करोड़ों का माल खाकर लाल हुए हैं पीएम मोदी इसीलिए दिखते है गोरे और जवां: अल्पेश

अहमदाबाद। गुजरात में पहले चरण का मतदान हो चुका है दूसरे चरण का मतदान 14 दिसंबर को होना है जिसके मद्देनज़र सियासी पार्टियां जोरों शोरों से प्रचार में लगी हुईं हैं। आरोप प्रत्यारोप का दौर तो गुजरात चुनाव में शुरुआत से ही सुर्खियों में है। इसी का नमूना मंगलवार को अल्पेश ठाकोर और जिग्नेश मेवाणी की साझा रैली में देखने को मिला। अल्पेश ने जनता को संबोधित करते हुए पीएम मोदी पर निजी हमला किया। उन्होंने पीएम मोदी के ऊपर महीने में सवा सौ करोड़ रुपए का मशरूम खा जाने का आरोप लगाया। वो यही नहीं रुके उन्होंने कहा कि यही वजह है कि मोदी का रंग दिन पर दिन निखरता जा रहा है साथ ही इसीलिए वे हमेशा जवां दिखते हैं।

Alpesh Thakor Jignesh Mewani Joint Rally Pm Narendra Modi Young Crore Mushroom Diet Fair :

गुजरात में एक सभा को संबोधित करते हुए अल्पेश ने कहा, ‘किसी ने मुझसे पूछा कि पीएम मोदी की अच्छी सेहत का क्या राज है? मैंने सोचा कि आखिर क्या हो सकता है। फिर मैंने गौर किया कि कुछ तो बात है। आज से 35 साल पहले की तस्वीर उठाकर देख लीजिए, पीएम मोदी तो बिल्कुल मेरी तरह डार्क थे। अब देखिए.. कैसे हो गए हैं… तो फिर ऐसा वह क्या खा रहे हैं कि वह लाल होते जा रहे हैं? फिर मुझे पता चला कि वह मशरूम खा रहे हैं।’

अल्पेश ने कहा कि इस खास मशरूम के बारे में उन्होंने पता लगवाया। उन्होंने कहा, ‘यह मशरूम कोई आम मशरूम नहीं है। पीएम मोदी जो मशरूम खाते हैं, वह ताइवान से मंगाया जाता है। इस एक मशरूम की कीमत 80 हजार रुपये है और मोदी रोजाना चार लाख रुपये का मशरूम खा जाते हैं। एक महीने में तो पीएम मोदी केवल मशरूम खाने में ही एक करोड़ 20 लाख रुपये खर्च कर देते हैं।’

अल्पेश ने कहा कि जो पीएम खुद करोड़ों के मशरूम खा जाता है तो उसके कार्यकर्ता कितना खा जाते होंगे। अल्पेश के अनुसार गुजरात के सीएम रहते हुए भी मोदी यह मशरूम खाया करते थे। ठाकोर ने कहा कि पहले मोदी का रंग उनकी ही तरह काला था, लेकिन कीमती मशरूम की खुराक की वजह से मोदी गोरे हो गए हैं।

अहमदाबाद। गुजरात में पहले चरण का मतदान हो चुका है दूसरे चरण का मतदान 14 दिसंबर को होना है जिसके मद्देनज़र सियासी पार्टियां जोरों शोरों से प्रचार में लगी हुईं हैं। आरोप प्रत्यारोप का दौर तो गुजरात चुनाव में शुरुआत से ही सुर्खियों में है। इसी का नमूना मंगलवार को अल्पेश ठाकोर और जिग्नेश मेवाणी की साझा रैली में देखने को मिला। अल्पेश ने जनता को संबोधित करते हुए पीएम मोदी पर निजी हमला किया। उन्होंने पीएम मोदी के ऊपर महीने में सवा सौ करोड़ रुपए का मशरूम खा जाने का आरोप लगाया। वो यही नहीं रुके उन्होंने कहा कि यही वजह है कि मोदी का रंग दिन पर दिन निखरता जा रहा है साथ ही इसीलिए वे हमेशा जवां दिखते हैं। गुजरात में एक सभा को संबोधित करते हुए अल्पेश ने कहा, 'किसी ने मुझसे पूछा कि पीएम मोदी की अच्छी सेहत का क्या राज है? मैंने सोचा कि आखिर क्या हो सकता है। फिर मैंने गौर किया कि कुछ तो बात है। आज से 35 साल पहले की तस्वीर उठाकर देख लीजिए, पीएम मोदी तो बिल्कुल मेरी तरह डार्क थे। अब देखिए.. कैसे हो गए हैं... तो फिर ऐसा वह क्या खा रहे हैं कि वह लाल होते जा रहे हैं? फिर मुझे पता चला कि वह मशरूम खा रहे हैं।' अल्पेश ने कहा कि इस खास मशरूम के बारे में उन्होंने पता लगवाया। उन्होंने कहा, 'यह मशरूम कोई आम मशरूम नहीं है। पीएम मोदी जो मशरूम खाते हैं, वह ताइवान से मंगाया जाता है। इस एक मशरूम की कीमत 80 हजार रुपये है और मोदी रोजाना चार लाख रुपये का मशरूम खा जाते हैं। एक महीने में तो पीएम मोदी केवल मशरूम खाने में ही एक करोड़ 20 लाख रुपये खर्च कर देते हैं।' अल्पेश ने कहा कि जो पीएम खुद करोड़ों के मशरूम खा जाता है तो उसके कार्यकर्ता कितना खा जाते होंगे। अल्पेश के अनुसार गुजरात के सीएम रहते हुए भी मोदी यह मशरूम खाया करते थे। ठाकोर ने कहा कि पहले मोदी का रंग उनकी ही तरह काला था, लेकिन कीमती मशरूम की खुराक की वजह से मोदी गोरे हो गए हैं।