अलीगढ़: तबलीगी जमातियों के खिलाफ हिंदू महासभा की पूजा शकुन ने की विवादित टिप्पड़ी, हुईं​ गिरफ्तार

Pooja Shakun's
अलीगढ़: तबलीगी जमातियों के खिलाफ हिंदू महासभा की पूजा शकुन ने की विवादित टिप्पड़ी, हुईं​ गिरफ्तार

अलीगढ़। उत्तर प्रदेश पुलिस ने कोरोना जैसी महामारी के दौरान भड़काऊ और विवादित पोस्ट करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करना शुरू कर दिया है। हाल ही में देश भर में तबलीगी जमातियों ने कोरोना वायरस को लेकर काफी लापरवाही की है, जिसकी वजह से संक्रमित केसों में काफी बढ़ोत्तरी हुई है। लगातार देश भर में तबलीगी जमातियों के खिलाफ नाराजगी है। हिंदू महासभा की राष्ट्रीय महासचिव पूजा शकुन पांडेय ने भी तबलीगी जमातियों के खिलाफ विवादित टिप्पड़ी की थी जिसके बाद पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर उन्हे गिरफ्तार कर लिया है।

Aligarh Hindu Mahasabhas Pooja Shakuns Controversial Remarks Against Tabligi Deposits Arrested :

बताया गया कि सोमवार को अलीगढ़ जिले की पुलिस ने पूजा शकुन के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी। इसी पर कार्रवाई करते हुए मंगलवार को उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। दरअसल, पूजा शकुन ने शनिवार को प्रधानमंत्री मोदी को पत्र लिखकर तबलीगी जमात के सदस्यों को गोली मारने की अपील की थी और उसके बाद मीडिया में भी बयान जारी किया था। उन्होंंने कोरोना महामारी को देश के बड़े स्तर पर फैलाने का तबलीगी जमात पर आरोप लगाया था। इससे पहले पुलिस ने उनके खिलाफ भड़काऊ बयान देने व माहौल में वैमनस्यता पैदा करने के आरोप में भी मुकदमा दर्ज किया था। यह मुकदमा चौकी प्रभारी की ओर से गांधीपार्क थाने में दर्ज कराया गया है।

अलीगढ़ पुलिस के मुताबिक हिंदू महासभा की राष्ट्रीय महासचिव पूजा शकुन पांडे के खिलाफ भारतीय दंड विधान की धारा 153 ए (विभिन्न समुदायों के बीच नफरत फैलाना) और 505 (2) (भड़काऊ बयान देना) के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था। बताया गया कि अलीगढ़ शहर से समाजवादी पार्टी के पूर्व विधायक हाजी जमीर उल्लाह खान ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मुनिराज से हिंदू महासभा की राष्ट्रीय महासचिव के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी।

गौरतलब है कि पूजा शकून पांडेय पहले भी विवादों से घिरी रही हैं। महात्मा गांधी की पूण्यतिथि पर उनके पोस्टर को गोली मारने के आरोप में पूजा शकून पांडेय को पिछले साल भी हिरासत में​ लिया गया था।

अलीगढ़। उत्तर प्रदेश पुलिस ने कोरोना जैसी महामारी के दौरान भड़काऊ और विवादित पोस्ट करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करना शुरू कर दिया है। हाल ही में देश भर में तबलीगी जमातियों ने कोरोना वायरस को लेकर काफी लापरवाही की है, जिसकी वजह से संक्रमित केसों में काफी बढ़ोत्तरी हुई है। लगातार देश भर में तबलीगी जमातियों के खिलाफ नाराजगी है। हिंदू महासभा की राष्ट्रीय महासचिव पूजा शकुन पांडेय ने भी तबलीगी जमातियों के खिलाफ विवादित टिप्पड़ी की थी जिसके बाद पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर उन्हे गिरफ्तार कर लिया है। बताया गया कि सोमवार को अलीगढ़ जिले की पुलिस ने पूजा शकुन के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी। इसी पर कार्रवाई करते हुए मंगलवार को उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। दरअसल, पूजा शकुन ने शनिवार को प्रधानमंत्री मोदी को पत्र लिखकर तबलीगी जमात के सदस्यों को गोली मारने की अपील की थी और उसके बाद मीडिया में भी बयान जारी किया था। उन्होंंने कोरोना महामारी को देश के बड़े स्तर पर फैलाने का तबलीगी जमात पर आरोप लगाया था। इससे पहले पुलिस ने उनके खिलाफ भड़काऊ बयान देने व माहौल में वैमनस्यता पैदा करने के आरोप में भी मुकदमा दर्ज किया था। यह मुकदमा चौकी प्रभारी की ओर से गांधीपार्क थाने में दर्ज कराया गया है। अलीगढ़ पुलिस के मुताबिक हिंदू महासभा की राष्ट्रीय महासचिव पूजा शकुन पांडे के खिलाफ भारतीय दंड विधान की धारा 153 ए (विभिन्न समुदायों के बीच नफरत फैलाना) और 505 (2) (भड़काऊ बयान देना) के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था। बताया गया कि अलीगढ़ शहर से समाजवादी पार्टी के पूर्व विधायक हाजी जमीर उल्लाह खान ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मुनिराज से हिंदू महासभा की राष्ट्रीय महासचिव के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी। गौरतलब है कि पूजा शकून पांडेय पहले भी विवादों से घिरी रही हैं। महात्मा गांधी की पूण्यतिथि पर उनके पोस्टर को गोली मारने के आरोप में पूजा शकून पांडेय को पिछले साल भी हिरासत में​ लिया गया था।