शहीदों पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाला छात्र एएमयू से निष्कासित, जल्द होगी गिरफ्तारी

अलीगढ़: जम्मू कश्मीर के उड़ी में सेना की छावनी पर आतंकवादी हमले में शहीद हुए जवानों पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने के आरोप में छात्र मुदासिर यूसुफ लोन को अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) से निष्कासित कर दिया गया है। इस बीच पुलिस अधिकारियों ने उसकी जल्द ही गिरफ्तारी होने की बात कही है।

जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा का रहने वाला मुदासिर यूसुफ लोन एएमयू से एमएससी (ऑर्गेनिक केमिस्ट्री) की पढ़ाई कर रहा है। उसने फेसबुक पर रविवार को शहीद हुए जवानों को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। एएमयू के कुलपति जमीरउद्दीन शाह ने कहा, “छात्र के राष्ट्रविरोधी बयान से विश्वविद्यालय की भावनाएं आहत हुई हैं। मैं इसकी कड़े शब्दों में भर्त्सना करता हूं। आरोपी मुदासिर को विश्वविद्यालय से निष्कासित करते हुए परिसर में आने पर प्रतिबंध लगा दिया है।”

इधर, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) राजेश पांडेय के मुताबिक, इस आपत्तिजनक टिप्पणी का पता लगते ही एसपी सिटी के जरिए पत्र भिजवाकर प्रॉक्टर से पूछा गया था कि क्या आरोपी एएमयू का ही छात्र है। उन्होंने बताया कि पूरी जानकारी मिलते ही रिपोर्ट दर्ज करा दी गई है। गिरफ्तारी भी जल्द होगी। इसके अलावा उसकी टिप्पणी के समर्थन में हसन मेमन, कैसर वानी, मुहम्मद फरीद आदि के नाम से भी टिप्पणी की गई थी।

गौरतलब है कि फेसबुक पर रविवार को की गई टिप्पणी मीडिया में वायरल होते ही कुलपति ने आरोपी छात्र को तलब कर उसके कृत्य को राष्ट्र विरोधी मानते हुए तत्काल परिसर से बाहर का रास्ता दिखा दिया।