दहला देने वाला सनसनीखेज एक मामला आज अलीगढ़ के थाना खैर क्षेत्र के गांव दयाल नगर सोफा मैं देखने को मिला। जहां पुरानी रंजिश के चलते अपने घर में अखबार पढ़ रहे प्रधान पति को बाइक सवार तीन बदमाशों ने अपना निशाना बनाते हुए तीन गोलियां सीने में मारकर मौत के घाट उतार दिया प्रधान की मौत से परिवार में कोहराम मच गया और बदमाश हत्या करने के बाद तमंचा लहराते हुए मौके से फरार हो गए। प्रधान की मौत और गोलियों की बौछार की सूचना मिलते ही इलाका पुलिस भारी फोर्स के साथ डॉग स्क्वायड को लेकर मौके पर पहुंची वही प्रधान की मौत के बाद घटनास्थल को पुलिस ने छावनी में तब्दील कर दिया है।

दरअसल दयाल नगर खेड़ा की मौजूदा प्रधान शांति देवी के पति कालीचरण चौधरी जब रात होने के बाद अपने घर में सोए हुए थे तो उनके दिमाग में यह बात नहीं होगी। कि वह जब सुबह आंख खुलेगी तो दिन का सूरज देख पाएंगे कालीचरण की सुबह होने पर जब आंख खुली तो सूरज तो उन्होंने देख लिया और अपने घर के बाहर आंगन में बैठकर अखबार पढ़ने लगे जैसे ही कालीचरण ने अखबार खोल कर पढ़ना शुरू किया तो तभी गांव के रहने वाले गौतम और उसके साथ दो अन्य लोग बाइक पर सवार होकर कालीचरण चौधरी के घर के सामने बाइक से पहुंचे और तीनों ने तमंचा निकालते हुए कालीचरण पर गोलियों की बौछार ए करनी शुरू कर दी।

देखते ही देखते तीनों बदमाशों की 3 गोलियां कालीचरण के सीने में जा लगी और गोली लगते ही कालीचरण मौत के आगोश में सो गया गोलियों की आवाज सुनने पर घर में मौजूद परिवारी जन कालीचरण चौधरी के पास पहुंचे तो कालीचरण की मौत हो चुकी थी कालीचरण की मौत पर पूरा परिवार आंसुओं के सैलाब में डूब गया। पूरे गांव में मातम पसर गया मृतक कालीचरण का परिजन कालीचरण को लेकर खेर सीएससी पहुंचे जहां से गंभीर हालत को देखते हो मेडिकल रेफर कर दिया मेडिकल में डॉक्टरों ने कालीचरण को मृत घोषित कर।

वहीं घटना की जानकारी देते हुए मृतक कालीचरण की बहू मितलेश ने बताया कि उनका किसी बात को लेकर गांव में पुरानी रंजिश चली आ रही थी उसी रंजिश की वजह से इनके ससुर कालीचरण को गांव के रहने वाले गौतम ने दो अन्य लोगों के साथ मिलकर आज सुबह गोलियों की बौछार करते हुए मौत के घाट उतार दिया।

नई दिल्ली। योगी सरकार जहां रामराज्य की बात करती है लेकिन ऐसे दावे फ़ेल नजर आ रहे है। आज अलीगढ़ में दिन निकलने से पहले ही बदमाशों का खेल शुरू बदमाशों ने अलीगढ़ पुलिस को दी खुली चुनौती शुरू कर दी बदमाशों ने गोलियों की बौछार उत्तर प्रदेश में जब से बाबा योगी आदित्यनाथ की सरकार बनी है तब से ना तो सरकार में कोई बाबा ही सुरक्षित है और ना ही आम आदमी सुरक्षित है। घरों के अंदर घुस कर बदमाश देते हैं हत्याओं की घटना को अंजाम ऐसा ही दिल दहला देने वाला सनसनीखेज एक मामला आज अलीगढ़ के थाना खैर क्षेत्र के गांव दयाल नगर सोफा मैं देखने को मिला। जहां पुरानी रंजिश के चलते अपने घर में अखबार पढ़ रहे प्रधान पति को बाइक सवार तीन बदमाशों ने अपना निशाना बनाते हुए तीन गोलियां सीने में मारकर मौत के घाट उतार दिया प्रधान की मौत से परिवार में कोहराम मच गया और बदमाश हत्या करने के बाद तमंचा लहराते हुए मौके से फरार हो गए। प्रधान की मौत और गोलियों की बौछार की सूचना मिलते ही इलाका पुलिस भारी फोर्स के साथ डॉग स्क्वायड को लेकर मौके पर पहुंची वही प्रधान की मौत के बाद घटनास्थल को पुलिस ने छावनी में तब्दील कर दिया है। दरअसल दयाल नगर खेड़ा की मौजूदा प्रधान शांति देवी के पति कालीचरण चौधरी जब रात होने के बाद अपने घर में सोए हुए थे तो उनके दिमाग में यह बात नहीं होगी। कि वह जब सुबह आंख खुलेगी तो दिन का सूरज देख पाएंगे कालीचरण की सुबह होने पर जब आंख खुली तो सूरज तो उन्होंने देख लिया और अपने घर के बाहर आंगन में बैठकर अखबार पढ़ने लगे जैसे ही कालीचरण ने अखबार खोल कर पढ़ना शुरू किया तो तभी गांव के रहने वाले गौतम और उसके साथ दो अन्य लोग बाइक पर सवार होकर कालीचरण चौधरी के घर के सामने बाइक से पहुंचे और तीनों ने तमंचा निकालते हुए कालीचरण पर गोलियों की बौछार ए करनी शुरू कर दी। देखते ही देखते तीनों बदमाशों की 3 गोलियां कालीचरण के सीने में जा लगी और गोली लगते ही कालीचरण मौत के आगोश में सो गया गोलियों की आवाज सुनने पर घर में मौजूद परिवारी जन कालीचरण चौधरी के पास पहुंचे तो कालीचरण की मौत हो चुकी थी कालीचरण की मौत पर पूरा परिवार आंसुओं के सैलाब में डूब गया। पूरे गांव में मातम पसर गया मृतक कालीचरण का परिजन कालीचरण को लेकर खेर सीएससी पहुंचे जहां से गंभीर हालत को देखते हो मेडिकल रेफर कर दिया मेडिकल में डॉक्टरों ने कालीचरण को मृत घोषित कर। वहीं घटना की जानकारी देते हुए मृतक कालीचरण की बहू मितलेश ने बताया कि उनका किसी बात को लेकर गांव में पुरानी रंजिश चली आ रही थी उसी रंजिश की वजह से इनके ससुर कालीचरण को गांव के रहने वाले गौतम ने दो अन्य लोगों के साथ मिलकर आज सुबह गोलियों की बौछार करते हुए मौत के घाट उतार दिया।