छात्रों की चेतावनी, मुस्लिम लड़कियां बुर्का पहनेंगी तो हम भगवा पहनकर कॉलेज आएंगे

bur ka
छात्रों की चेतावनी, मुस्लिम लड़कियां बुर्का पहनेंगी तो हम भगवा पहनकर कॉलेज आएंगे

लखनऊ। अलीगढ़ के धर्म समाज महाविद्यालय में छात्रसंघ के नेताओं द्वारा टोपी और बुर्का पर प्रतिबंध लगाने की मांग की जा रही है। और यह वार्निंग भी दी कि अगर बुर्का बैन नहीं हुआ तो सभी हिन्दू छात्र भगवा वस्त्र धारण करके कॉलेज आएंगे. इन छात्रों का आरोप है कि लड़कियां बुर्का पहनकर इस्लाम का प्रचार कर रही हैं और अलगाववाद पैदा कर रही हैं

Aligarh Student Leader Demand Stop Burqa And Topi In College Of Aligarh Amu :

हिन्दू युवा नेता अमित गोस्वामी और अन्य ने कॉलेज के चीफ प्रॉक्टर को बुधवार ज्ञापन सौंपकर मांग की कि कॉलेज प्रशासन इस बारे में जल्द कोई निर्णय ले। गोस्वामी ने कहा कि अगर 72 घंटो में इस मांग को पूरा नहीं किया गया तो वह एक अभियान शुरू कर छात्रों से कहेंगे कि वे कक्षा में जाते समय भगवा रंग के कपड़े पहनें।

गोस्वामी और अन्य ने ज्ञापन में कहा कि मुस्लिम छात्राओं द्वारा बुरका पहनना और छात्रों द्वारा टोपी पहनना धर्म समाज कॉलेज के आधिकारिक ड्रेस कोड का उल्लंघन है। यह कॉलेज आगरा विश्वविदयालय से संबध्द है।

इस बीच, गोस्वामी की मांग पर अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविदयालय के विद्यार्थियों का एक समूह अपर जिला मजिस्ट्रेट से मिला। उसने हिन्दू युवा नेताओं के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। इन विद्यार्थियों ने कहा कि इससे धार्मिक कलह बढ़ेगी।

एएमयू में भी करेंगे यह मांग

अमित गोस्वामी ने कहा है, “शहर के तीन बड़े कॉलेज में बुर्का और टोपी बैन करने के साथ ही हम डीएम से मिलकर अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में भी धार्मिक पहचान के वस्त्र बुर्का और टोपी को बैन कराने की मांग करेंगे। अगर ऐसा नहीं होता है तो फिर एएमयू में भगवा वस्त्र पहनकर और टीका लगाकर आने वाले दूसरे छात्रों को सुरक्षा देने की मांग की जाएगी।”

 

लखनऊ। अलीगढ़ के धर्म समाज महाविद्यालय में छात्रसंघ के नेताओं द्वारा टोपी और बुर्का पर प्रतिबंध लगाने की मांग की जा रही है। और यह वार्निंग भी दी कि अगर बुर्का बैन नहीं हुआ तो सभी हिन्दू छात्र भगवा वस्त्र धारण करके कॉलेज आएंगे. इन छात्रों का आरोप है कि लड़कियां बुर्का पहनकर इस्लाम का प्रचार कर रही हैं और अलगाववाद पैदा कर रही हैं हिन्दू युवा नेता अमित गोस्वामी और अन्य ने कॉलेज के चीफ प्रॉक्टर को बुधवार ज्ञापन सौंपकर मांग की कि कॉलेज प्रशासन इस बारे में जल्द कोई निर्णय ले। गोस्वामी ने कहा कि अगर 72 घंटो में इस मांग को पूरा नहीं किया गया तो वह एक अभियान शुरू कर छात्रों से कहेंगे कि वे कक्षा में जाते समय भगवा रंग के कपड़े पहनें। गोस्वामी और अन्य ने ज्ञापन में कहा कि मुस्लिम छात्राओं द्वारा बुरका पहनना और छात्रों द्वारा टोपी पहनना धर्म समाज कॉलेज के आधिकारिक ड्रेस कोड का उल्लंघन है। यह कॉलेज आगरा विश्वविदयालय से संबध्द है। इस बीच, गोस्वामी की मांग पर अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविदयालय के विद्यार्थियों का एक समूह अपर जिला मजिस्ट्रेट से मिला। उसने हिन्दू युवा नेताओं के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। इन विद्यार्थियों ने कहा कि इससे धार्मिक कलह बढ़ेगी। एएमयू में भी करेंगे यह मांग अमित गोस्वामी ने कहा है, “शहर के तीन बड़े कॉलेज में बुर्का और टोपी बैन करने के साथ ही हम डीएम से मिलकर अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में भी धार्मिक पहचान के वस्त्र बुर्का और टोपी को बैन कराने की मांग करेंगे। अगर ऐसा नहीं होता है तो फिर एएमयू में भगवा वस्त्र पहनकर और टीका लगाकर आने वाले दूसरे छात्रों को सुरक्षा देने की मांग की जाएगी।”