1. हिन्दी समाचार
  2. उद्धव-राउत के बीच सब ठीक नहीं, संजय के पोस्ट से बढ़ा सस्पेंस!   

उद्धव-राउत के बीच सब ठीक नहीं, संजय के पोस्ट से बढ़ा सस्पेंस!   

All Is Not Well Between Uddhav And Raut Suspense Increased From Sanjays Post

मुंबई। महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे मंत्रिमंडल विस्तार में भाई सुनील राउत को जगह न मिलने से नाराजगी की खबरों के बीच शिवसेना सांसद संजय राउत के नए साल पर फेसबुक पोस्ट से सस्पेंस बढ़ गया है। राउत ने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा है कि ‘हमेशा ऐसे व्यक्ति को संभाल कर रखिए, जिसने आप को तीन भेंट दी हों- साथ, समय और समर्पण…’ राउत के इस पोस्ट को शिवसेना अध्यक्ष और मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की तरफ इशारा के रूप में देखा जा रहा है।

पढ़ें :- कोरोना वैक्सीन को लेकर पीएम मोदी ने कहीं ये बड़ी बातें...जानिए

दरअसल, संजय के भाई सुनील राउत का मंत्री बनना लगभग तय माना जा रहा था, लेकिन जब शिवसेना के कोटे के मंत्रियों की अंतिम लिस्ट आई तो उनका नाम गायब था। गुरूवार (02 जनवरी) को शिवसेना ने माना कि हालिया मंत्रिपरिषद विस्तार के बाद तीनों दलों के विधायकों में गहरा अंसतोष है।

शिवसेना सांसद और प्रवक्ता संजय राउत के फेसबुक पोस्ट ने सस्पेंस और गहरा दिया है। चुनावों से पहले एनसीपी छोड़कर शिवसेना में आए भास्कर जाधव ने ठाकरे पर अपना वादा नहीं निभाने का आरोप लगाया है। फडणवीस सरकार में मंत्री रहे तानाजी सावंत भी मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किए जाने से नाराज हैं।  

छोटे भाई को कैबिनेट में जगह न मिलने से नाराज हैं संजय?

बीजेपी से ढाई साल मुख्यमंत्री पद की मांग और एनसीपी-कांग्रेस से सरकार गठन के लिए बातचीत में राउत आगे-आगे रहे। उद्धव से नजदीकी और सरकार गठन में अहम भूमिका को देखते हुए माना जा रहा था कि संजय के छोटे भाई सुनील को मंत्रिमंडल में जरूर जगह मिलेगी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

पढ़ें :- भारतीय नौसेना निडर होकर हमारे तटों की रक्षा करती है : पीएम मोदी

संजय राउत ने दी थी सफाई

शिवसेना ने तीन निर्दलियों को मौका दिया, जिसके बाद संजय के नाराज होने की खबर सामने आई। सुनील राउत के भी विधायकी से इस्तीफे की खबर चर्चा में रही, लेकिन संजय राउत सामने आए और उन्होंने कहा, ‘हम लोग देने वाले हैं, मांगने वाले नहीं। पार्टी के लिए काम करते हैं, पद के लिए नहीं। सुनील राउत पक्का शिवसैनिक है। महाराष्ट्र में शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे के नेतृत्व में सरकार बनी इसका हमें गर्व है।’

फेसबुक पोस्ट हटाई

इसके बाद माना जा रहा था कि राउत ने नाराजगी दूर कर ली है लेकिन उनके नए फेसबुक पोस्ट ने सस्पेंस बढ़ा दिया है। राजनीतिक गलियारों में चर्चा है कि क्या संजय राउत अभी भी भाई को मंत्री न बनाए जाने से नाराज हैं। हालांकि अब संजय राउत की एफबी वॉल पर यह पोस्ट नहीं दिख रहा है। संजय राउत के पोस्ट डिलीट करने पर भी सवाल उठ रहे हैं।  

पढ़ें :- महराजगंज:पैदल आई दुल्हन,सिर पर आया सामान

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...