बारिश के मौसम में त्वचा का खयाल रखने के लिए अपनाएं ये टिप्स

बारिश का मौसम , त्वचा का खयाल
बारिश के मौसम में त्वचा का खयाल रखने के लिए अपनाएं ये टिप्स

लखनऊ। मानसून के मौसम में चिपचिपेपन की वजह से त्वचा की चमक खो जाती है, और त्वचा बेजान लगने लगती है। इस मौसम में उमस की वजह से ज्यादा पसीना आता है, जिससे त्वचा पर तेल जमा हो जाता है। तैलीय त्वचा की वजह से चेहरे पर ब्लैकहेड्स और पिंपल्स की संभावना काफी बढ़ जाती है। आज हम आपको त्वचा के पोर्स को ऑयल फ्री रखने के लिए कुछ घरेलू उपाय बताने जा रहे हैं जिसे अपनाकर आप बारिश के मौसम में अपना खयाल रख सकते हैं।

Amazing Skin Care Tips For Monsoon :

  • स्क्रब से त्वचा की टैनिंग और मृत कोशिकाएं निकल जाती हैं। इससे पिगमेंटेशन भी दूर होता है और त्वचा चमकदार बनती है। इस मौसम में सप्ताह में एक या दो बार चेहरे पर स्क्रब जरूर करना चाहिए। अगर आपकी त्वचा संवेदनशील है और आपको मुंहासे ज्यादा होते हैं, तो स्क्रब का इस्तेमाल न करें।
  • आपके फेस पर पिंपल है तो आप स्क्रब की जगह फेसपैक का इस्तेमाल कर सकती हैं। फेस पैक भी त्वचा से डैड सेल्स को निकालकर त्वचा को चमकदार बनाते हैं।
  • स्क्रब में मौजूद नींबू का रस, नींबू के छिलके, दूध, दही, हल्दी, बादाम त्वचा का सांवलापन कम करते हैं।
  • अगर आपकी त्वचा रूखी है, तो सप्ताह में सिर्फ एक बार ही स्क्रब करें। लेकिन अगर त्वचा संवेदनशील, खुरदरी, त्वचा पर लाल पैच हैं तो स्क्रब का इस्तेमाल न करें। ड्राई स्किन के लिए पिसे हुए बादाम में दूध या दही मिलाकर स्क्रब बनाएं।
  • बारिश के मौसम में नहाते समय लोफा इस्तेमाल करें। लम्बे हैंडल वाले ब्रश से पीठ साफ करें। इस बात का ध्यान रखें कि सॉफ्ट हो।
  • प्यूमिक स्टोन का भी इस्तेमाल कर सकती हैं यह डैड स्किन को निकालने में मददगार होता है, लेकिन इस बात का ख्याल रखें कि इस्तेमाल सिर्फ पैरों के लिए करना चाहिए
  • स्क्रब और पैक बनाने के लिए घरेलू चीजों जैसे बादाम, जई, चावल का आटा, गेंहू का चोकर, तिल के बीज आदि का इस्तेमाल किया जा सकता है। खीरे या कद्दू के बीज, संतरे या नींबू के छिलकों को सुखाकर पीसकर पानी, गुलाबजल, दही या दूध में घोलकर स्क्रब बनाया जा सकता है।
लखनऊ। मानसून के मौसम में चिपचिपेपन की वजह से त्वचा की चमक खो जाती है, और त्वचा बेजान लगने लगती है। इस मौसम में उमस की वजह से ज्यादा पसीना आता है, जिससे त्वचा पर तेल जमा हो जाता है। तैलीय त्वचा की वजह से चेहरे पर ब्लैकहेड्स और पिंपल्स की संभावना काफी बढ़ जाती है। आज हम आपको त्वचा के पोर्स को ऑयल फ्री रखने के लिए कुछ घरेलू उपाय बताने जा रहे हैं जिसे अपनाकर आप बारिश के मौसम में अपना खयाल रख सकते हैं।
  • स्क्रब से त्वचा की टैनिंग और मृत कोशिकाएं निकल जाती हैं। इससे पिगमेंटेशन भी दूर होता है और त्वचा चमकदार बनती है। इस मौसम में सप्ताह में एक या दो बार चेहरे पर स्क्रब जरूर करना चाहिए। अगर आपकी त्वचा संवेदनशील है और आपको मुंहासे ज्यादा होते हैं, तो स्क्रब का इस्तेमाल न करें।
  • आपके फेस पर पिंपल है तो आप स्क्रब की जगह फेसपैक का इस्तेमाल कर सकती हैं। फेस पैक भी त्वचा से डैड सेल्स को निकालकर त्वचा को चमकदार बनाते हैं।
  • स्क्रब में मौजूद नींबू का रस, नींबू के छिलके, दूध, दही, हल्दी, बादाम त्वचा का सांवलापन कम करते हैं।
  • अगर आपकी त्वचा रूखी है, तो सप्ताह में सिर्फ एक बार ही स्क्रब करें। लेकिन अगर त्वचा संवेदनशील, खुरदरी, त्वचा पर लाल पैच हैं तो स्क्रब का इस्तेमाल न करें। ड्राई स्किन के लिए पिसे हुए बादाम में दूध या दही मिलाकर स्क्रब बनाएं।
  • बारिश के मौसम में नहाते समय लोफा इस्तेमाल करें। लम्बे हैंडल वाले ब्रश से पीठ साफ करें। इस बात का ध्यान रखें कि सॉफ्ट हो।
  • प्यूमिक स्टोन का भी इस्तेमाल कर सकती हैं यह डैड स्किन को निकालने में मददगार होता है, लेकिन इस बात का ख्याल रखें कि इस्तेमाल सिर्फ पैरों के लिए करना चाहिए
  • स्क्रब और पैक बनाने के लिए घरेलू चीजों जैसे बादाम, जई, चावल का आटा, गेंहू का चोकर, तिल के बीज आदि का इस्तेमाल किया जा सकता है। खीरे या कद्दू के बीज, संतरे या नींबू के छिलकों को सुखाकर पीसकर पानी, गुलाबजल, दही या दूध में घोलकर स्क्रब बनाया जा सकता है।