अलीगढ़: चाकुओं से गुप्तांग काटकर होमगार्ड को उतारा मौत के घाट

hatya
अलीगढ़: चाकुओं से गुप्तांग काटकर होमगार्ड को उतारा मौत के घाट

लखनऊ। जहां एक और उत्तर प्रदेश के मुखिया उत्तर प्रदेश से क्राइम कम होने और उत्तर प्रदेश में बदमाशों के जंगल राज को नाश्ते नाबूद करने की बात करते हो लेकिन बदमाशों के अंदर उत्तर प्रदेश के मुखिया के साथ-साथ पुलिस का कोई खौफ अलीगढ़ में तो नजर नहीं आता। जहां पुलिस की नाक के नीचे ही अलीगढ़ पुलिस में ही तैनात ट्रैफिक यातायात पुलिसकर्मी को बदमाशों द्वारा सुनसान जंगल में पहले तो देर रात घेर लिया जाता है। और उसके बाद अज्ञात बदमाश यातायात होमगार्ड के ऊपर चाकुओं से शरीर पर हमला करते हैं चाकुओं से गोद ने के बाद इतने पर भी जब बदमाशों का दिल नहीं भरता है तो चाकू से गुप्तांग काटकर होमगार्ड को मौत के घाट उतार कर हमेशा के लिए सुला दिया जाता है।

Aligarh Home Guards Killed By Cutting Genitals With Knives :

आपको बता दे की मामला अलीगढ़ के थाना पाली मुकीमपुर क्षेत्र क्षेत्र के सुनसान जंगल में देखने को मिला जहां देर रात एक यातायात होमगार्ड जब सुनसान रास्ते के सहारे अपने घर के लिए जा रहा था उसी दौरान नकाबपोश अज्ञात बदमाशों ने होमगार्ड को पकड़कर चाकू से गोदना शुरू कर दिया। और देखते ही देखते होमगार्ड के पूरे शरीर को चाकुओं से छलनी करने के बाद बदमाशों ने चाकू से होमगार्ड का गुप्तांग काटकर मौत के घाट उतार दिया।

पाली मुकीमपुर क्षेत्र का रहने वाला ट्रैफिक पुलिस में तैनात होमगार्ड कल जब अपने घर से ड्यूटी करने के लिए अलीगढ़ के थाना क्वार्सी क्षेत्र पर बने एटा चुंगी चौराहे पर आया था उसने कभी सपने में भी नहीं सोचा होगा। कि आज उसकी जिंदगी का आखरी दिन होगा और वह दिन भी ऐसा इस घटना को जिसने भी सुना और दिल दहला देने वाली घटना सुनकर सन्न रह गया,जब वह देर रात अपनी ड्यूटी एटा चुंगी चौराहे से खत्म करने के बाद अपने बच्चों के बीच पहुंचने के लिए निकला था। वह अपना सफर पूरा करने से पहले ही बीच रास्ते में बदमाशों ने उसे अपना निशाना बना लिया घटना कल देर रात की है और नकाबपोश अज्ञात बदमाशों ने दिल दहला देने वाली घटना को अंजाम देते हुए यातायात होमगार्ड को मौत के आगोश में हमेशा और जिंदगी भर के लिए सुला दिया।

अलीगढ़ की तहसील अतरौली क्षेत्र के थाना पाली मुकीमपुर क्षेत्र का रहने वाला ट्रैफिक यातायात पुलिस का होमगार्ड अलीगढ़ के थाना क्वार्सी क्षेत्र पर बने एटा चुंगी चौराहे पर अशोक कुमार दीक्षित यातायात में ड्यूटी करता था, देर रात कल अशोक कुमार दीक्षित ट्रैफिक यातायात पुलिस का होमगार्ड क्वारसी चौराहे से ड्यूटी खत्म करने के बाद जब देर रात 10:00 बजे अपने घर पाली मुकीमपुर जा रहा था तभी सुनसान जंगल में रास्ते के सहारे जा रहा था। उसी दौरान अज्ञात बदमाशों ने ट्रैफिक होमगार्ड को घेरकर बदमाशों ने चाकुओं से गोदना शुरू कर दिया और उसके बाद गुप्तांग काटकर हत्या कर दी गई।

होमगार्ड की हुई हत्या के बाद घटना की जानकारी देते हुए अलीगढ़ के एसपी क्राइम डॉ अरविंद कुमार सिंह ने बताया कि अशोक कुमार नाम का व्यक्ति जो क्वारसी क्षेत्र में होमगार्ड के पद पर तैनात था। देर रात ड्यूटी खत्म करने के बाद जब होमगार्ड अपने गांव वापस जा रहा था गांव से करीब दो किलोमीटर दूर होमगार्ड की बॉडी मिली सूचना के बाद घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने मुकदमा पंजीकृत कर लिया है। और डेड बॉडी को पोस्टमार्टम के लिए पोस्टमार्टम हाउस भेज दिया गया वहीं परिजन की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। जिसका मुकदमा अपराध संख्या 2019/19 है मही मृतक के परिजनों ने एक व्यक्ति पर संदेह जाहिर क्या था। जिसके बारे में पुलिस तहकीकात कर रही है और जो भी साक्ष्य विवेचना के दौरान आएंगे उन्हीं साक्ष्यों के आधार पर आगे की कार्यवाही की जाएगी।

लखनऊ। जहां एक और उत्तर प्रदेश के मुखिया उत्तर प्रदेश से क्राइम कम होने और उत्तर प्रदेश में बदमाशों के जंगल राज को नाश्ते नाबूद करने की बात करते हो लेकिन बदमाशों के अंदर उत्तर प्रदेश के मुखिया के साथ-साथ पुलिस का कोई खौफ अलीगढ़ में तो नजर नहीं आता। जहां पुलिस की नाक के नीचे ही अलीगढ़ पुलिस में ही तैनात ट्रैफिक यातायात पुलिसकर्मी को बदमाशों द्वारा सुनसान जंगल में पहले तो देर रात घेर लिया जाता है। और उसके बाद अज्ञात बदमाश यातायात होमगार्ड के ऊपर चाकुओं से शरीर पर हमला करते हैं चाकुओं से गोद ने के बाद इतने पर भी जब बदमाशों का दिल नहीं भरता है तो चाकू से गुप्तांग काटकर होमगार्ड को मौत के घाट उतार कर हमेशा के लिए सुला दिया जाता है। आपको बता दे की मामला अलीगढ़ के थाना पाली मुकीमपुर क्षेत्र क्षेत्र के सुनसान जंगल में देखने को मिला जहां देर रात एक यातायात होमगार्ड जब सुनसान रास्ते के सहारे अपने घर के लिए जा रहा था उसी दौरान नकाबपोश अज्ञात बदमाशों ने होमगार्ड को पकड़कर चाकू से गोदना शुरू कर दिया। और देखते ही देखते होमगार्ड के पूरे शरीर को चाकुओं से छलनी करने के बाद बदमाशों ने चाकू से होमगार्ड का गुप्तांग काटकर मौत के घाट उतार दिया। पाली मुकीमपुर क्षेत्र का रहने वाला ट्रैफिक पुलिस में तैनात होमगार्ड कल जब अपने घर से ड्यूटी करने के लिए अलीगढ़ के थाना क्वार्सी क्षेत्र पर बने एटा चुंगी चौराहे पर आया था उसने कभी सपने में भी नहीं सोचा होगा। कि आज उसकी जिंदगी का आखरी दिन होगा और वह दिन भी ऐसा इस घटना को जिसने भी सुना और दिल दहला देने वाली घटना सुनकर सन्न रह गया,जब वह देर रात अपनी ड्यूटी एटा चुंगी चौराहे से खत्म करने के बाद अपने बच्चों के बीच पहुंचने के लिए निकला था। वह अपना सफर पूरा करने से पहले ही बीच रास्ते में बदमाशों ने उसे अपना निशाना बना लिया घटना कल देर रात की है और नकाबपोश अज्ञात बदमाशों ने दिल दहला देने वाली घटना को अंजाम देते हुए यातायात होमगार्ड को मौत के आगोश में हमेशा और जिंदगी भर के लिए सुला दिया। अलीगढ़ की तहसील अतरौली क्षेत्र के थाना पाली मुकीमपुर क्षेत्र का रहने वाला ट्रैफिक यातायात पुलिस का होमगार्ड अलीगढ़ के थाना क्वार्सी क्षेत्र पर बने एटा चुंगी चौराहे पर अशोक कुमार दीक्षित यातायात में ड्यूटी करता था, देर रात कल अशोक कुमार दीक्षित ट्रैफिक यातायात पुलिस का होमगार्ड क्वारसी चौराहे से ड्यूटी खत्म करने के बाद जब देर रात 10:00 बजे अपने घर पाली मुकीमपुर जा रहा था तभी सुनसान जंगल में रास्ते के सहारे जा रहा था। उसी दौरान अज्ञात बदमाशों ने ट्रैफिक होमगार्ड को घेरकर बदमाशों ने चाकुओं से गोदना शुरू कर दिया और उसके बाद गुप्तांग काटकर हत्या कर दी गई। होमगार्ड की हुई हत्या के बाद घटना की जानकारी देते हुए अलीगढ़ के एसपी क्राइम डॉ अरविंद कुमार सिंह ने बताया कि अशोक कुमार नाम का व्यक्ति जो क्वारसी क्षेत्र में होमगार्ड के पद पर तैनात था। देर रात ड्यूटी खत्म करने के बाद जब होमगार्ड अपने गांव वापस जा रहा था गांव से करीब दो किलोमीटर दूर होमगार्ड की बॉडी मिली सूचना के बाद घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने मुकदमा पंजीकृत कर लिया है। और डेड बॉडी को पोस्टमार्टम के लिए पोस्टमार्टम हाउस भेज दिया गया वहीं परिजन की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। जिसका मुकदमा अपराध संख्या 2019/19 है मही मृतक के परिजनों ने एक व्यक्ति पर संदेह जाहिर क्या था। जिसके बारे में पुलिस तहकीकात कर रही है और जो भी साक्ष्य विवेचना के दौरान आएंगे उन्हीं साक्ष्यों के आधार पर आगे की कार्यवाही की जाएगी।