आजम के जेल जाने पर बोले फैसल लाला-ज़मीनी खुदा होने का दावा करने वाले को अल्लाह ने सबक सिखाया

fashail lal
आजम के जेल जाने पर बोले फैसल लाला-ज़मीनी खुदा होने का दावा करने वाले को अल्लाह ने सबक सिखाया

रामपुर। समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान उनकी पत्नी तंजीन फातिम और बेटे अब्दुल्लाह आजम खान को दो मार्च तक के लिए जेल भेज दिया गया है। आज आजम खान अपने परिवार के साथ रामपुर के एडीजी 6 अदालत में पेश होने के लिए आये थे। वहीं, आजम खान के जेल भेजे जाने के बाद रामपुर में कुछ लोग इसको लेकर जश्न मना रहे हैं।

Allah Taught A Lesson To Those Who Claim To Be God On Earth Faisal Lala :

फैसल लाला का कहना है कि आजम खान के जेल जाने के बाद यतीमखाने में 93 साल की बुजुर्ग शहज़ादी बेग़म के घर पर सबने एक दूसरे का मुंह मीठा कराया और एक दूसरे को मुबारकबाद दी। फैसल लाला ने कहा कि सपा सरकार में आज़म खान ने कहा था ऊपर के फैसले ऊपर वाला करता है और ज़मीन के फ़ैसले हम करते हैं। लेकिन आज आज़म खान को अल्लाह ने एहसास करा दिया कि ऊपर के फैसले भी अल्लाह करता है और ज़मीन के फैसले भी वहीं करता है।

सपा सरकार में आज़म खान ने अपने राजनैतिक मुख़ालिफ़ों को झूठे मुक़दमें लगाकर जेल में डलवाया था और सैकड़ों गरीबों की जगहों पर नाजायज़ कब्ज़ा करके अपना साम्राज्य खड़ा किया था। फैसल लाला ने कहा कि यह अल्लाह का इंसाफ है अल्लाह ने रामपुर के गरीबों मज़लूमों को न सिर्फ इंसाफ दिया है बल्कि हर उस ज़ालिम को एहसास करा दिया है जो सत्ता के नशे में चूर होकर ज़मीन पर कमज़ोरों पर ज़ुल्म ढा रहा है।

वहीं, शहज़ादी बेग़म ने कहा कि आज भी मुझे वह मंज़र याद है जब हमें और हमारे बच्चों को आज़म खान ने रात को 3 बजे पुलिस से पिटवाया था और हमे हमारे घर से निकलवाया था बाद में हमारे घर पर बुलडोज़र चलवाकर पूरे घर को मलवे में तब्दील कर दिया था और हमारी जगह पर कब्ज़ा कर लिया था, आज हम बहुत खुश हैं जैसा उन्होंने हमारे बच्चों के साथ किया था वैसा ही अल्लाह ने आज उनके साथ किया है। अब बस हमें अपनी जगह मिलने का इंतेज़ार है।

रामपुर। समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान उनकी पत्नी तंजीन फातिम और बेटे अब्दुल्लाह आजम खान को दो मार्च तक के लिए जेल भेज दिया गया है। आज आजम खान अपने परिवार के साथ रामपुर के एडीजी 6 अदालत में पेश होने के लिए आये थे। वहीं, आजम खान के जेल भेजे जाने के बाद रामपुर में कुछ लोग इसको लेकर जश्न मना रहे हैं। फैसल लाला का कहना है कि आजम खान के जेल जाने के बाद यतीमखाने में 93 साल की बुजुर्ग शहज़ादी बेग़म के घर पर सबने एक दूसरे का मुंह मीठा कराया और एक दूसरे को मुबारकबाद दी। फैसल लाला ने कहा कि सपा सरकार में आज़म खान ने कहा था ऊपर के फैसले ऊपर वाला करता है और ज़मीन के फ़ैसले हम करते हैं। लेकिन आज आज़म खान को अल्लाह ने एहसास करा दिया कि ऊपर के फैसले भी अल्लाह करता है और ज़मीन के फैसले भी वहीं करता है। सपा सरकार में आज़म खान ने अपने राजनैतिक मुख़ालिफ़ों को झूठे मुक़दमें लगाकर जेल में डलवाया था और सैकड़ों गरीबों की जगहों पर नाजायज़ कब्ज़ा करके अपना साम्राज्य खड़ा किया था। फैसल लाला ने कहा कि यह अल्लाह का इंसाफ है अल्लाह ने रामपुर के गरीबों मज़लूमों को न सिर्फ इंसाफ दिया है बल्कि हर उस ज़ालिम को एहसास करा दिया है जो सत्ता के नशे में चूर होकर ज़मीन पर कमज़ोरों पर ज़ुल्म ढा रहा है। वहीं, शहज़ादी बेग़म ने कहा कि आज भी मुझे वह मंज़र याद है जब हमें और हमारे बच्चों को आज़म खान ने रात को 3 बजे पुलिस से पिटवाया था और हमे हमारे घर से निकलवाया था बाद में हमारे घर पर बुलडोज़र चलवाकर पूरे घर को मलवे में तब्दील कर दिया था और हमारी जगह पर कब्ज़ा कर लिया था, आज हम बहुत खुश हैं जैसा उन्होंने हमारे बच्चों के साथ किया था वैसा ही अल्लाह ने आज उनके साथ किया है। अब बस हमें अपनी जगह मिलने का इंतेज़ार है।