इस गाँव में एक ही दिन पैदा हुए हैं बच्चे, बूढ़े और जवान

All Villagers Born In 1 January In Kanjasa Village Of Allahabad

नई दिल्ली: सोचिए किसी गाँव में बच्चे बूढ़े और जवान व महिलायें सब एक ही दिन पैदा हुए हों तो कैसा होगा? फिलहाल कुम्भ नगरी इलाहाबाद में ऐसा ही हुआ है यहां एक गाँव में बच्चे, बूढ़े और जवान सभी 1 जनवरी को ही पैदा हुए है। यह सुनने मे थोड़ा अटपटा जरूर लग रहा होगा लेकिन यह सच है।




इलाहाबाद के गांव कंजासा में हर किसी की जन्मतिथि आधार कार्ड में 1 जनवरी ही दर्ज है। इस गांव में 10 हजार लोग रहते हैं। लोगों का कहना है कि पहले तो सबको आधार कार्ड के लिए कई दिनों तक इंतजार करना पड़ा इसके बाद जब से इस गड़बड़ी का पता चला है तब से खुद को ठगा से महसूस कर रहे हैं। उनका कहना है ज्यादातर कामों के लिए अब आधार कार्ड जरूर हो गया है और इसमें तारीख गलत दर्ज होने से परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

इस गड़बड़ी का पता उस समय पता चला जब सरकारी स्कूलों के अध्यापक छात्रों के आधार कार्ड नंबर रजिस्ट्रेशन के लिए गए थे। गौरतलब है कि यूपी सरकार ने सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले छात्रों के बारे में जानकारी के लिए आधार कार्ड नंबर का रजिस्ट्रेशन करवा रही है। वहीं इस बारे में ग्राम प्रधान राम दुलारी का कहना है कि हमें आधार कार्ड में जन्मतिथि की गड़बड़ी में बता दिया गया है। इस गलती को जल्द ही दूर कर दिया जाएगा और नए आधार कार्ड जारी किए जाएंगे।

नई दिल्ली: सोचिए किसी गाँव में बच्चे बूढ़े और जवान व महिलायें सब एक ही दिन पैदा हुए हों तो कैसा होगा? फिलहाल कुम्भ नगरी इलाहाबाद में ऐसा ही हुआ है यहां एक गाँव में बच्चे, बूढ़े और जवान सभी 1 जनवरी को ही पैदा हुए है। यह सुनने मे थोड़ा अटपटा जरूर लग रहा होगा लेकिन यह सच है। इलाहाबाद के गांव कंजासा में हर किसी की जन्मतिथि आधार कार्ड में 1 जनवरी ही दर्ज है। इस गांव में…