जेल भेजे गए उन्नाव पीड़िता को जिंदा जलाने के पांचों आरोपी

Unnao gangrape case
जेल भेजे गए उन्नाव पीड़िता को जिंदा जलाने के पांचों आरोपी

लखनऊ। उन्नाव के बिहार थाना क्षेत्र में गैंगरेप पीड़िता को जिंदा जलाने के मामले में गिरफ्तार किए गए पांचों आरोपियों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। प्रभारी निरीक्षक अजय कुमार त्रिपाठी ने बताया कि प्रकरण के सभी पांचों आरोपियों को शुक्रवार को मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारी विराट सक्सेना की अदालत में पेश किया गया, जहां से उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

All Five Accused Of Burning Unnao Victim Alive In Jail :

मालूम हो कि उन्नाव जिले के बिहार थाना क्षेत्र की रहने वाली 23 वर्षीय एक युवती को गुरुवार तड़के जलाए जाने की घटना हुई थी। इस मामले में शिवम त्रिवेदी, शुभम त्रिवेदी, रामकिशोर त्रिवेदी, हरिशंकर त्रिवेदी और उमेश बाजपेई के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार किया गया है।

पीड़िता ने शिवम और शुभम पर 12 दिसम्बर 2018 को बलात्कार करने का मुकदमा दर्ज कराया था। युवती मुकदमे की पैरवी के सिलसिले में रायबरेली रवाना होने के लिए गुरुवार सुबह करीब चार बजे बैसवारा रेलवे स्टेशन जा रही थी। तभी रास्ते में बिहार-मौरांवा मार्ग पर जमानत पर चल रहे शिवम और शुभम ने अपने साथियों की मदद से उस पर पेट्रोल उड़ेलकर आग लगा दी थी। करीब 90 फीसद तक जल चुकी उस लड़की को लखनऊ के सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया, मगर हालत बेहद नाजुक होने की वजह से उसे गुरुवार देर शाम एयरलिफ्ट करके दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल ले जाया गया। जहां शुक्रवार देर रात करीब 11:40 बजे उसकी मौत हो गई।

लखनऊ। उन्नाव के बिहार थाना क्षेत्र में गैंगरेप पीड़िता को जिंदा जलाने के मामले में गिरफ्तार किए गए पांचों आरोपियों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। प्रभारी निरीक्षक अजय कुमार त्रिपाठी ने बताया कि प्रकरण के सभी पांचों आरोपियों को शुक्रवार को मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारी विराट सक्सेना की अदालत में पेश किया गया, जहां से उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। मालूम हो कि उन्नाव जिले के बिहार थाना क्षेत्र की रहने वाली 23 वर्षीय एक युवती को गुरुवार तड़के जलाए जाने की घटना हुई थी। इस मामले में शिवम त्रिवेदी, शुभम त्रिवेदी, रामकिशोर त्रिवेदी, हरिशंकर त्रिवेदी और उमेश बाजपेई के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार किया गया है। पीड़िता ने शिवम और शुभम पर 12 दिसम्बर 2018 को बलात्कार करने का मुकदमा दर्ज कराया था। युवती मुकदमे की पैरवी के सिलसिले में रायबरेली रवाना होने के लिए गुरुवार सुबह करीब चार बजे बैसवारा रेलवे स्टेशन जा रही थी। तभी रास्ते में बिहार-मौरांवा मार्ग पर जमानत पर चल रहे शिवम और शुभम ने अपने साथियों की मदद से उस पर पेट्रोल उड़ेलकर आग लगा दी थी। करीब 90 फीसद तक जल चुकी उस लड़की को लखनऊ के सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया, मगर हालत बेहद नाजुक होने की वजह से उसे गुरुवार देर शाम एयरलिफ्ट करके दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल ले जाया गया। जहां शुक्रवार देर रात करीब 11:40 बजे उसकी मौत हो गई।