अलीगढ़ हत्याकांड : वारदात में शामिल तीसरा दरिंदा भी गिरफ्तार, कदम—कदम पर उजागर हुई पुलिस की लापरवाही

areest
मासूम बच्ची की हत्या में फरार तीसरा आरोपी भी गिरफ्तार, कदम—कदम पर उजागर हुई पुलिस की लापरवाही

अलीगढ़। अलीगढ़ में ढाई साल की मासूम बच्ची की हत्या में हर कदम पर पुलिस की लापरवाही उजागर हो रही है। पुलिस के अधिकारी पांच पुलिसकर्मियों को निलंबित और विभागीय जांच का आदेश देकर अपना पल्ला झाड़ लिये। लेकिन सवाल उठता है कि क्या इससे मासूम को इंसाफ मिल जायेगा।

Aligarh Police Arrest The Third Accused Of Aligarh Murder Case :

वहीं इस घटना के बाद पूरे देश में गुस्सा है। पुलिस की लापरवाही और आरोपियों की इस हैवानियत का हर कोई विरोध करने पर जुटा है। हालांकि वारदात में शामिल तीसरे आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। जानकारी के मुताबिक इस मामले में पुलिस ने जिसे पकड़ा है वह आरोपी जाहिद का भाई मेंहदी है।

मेंहदी पर हत्या की साजिश में शामिल होने का आरोप है। बताया जा रहा है कि जिस दिन मासूम बच्ची का शव मिला, उसी दिन लोगों ने मेंहदी की जमकर पिटाई की थी, जिसके बाद से वो फरार हो गया था। इससे पहले पुलिस ने दो आरोपियों जाहिद और असलम को गिरफ्तार किया था।

पुलिस पूछताछ में दोनों आरोपियों ने अपना जुर्म कबूल भी कर लिया है। पूछताछ में सामने आया था कि दस हजार रुपये को लेकर इस घटना को अंजाम दिया गया था। यह रकम बच्ची के पिता ने उधार ली थी और वह उसे वापस नहीं कर पाए थे। इस बात को लेकर आरोपी और बच्ची के पिता के बीच कहासुनी हुई और बात यहां तक आ पहुंची।

अलीगढ़। अलीगढ़ में ढाई साल की मासूम बच्ची की हत्या में हर कदम पर पुलिस की लापरवाही उजागर हो रही है। पुलिस के अधिकारी पांच पुलिसकर्मियों को निलंबित और विभागीय जांच का आदेश देकर अपना पल्ला झाड़ लिये। लेकिन सवाल उठता है कि क्या इससे मासूम को इंसाफ मिल जायेगा। वहीं इस घटना के बाद पूरे देश में गुस्सा है। पुलिस की लापरवाही और आरोपियों की इस हैवानियत का हर कोई विरोध करने पर जुटा है। हालांकि वारदात में शामिल तीसरे आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। जानकारी के मुताबिक इस मामले में पुलिस ने जिसे पकड़ा है वह आरोपी जाहिद का भाई मेंहदी है। मेंहदी पर हत्या की साजिश में शामिल होने का आरोप है। बताया जा रहा है कि जिस दिन मासूम बच्ची का शव मिला, उसी दिन लोगों ने मेंहदी की जमकर पिटाई की थी, जिसके बाद से वो फरार हो गया था। इससे पहले पुलिस ने दो आरोपियों जाहिद और असलम को गिरफ्तार किया था। पुलिस पूछताछ में दोनों आरोपियों ने अपना जुर्म कबूल भी कर लिया है। पूछताछ में सामने आया था कि दस हजार रुपये को लेकर इस घटना को अंजाम दिया गया था। यह रकम बच्ची के पिता ने उधार ली थी और वह उसे वापस नहीं कर पाए थे। इस बात को लेकर आरोपी और बच्ची के पिता के बीच कहासुनी हुई और बात यहां तक आ पहुंची।