नाराजगी : कुंभ की तैयारी में सरकार की हीलाहवाली देखकर कोर्ट ने कही ये बात…

allahabad highcourt
नाराजगी : कुंभ की तैयारी में सरकारी ही हीलाहवाली देखकर कोर्ट ने कही ये बात...

प्रयागराज। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कुंभ की तैयारियों में हीलाहवाली के चलते शहर की शहर में उठ रहे धूल के गुबारों से नाराज हाईकोर्ट ने राज्य सरकार को फटकार लगाई है। अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए हाईकोर्ट ने सरकार से पूछा कि क्या राज्य सरकार कार्यों की मॉनिटरिंग नहीं कर पा रही है। कोर्ट ने कहा कि शहर में उठ रहे धूल के गुबार देखकर लग भी नहीं रहा है कि काम पूरा हो पाएगा।

Allahabad Highcourt Asked Government Over Prapration Of Kumbh :

कोर्ट ने अपर महाधिवक्ता नीरज त्रिपाठी से कहा कि सरकार कार्यों की मॉनिटरिंग करे अन्यथा कोर्ट को स्वयं कार्रवाई करनी पड़ेगी। इसके साथ ही कोर्ट ने शहर मे हो रहे कामों की एक सप्ताह में प्र​गति रिपोर्ट मांगी है। बता दें न्यायमूर्ति गोविन्द माथुर और यशवन्त वर्मा ने की खंडपीठ ने अधिवक्ता अजय कुमार मिश्रा की बमरौली एयरपोर्ट टर्मिनल बनाने को लेकर दाखिल याचिका पर सुनवाई करते हुए ये टिप्पणी की है।

बता दें कि कुंभ के दौरान प्रमुख स्नान की तारीखों के एक दिन पहले व एक दिन बाद शादियों पर रोंक लगा दी गई ​है। इस इन तारीखों पर गेस्ट हाउसों और शादीघरों में बुकिंग नहीं होगी। जिला प्रशासन ने भीड़ और बड़े वाहनों के शहर में प्रवेश पर भी रोंक लगा दी है। अब आलम ये है कि शहरवासी इन तारीखों में होने वाली शादियों के लिए शहर के बाहर के गेस्ट हाउस की तरफ रूख कर रहे हैं, या फिर शादी की तारीख ही आगे बढ़ा दे रहे हैं।

प्रयागराज। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कुंभ की तैयारियों में हीलाहवाली के चलते शहर की शहर में उठ रहे धूल के गुबारों से नाराज हाईकोर्ट ने राज्य सरकार को फटकार लगाई है। अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए हाईकोर्ट ने सरकार से पूछा कि क्या राज्य सरकार कार्यों की मॉनिटरिंग नहीं कर पा रही है। कोर्ट ने कहा कि शहर में उठ रहे धूल के गुबार देखकर लग भी नहीं रहा है कि काम पूरा हो पाएगा।कोर्ट ने अपर महाधिवक्ता नीरज त्रिपाठी से कहा कि सरकार कार्यों की मॉनिटरिंग करे अन्यथा कोर्ट को स्वयं कार्रवाई करनी पड़ेगी। इसके साथ ही कोर्ट ने शहर मे हो रहे कामों की एक सप्ताह में प्र​गति रिपोर्ट मांगी है। बता दें न्यायमूर्ति गोविन्द माथुर और यशवन्त वर्मा ने की खंडपीठ ने अधिवक्ता अजय कुमार मिश्रा की बमरौली एयरपोर्ट टर्मिनल बनाने को लेकर दाखिल याचिका पर सुनवाई करते हुए ये टिप्पणी की है।बता दें कि कुंभ के दौरान प्रमुख स्नान की तारीखों के एक दिन पहले व एक दिन बाद शादियों पर रोंक लगा दी गई ​है। इस इन तारीखों पर गेस्ट हाउसों और शादीघरों में बुकिंग नहीं होगी। जिला प्रशासन ने भीड़ और बड़े वाहनों के शहर में प्रवेश पर भी रोंक लगा दी है। अब आलम ये है कि शहरवासी इन तारीखों में होने वाली शादियों के लिए शहर के बाहर के गेस्ट हाउस की तरफ रूख कर रहे हैं, या फिर शादी की तारीख ही आगे बढ़ा दे रहे हैं।