गलती से सीमा पार गए सैनिक की रिहाई में जुटे राजनाथ

नई दिल्ली| भारत ने कहा कि वह पाकिस्तान की हिरासत से भारतीय सैनिक की रिहाई को सुनिश्चित करने की कोशिश कर रहा है। इस भारतीय सैनिक ने अनजाने में सीमा रेखा को पार कर लिया था। गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि नई दिल्ली औपचारिक रूप से इस मुद्दे को इस्लामाबाद के समक्ष उठाएगा और सैनिक की रिहाई की मांग करेगा।




आधिकारिक सूत्रों ने बताया है कि महानिदेशक मिलिट्री ऑपरेशन्स (डीजीएमओ) लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने इस मुद्दे को अपने पाकिस्तानी समकक्ष के साथ उठाया है। 37 राष्ट्रीय राइफल का एक सैनिक अनजाने में भारत और पाकिस्तान के बीच जम्मू एवं कश्मीर को बांटने वाली नियंत्रण रेखा (एलओसी) को पार कर लिया था और पाकिस्तान ने उसे हिरासत में ले लिया।

अधिकारियों का कहना है कि भारतीय सैनिक का सीमा रेखा को पार करना बुधवार रात को नियंत्रण रेखा पर भारतीय सेना द्वारा किए गए ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ से संबंधित नहीं है। रक्षा मंत्रालय ने गुरुवार रात को दिए अपने बयान में कहा, “सेना के जवानों और नागरिकों द्वारा अनजाने में सीमा रेखा को पार कर जाने की बात असामान्य नहीं है। उन्हें मौजूदा तंत्र के माध्यम से वापस लाया जाता रहा है।”